Hindi News »Bihar »Patna» Two Murders In Different Disputes Of Land In Bhagalpur

जमीन विवाद में रिक्शा चालक को गोलियों से भूना, मजदूर की मूसल से कूच कर हत्या

घटना उस समय हुई, जब नाथनगर पुलिस रात में दोनों गांवों में गश्त पर थी लेकिन पुलिस को घटना की भनक तक नहीं लगी।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 10, 2017, 07:29 AM IST

  • जमीन विवाद में रिक्शा चालक को गोलियों से भूना, मजदूर की मूसल से कूच कर हत्या
    +6और स्लाइड देखें
    मृतक जुल्मी मंडल और सुमन मंडल। -फाइल फोटो

    नाथनगर (भागलपुर).यहां के बैरिया और श्रीरामपुर गांव में शुक्रवार की रात जमीन विवाद में दो लोगों की हत्या कर दी गई। अपराधियों ने बैरिया गांव में मकई के खेत में रिक्शा चालक 40 साल के जुल्मी मंडल को गोलियों से भून डाला, जबकि वहीं से दो किमी दूर स्थित श्रीरामपुर गांव में घर के भीतर सोए मजदूर 32 साल के सुमन मंडल को मूसल से कूच कर मार डाला। यह घटना उस समय हुई, जब नाथनगर पुलिस रात में दोनों गांवों में गश्त पर थी लेकिन पुलिस को घटना की भनक तक नहीं लगी। एक ही पंचायत के दो गांवों में दोहरे हत्याकांड से इलाके में दहशत है।

    शनिवार की सुबह में वारदात की जानकारी होने पर पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। दोनों मामले में पुलिस ने पूछताछ के लिए दो लोगों को हिरासत में लिया है। लेकिन किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। सिटी डीएसपी शहरयार अख्तर ने बताया कि प्रारंभिक जांच में दोनों हत्याओं के पीछे जमीन का पुुराना विवाद सामने आ रहा है। पुलिस अन्य बिंदुओं पर भी जांच कर रही है। पुलिस ने कहा कि जल्द ही हत्या आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

    जुल्मी की थी दो पत्नियां, सुमन की मां ने की थी दूसरी शादी, दोनों नहीं पहुंचे गांव

    नाथनगर के बैरिया में जुल्मी मंडल और श्रीरामपुर गांव में सुमन यादव की हत्या के पीछे जमीन का पुराना विवाद बताया जा रहा है। पुलिस भी प्रारंभिक जांच में यहीं मान रही है। पर वहीं गांव में यह भी चर्चा है कि कहीं जमीन विवाद की आड़ में कहीं किसी तीसरे ने तो दोनों ही हत्या कर दी?...। जुल्मी की दो पत्नियां थीं, सुमन की मां ने भी दूसरी शादी की थी। पर पति और बेटे की मौत पर दोनों ही गांव नहीं पहुंचे। इससे गांव के अचरज में थे। नाथनगर इंस्पेक्टर ने कहा कि कारण स्पष्ट नहीं है, जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। जुल्मी मंडल की जिस तरह से हत्या की गई है, वह किसी पेशेवर शूटर का काम लगता है। घर से मात्र आधा किमी की दूरी पर जुल्मी को तीन-तीन गोलियां मारी गईं और गांव वालों ने गोलीबारी की आवाज तक नहीं सुनी। एक साथ बैरिया और श्रीरामपुर गांव में दो हत्या से नाथनगर पुलिस भी हैरान है।

    पुलिस श्रीरामपुर गांव में सुमन हत्याकांड की जांच कर रही थी, तभी पता चला कि बैरिया में भी एक को अपराधियों ने भून डाला है। जब तक पुलिस पहुंची, तब तक घटनास्थल पर सैकड़ों लोगों की चहल-कदमी हो चुकी थी। आशंका जताई जा रही है कि इससे कई तरह से वैज्ञानिक सबूत भी नष्ट हो गए। यदि घटनास्थल से छेड़छाड़ नहीं होती तो खोजी कुत्ते के सहारे पुलिस अपराधियों तक पहुंच सकती थी। नाथनगर पुलिस के देरी से पहुंचने से ग्रामीण गुस्साए भी। दोहरे हत्याकांड की सूचना पर पहुंचे सिटी डीएसपी शहरयार अख्तर बैरिया एक घंटे तक तहकीकात की। इस दौरान उन्होंने जुल्मी मंडल के परिजनों से भी पूछताछ की। फिर इंस्पेक्टर से मृतक की पत्नी के बयान पर केस दर्ज कर आगे की कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

    परिजनों ने सुमन की हत्या के ये तीन कारण बताए

    1.जमीन विवाद :पिता शंकर यादव की मौत के बाद सुमन अकेला पड़ गया था। उसकी मां ने भी दूसरी शादी कर ली। घर की जिम्मेदारी सुमन के कंधों पर आ गई। अकेला होने के कारण गोतिया के आंखों में सुमन किरकिरी बन गया था। कुछ दिन पहले उसने पुश्तैनी जमीन पर आम का 20-25 पेड़ भी लगाया था, जिसे लेकर गोतिया के लोगों से विवाद हुआ था।

    2. व्यवसाय में पार्टनर से विवाद : कुछ दिन पूर्व सुमन व मंगल मिलकर मुर्गा का व्यवसाय शुरू किए थे। दोनों की पूंजी लगी थी। लेकिन पैसे को लेकर दोनों में विवाद हो गया। इस कारण सुमन व्यवसाय से अलग हो गया था और दिहाड़ी खटने लगा था। परिजनों के मुताबिक यह इतना बड़ा विवाद नहीं था, जिसमें हत्या हो सकती थी।

    3. मां की दूसरी शादी से नाराज :परिजनों ने बताया कि मां की दूसरी शादी से सुमन खुश नहीं था। अक्सर इसको लेकर मां-बेटे के बीच विवाद होते रहता था। इसी विवाद के कारण सुमन की मां गांव भी नहीं आती थी। हालांकि मां का कहना है कि सुमन से उसका अच्छा संबंध था। जमीन के विवाद में उसकी हत्या हुई है।

    दो दिन पहले नरेश की पत्नी ने दी थी धमकी-पति को समझा लो, नहीं तो मरवा देंगे


    बैरिया गांव में जुल्मी मंडल की हत्या से पूरा परिवार दहशत में है। जुल्मी की पहली पत्नी माधुरी देवी ने बताया कि उसके पति का गोतिया नरेश मंडल से जमीन को लेकर विवाद चल रहा था। इस विवाद में केस-मुकदमा भी हो चुका है। दस साल पहले पति जेल भी गए थे। दो दिन पहले नरेश मंडल की पत्नी मीना देवी ने धमकी दी थी कि अपने पति को समझा लो, नहीं तो मरवा देंगे। पति को कह दो कि वह जमीन पर अपना दावा छोड़ दे। जुल्मी की मां ने बताया कि गोतिया नरेश मंडल ने तो जमीन पर कब्जा किया ही, ग्रामीण अनिल मंडल ने भी मेरी जमीन पर घर बना लिया है। वारदात के बाद दोनों अपना-अपना घर बंद कर फरार हैं।

    जुल्मी के गायब मोबाइल से खुलेगा हत्या का राज


    हत्या के बाद जुल्मी का मोबाइल गायब है। परिजनों को शक है कि हत्यारे मोबाइल साथ ले गए हैं। शाम में घर से निकलने के बाद जब देर रात घर नहीं पहुंचा, तो पत्नी को चिंता हुई। कॉल किया तो मोबाइल बंद मिला। सुबह में शव के पास जुल्मी का पर्स व अन्य सारा सामान था, लेकिन मोबाइल गायब था। पुलिस गायब मोबाइल के नंबर का डिटेल्स निकालने की तैयारी कर रही है, ताकि यह पता चल सके कि अंतिम कॉल किसका था?...।

    बेटे की मौत पर उसकी मां का गांव नहीं आना ग्रामीणों को अचरज में डाला

    सूत्रों की मानें तो जुल्मी ने दो शादी कर रखी थी। पहली पत्नी माधुरी देवी से एक लड़की है, जबकि दूसरी पत्नी तेतरी से दो बेटा हैं। जुल्मी अपनी दूसरी पत्नी तेतरी को भागलपुर में रखता था और गांव में पहली पत्नी माधुरी के साथ रहता था। रिक्शा चलाने के दौरान जब कभी भी मौका लगता वह भागलपुर आकर दूसरी पत्नी और बच्चों से मिल लेता था। बड़ी बात यह है कि जुल्मी की हत्या के बाद उसकी दूसरी पत्नी तेतरी और बच्चे अंतिम दर्शन को गांव नहीं पहुंचे। इसे लेकर गांव में तरह-तरह की चर्चाएं हो रही हैं। उसी तरह श्रीरामपुर गांव में मारे गए सुमन यादव की मां ने भी पति शंकर यादव की मौत के बाद अंतरजातीय विवाह कर लिया था। दूसरी शादी के बाद सुमन की मां गांव में नहीं रह कर अपने दूसरे पति के साथ मशकंद बरारी में रहती है। बेटे की हत्या के बाद सुमन की मां भी गांव नहीं आई। शव जब गांव से निकल कर पोस्टमार्टम के लिए मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुंच गया, तो वहां अपने दूसरे पति के साथ सुमन के अंतिम दर्शन को उसकी मां पहुंची। पूछने पर बताया कि उसकी तबियत ठीक नहीं थी। इससे वह गांव नहीं जा सकी। लेकिन बेटे की मौत पर उसकी मां का गांव नहीं आना, ग्रामीणों को अचरज में डाल रहा था।

    जुल्मी की मां की भी जमीन विवाद में हुई थी हत्या


    जुल्मी मंडल की बेटी पूजा ने बताया कि 10 साल पहले उसकी दादी की भी जमीन विवाद में पीट-पीट कर हत्या कर दी गई थी। दोनों ओर से मुकदमा हुआ, अपराधी केस उठाने की धमकी दे रहे थे। बीती रात घटना को अंजाम दिया। पुलिस ने मृतक के पास से चिलम, कंडोम, पर्स और साइकिल बरामद किया है। बेटी के मुताबिक, उसके पिता को गांजा पीने की लत थी। उसके पिता की हत्या में गोतिया के नरेश मंडल, नीलेश मंडल, धारो मंडल व मीना देवी शामिल हैं। इनके खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है।

    सुमन पर 20 दिन पहले लगा था छेड़खानी का आरोप


    सुमन यादव की पत्नी सिंधु देवी ने बताया कि उसके पति कुछ वर्ष पहले पॉल्ट्री फार्म खोले थे। इसका संचालन तीन औरत और एक पुरूष द्वारा किया जा रहा था। 20 दिन पहले मेरे पति पर छेड़खानी का आरोप लगा और गांव के ही तीन लोगों ने देख लेने की धमकी दी थी। सिंधु देवी ने गांव के ही टेटे यादव, छंगूरी यादव समेत कुल तीन लोगों को आरोपी बनाया गया है।

    जुल्मी की मकई खेत में मिली लाश, मारी थी तीन गोलियां

    बैरिया गांव निवासी रिक्शा चालक जुल्मी मंडल शुक्रवार शाम से गायब था। घर से वह यह कह कर निकला था कि कुछ देर में आ रहा है। इसके बाद रात में घर नहीं लौटा। पत्नी माधुरी देवी को लगा कि रिक्शा चलाते हुए नाथनगर चला गया होगा। सुबह शौच के लिए निकले ग्रामीणों ने दियारा में दयानंद यादव के मकई खेत में जुल्मी का शव देख परिजनों को सूचना दी। जुल्मी को सटाकर तीन गोली मारी गई थी। दो गोली सीने में मारी गई थी और एक सिर में। शव के पास ही उसकी साइकिल भी पड़ी हुई थी। पुलिस ने मौके से 3.15 का तीन खोखा बरामद किया है। पत्नी के मुताबिक, गोतिया नरेश मंडल, ग्रामीण अनिल मंडल, घनश्याम मंडल आदि से दो बीघा जमीन को लेकर विवाद चल रहा था। वारदात के बाद से नरेश, अनिल सभी अपना-अपना घर छोड़ कर फरार हैं।

    हत्या से पहले सुमन का बांध दिया था हाथ-पैर

    श्रीरामपुर गांव में अपराधियों ने घर में सोए मजदूर सुमन यादव का सिर खल के मूसल से कूच दिया था। हत्या के पहले उसका हाथ-पैर बांध दिया गया था। वारदात के समय सुमन घर पर अकेला था। उसकी पत्नी सिंधु देवी बच्चे को लेकर मायके गई थी। घर के बरामदे पर चौकी के नीचे खून से लथपथ उसका शव पड़ा हुआ था। पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल मूसल को मौके से बरामद कर लिया है। मूसल को फोरेंसिक जांच के लिए भेजा जाएगा। सुबह में सुमन को जगाने आए पड़ोसियों ने शव को देखकर पुलिस और परिजनों को सूचना दी। पत्नी के मुताबिक, गोतिया से उसके पति का जमीन लेकर विवाद चल रहा था। गोतिया के लोगों ने ही मेरे पति की हत्या की है।

  • जमीन विवाद में रिक्शा चालक को गोलियों से भूना, मजदूर की मूसल से कूच कर हत्या
    +6और स्लाइड देखें
    मौके पर जांच करती पुलिस।
  • जमीन विवाद में रिक्शा चालक को गोलियों से भूना, मजदूर की मूसल से कूच कर हत्या
    +6और स्लाइड देखें
    श्रीरामपुर में इसी मूसल से कूच कर की गई सुमन की हत्या।
  • जमीन विवाद में रिक्शा चालक को गोलियों से भूना, मजदूर की मूसल से कूच कर हत्या
    +6और स्लाइड देखें
    बैरिया दियारा में मौके पर बिखरा गोलियों का खोखा।
  • जमीन विवाद में रिक्शा चालक को गोलियों से भूना, मजदूर की मूसल से कूच कर हत्या
    +6और स्लाइड देखें
    नाथनगर के बैरिया दियारा में जुल्मी मंडल की हत्या के बाद मृतक की पत्नी माधुरी देवी (नीले शाॅल में) को ढांढस बंधाते परिजन।
  • जमीन विवाद में रिक्शा चालक को गोलियों से भूना, मजदूर की मूसल से कूच कर हत्या
    +6और स्लाइड देखें
    मौके पर जांच करती पुलिस।
  • जमीन विवाद में रिक्शा चालक को गोलियों से भूना, मजदूर की मूसल से कूच कर हत्या
    +6और स्लाइड देखें
    वारदात में पति की हत्या के बाद रोती सुमन की पत्नी सिंधु देवी (लाल साड़ी में) व अन्य परिजन।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Patna News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Two Murders In Different Disputes Of Land In Bhagalpur
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×