Hindi News »Bihar »Patna» Unemployed Boys On Roads For Job

कहीं ये 'चिंगारी' शोला न बन जाए : पहली बार रोजगार मांगने सड़क पर उतरे युवा

न किसी पार्टी का झंडा। न किसी संगठन का बैनर। सैकड़ों बेरोजगार स्टूडेंट्स-लड़के आरा शहर में सड़क पर उतर आए।

Bhaskar News | Last Modified - Feb 02, 2018, 03:49 AM IST

  • कहीं ये 'चिंगारी' शोला न बन जाए : पहली बार रोजगार मांगने सड़क पर उतरे युवा
    +5और स्लाइड देखें

    आरा.बिहार में ऐसा पहली बार हुआ। न किसी पार्टी का झंडा। न किसी संगठन का बैनर। सैकड़ों बेरोजगार स्टूडेंट्स-लड़के आरा शहर में सड़क पर उतर आए। नौकरी और रोजगार की मांग करते हुए शहर में घूम-घूम कर प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारी सरकार विरोधी नारे लगा रहे थे। इनके हाथों में स्लोगन लिखी तख्तियां थीं। तख्तियों पर लिखा था- “युवाओं को नौकरी दो..’, “रेलवे में बहाली जल्दी दो..’ “सभी अटकी हुई बहाली को जल्दी क्लीयर करो..’ “सभी विभागों में रिक्त पदों पर शीघ्र नियुक्ति करो..’।

    मुद्दा था रोजगार और नौकरी का

    अपने प्रदर्शन के क्रम में छात्र-युवाओं ने रमना मैदान पास मानव-शृंखला भी बनाया। प्रदर्शकारी छात्र-युवाओं का सिर्फ एक ही मुद्दा था; नौकरी और रोजगार। बेरोजगारी के खिलाफ संघर्ष की शुरुआत रमना मैदान के पास से हुई। जहां काफी संख्या में छात्र-युवकों का जुटान हुआ। यहां छात्र-युवकों ने मानव-शृंखला बनाकर केंद्र और राज्य सरकार से नौकरी की मांग की। मौके पर वक्ताओं ने कहा कि केंद्र सरकार और बिहार सरकार का बेरोजगारों पर कोई ध्यान नहीं है। हर विभाग में काफी पद रिक्त हैं। लेकिन, सरकार वैकेन्सी नहीं निकाल रही है।

    बनाई मानव-शृंखला, सांस्कृतिक भवन पर धरना

    प्रदर्शनकारी तीन ग्रुप में थे। एक ग्रुप ने रमना मैदान में मानव-शृंखला बनायी। चर्च मैदान के स्टडी सर्किल के कई ग्रुप मानव-शृंखला में शामिल हुए। तीसरे ग्रुप ने जैन कॉलेज से जुलूस निकाला। जुलूस विभिन्न मार्गों का भ्रमण करते हुए पीर बाबा तीनमुहानी पास पहुंचा। उसी वक्त रमना मैदान के प्रदर्शनकारी वहां पहुंचे। इसके बाद वहां से लौटने के क्रम में सांस्कृतिक भवन मोड़ पर धरना दिया।

    कॉलेज-हॉस्टल के स्टूडेंट्स और दिव्यांग हुए शामिल

    प्रदर्शन में कॉलेज, हॉस्टल व कोचिंग सेंटर में पढ़ने वाले छात्र शामिल हुए। गांवों से काफी प्रदर्शनकारी आए थे। कई दिव्यांग भी अपनी ट्राइसाइकिल लेकर प्रदर्शनकारियों में शामिल थे।

  • कहीं ये 'चिंगारी' शोला न बन जाए : पहली बार रोजगार मांगने सड़क पर उतरे युवा
    +5और स्लाइड देखें
  • कहीं ये 'चिंगारी' शोला न बन जाए : पहली बार रोजगार मांगने सड़क पर उतरे युवा
    +5और स्लाइड देखें
  • कहीं ये 'चिंगारी' शोला न बन जाए : पहली बार रोजगार मांगने सड़क पर उतरे युवा
    +5और स्लाइड देखें
  • कहीं ये 'चिंगारी' शोला न बन जाए : पहली बार रोजगार मांगने सड़क पर उतरे युवा
    +5और स्लाइड देखें
  • कहीं ये 'चिंगारी' शोला न बन जाए : पहली बार रोजगार मांगने सड़क पर उतरे युवा
    +5और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×