--Advertisement--

शादी के बाद लड़की ने गांववालों को बताया 'भगवान', बेचने की तैयारी में था चाचा

लड़की के चाचा ने उत्तरप्रदेश के गाजियाबाद के लड़की खरीद-बिक्री करने वाले गैंग से उसका सौदा कर दिया था।

Danik Bhaskar | Dec 18, 2017, 04:59 AM IST

कदवा (भागलपुर). चाचा ने भतीजी को कुछ पैसे के लिए यूपी के एक दूल्हा के हाथ बेचने की कोशिश की। लेकिन इसकी भनक गांववालों को लगी, फिर सभी ने मिलकर लड़की को बचा लिया और बिना पापा के इस बच्ची को नया जीवन देने की कोशिश की। उसकी मां से बातचीत करके खगड़िया के एक युवक के साथ मंदिर में शादी करा दी। गांववालों ने ये सारा खर्चा मिलकर उठाया ताकि वो गरीब मां को कोई परेशानी नहीं हो।

बताया जा रहा है कि लड़की के पिता की मौत हो चुकी है। जो रिक्शा चलाकर फैमिली का घर चलाता था। अचानक बीमारी के कारण वो कमजोर होता चला गया और एक दिन उसका मौत हो गया। किसी तरह से उसकी मां चौका-बर्तन करके वो अपना गुजर-बसर कर रही है। मां और बेटी ने कहा कि गांव वाले मेरे लिए भगवान हैं।

मानवता हुआ तार-तार

जानकारी के मुताबिक, लड़की के चाचा ने उत्तरप्रदेश के गाजियाबाद के लड़की खरीद-बिक्री करने वाले गैंग से उसका सौदा कर दिया था। वक्त रहते गांव के कुछ लोगों को इसकी जानकारी हुई। इसके बाद उन्होंने गांववालों से बात-चीत की और उसी गांव के मनोज पासवान के साढू के रिश्तेदार से उस लड़की का रिश्ता तय कर दिए। और उस मां से सहमति से गांव वालों ने अपने बदौलत उस लड़की की शादी कर दी।