पटना

--Advertisement--

महिला दिवस: यहां एयरपोर्ट पर जमीन से आसमान तक रहेगा महिलाओं का कंट्रोल

पटना एयरपोर्ट पर गुरुवार को जमीन से लेकर आसमान तक की कंट्रोलिंग की कमान महिलाओं के हाथ में होगी।

Danik Bhaskar

Mar 08, 2018, 07:14 AM IST

पटना . पटना एयरपोर्ट पर गुरुवार को जमीन से लेकर आसमान तक की कंट्रोलिंग की कमान महिलाओं के हाथ में होगी। एयर ट्रैफिक कंट्रोलर (एटीसी) और कम्युनिकेशन नेविगेशन सर्विलांस (सीएनएस) से लेकर सुरक्षा और सेवा की जिम्मेदारी पूरी तरह से महिलाएं निभाएंगी। यह सिस्टम स्पेशल तौर पर इंटरनेशनल वुमन डे पर रहेगा। वुमन इंपावरमेंट की दिशा में एक नजीर पेश करने के लिए पटना एयरपोर्ट डायरेक्टर आरएस लाहौरिया ने यह डिसीजन लिया है। इसके लिए एटीसी में विशेष तौर पर एक शिफ्ट में सिर्फ महिलाओं को तैनात किया गया है। विमानों की कराएंगी लैंडिंग और टेक ऑफ का देंगी निर्देश...

- एटीसी में तैनात महिला कर्मी ही विमानों की सुरक्षित लैंडिंग कराएंगी और पटना एयरपोर्ट से विमानों को टेक ऑफ कराने का दिशा निर्देश देंगी। पटना एयरपोर्ट के आसपास आसमान में विमान के करीब 25 हजार फीट की ऊंचाई या इसके नीचे आते ही इसकी कंट्रोलिंग और कमान एटीसी में तैनात महिला कर्मियों के हाथ में आ जाएगा।

- टावर में बैठी ड्यूटी ऑफिसर उपकरणों की सहायता से विमानों के सुरक्षित लैंडिंग के लिए दिशा निर्देश देंगी। वर्तमान में एटीसी टावर में महिला और पुरुष कुल 32 कर्मी हैं। इनकी ड्यूटी शिफ्ट वाइज होती है। 32 कर्मियों में सात महिलाएं हैं।

- महिला दिवस पर एक शिफ्ट में सभी महिलाएं ही एटीसी की कमान संभालेंगी। एयरपोर्ट डायरेक्टर आरएस लाहौरिया ने बताया कि महिलाएं हर सेक्टर में सशक्त तरीके से अपनी भूमिका निभा रही हैं। एविएशन सेक्टर में भी महिलाएं बखूबी अपनी जिम्मेदारियां निभा रही हैं। हर काम में वह सक्षम हैं। एविएशन में पुरुष हों या महिला सभी को एक समान ट्रेनिंग दी जाती है।

फुलवारी शरीफ स्टेशन महिलाओं के हवाले

- महिला दिवस पर गुरुवार को फुलवारीशरीफ स्टेशन पर महिला असिस्टेंट लोको पायलट ट्रेन चलाएंगी। साथ ही स्टेशन पर एएसएम की जिम्मेवारी, टिकट काउंटर और टीटीई और गैंगमैन भी महिला ही होंगी। यहां तक की सुरक्षा व्यवस्था में आरपीएफ की महिला जवान व अफसर रहेंगी। कुल मिलाकर स्टेशन पूरी तरह महिला रेलकर्मियों के हवाले रहेगा।

- दानापुर मंडल के डीआरएम रंजन प्रकाश ठाकुर ने बताया कि महिला रेलकर्मियों को उस दिन प्रमुखता दी जाएगी। मंडल के किसी एक स्टेशन को इस तरह से डेवलप करने की योजना है कि रेल परिचालन से जुड़ी तमाम चीजों का जिम्मा महिलाओं के हाथ में हो।

क्या है एटीसी

- एटीसी यानी एयर ट्रैफिक कंट्रोलर। एटीसी टावर में बैठे कर्मी विमानों को सुरक्षित उड़ाने या उतारने का काम करते हैं। उपकरणों की सहायता से विमानों को सही दिशा निर्देश देते हैं। इसके साथ ही ग्राउंड से इमरजेंसी सर्विस के संपर्क में भी एटीसी के कर्मी लगातार रहते हैं।

Click to listen..