--Advertisement--

ये शख्स धर्म बदलकर लड़कियों से करता था शादी, खुद को बताता था बैंक मैनेजर

बिहार के अलावा उत्तरप्रदेश के वाराणसी में भी नाम एवं धर्म बदलकर लड़कियों से शादी करने एवं उनसे पैसा ठगे जाने का आरोप है।

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 03:42 AM IST
बिहार के भागलपुर का रहने वाला है शख्स, लड़कि‍यों को फंसाकर हड़पता था पैसे। बिहार के भागलपुर का रहने वाला है शख्स, लड़कि‍यों को फंसाकर हड़पता था पैसे।

आरा (बिहार). धर्म और नाम बदल लड़कियों से शादी करने वाले भागलपुर के मोहम्मद कमरान रजा को आरा पुलिस बहुत जल्द अपने केस में रिमांड करेगी। भोजपुर एसपी अवकाश कुमार ने जांच में अारोप सत्य पाए जाने पर पकड़े गए फ्रॉड को रिमांड पर लाने का आदेश दिया है। फिलहाल, मो.कमरान रजा उत्तरप्रदेश के वाराणसी जेल में बंद है।

लड़कियों से पैसे ठगने का भी आरोप

बिहार के अलावा उत्तरप्रदेश के वाराणसी में भी नाम एवं धर्म बदलकर लड़कियों से शादी करने एवं उनसे पैसा ठगे जाने का आरोप है। वह भागलपुर जिले का रहने वाला है। उसने आरा की भी एक लड़की से नाम एवं धर्म बदलकर शादी करने का प्रयास किया था।


अविनाश बने कामरान को यूपी एटीएस की टीम ने पकड़ा था

धर्म-नाम बदलकर गैर धर्म की लड़कियों से शादी करने को लेकर मो. कमरान रजा को यूपी एटीएस की टीम ने एक जनवरी को वाराणसी में पकड़ा था। उसने काशी की एक युवती को झांसे में लेकर दुर्गा मंदिर में शादी रचायी थी। पकड़े जाने पर उसने नाम अविनाश सिंह बताया था। उसके पास से यूपी पुलिस ने कामरान नाम से पहचान पत्र. एक दर्जन आईडी, फर्जी बैंक मैनेजर का अाईडी कार्ड, लैपटॉप व एक लाख 71 हजार रुपए नकद बरामद किया था।

ऐसे दर्ज हुआ था केस


बताया जा रहा कि कामरान रजा उर्फ अविनाश ने भोजपुर जिले की भी एक लड़की निर्मला (काल्पनिक नाम) को झांसे में लिया था। उसने अपना नाम एवं धर्म दोनों गलत बताया था। इस दौरान बात शादी तक पहुंच गई थी। लेकिन, जब वह यूपी में पकड़ा गया तो सारा राज खुल गया। जिसके बाद युवती की मां कविता देवी (काल्पनिक नाम) ने दो जनवरी को आरा महिला थाना में केस दर्ज कराया था। जिसके बाद सदर डीएसपी संजय कुमार को इस मामले की जांच का जिम्मा मिला था।


फर्जी बैंक मैनेजर बनकर झांसे में ले लेता था लड़कियों को

बताया जा रहा कि आरोपी खुद को बैंक मैनेजर बताकर भोली-भाली लड़कियों को झांसा देता था। पास में बैंक मैनेजर का फर्जी पहचान पत्र भी रखता था। उसके पहनावे से किसी को शक भी नहीं होता था। जबकि वह मात्र नौंवी पास है और वेल्डिंग की दुकान पर काम करता था।

6 लड़कि‍यों को बनाया बेवकूफ, 26 लाख से ज्यादा हड़पे

- एसआई विनोद सिंह ने बताया, ''कामराम दो महीने पहले स्वाती को दिखाने फ्लाइट से दिल्ली के एम्स गया था, यहां उसने एंट्री रजिस्टर में हसबैंड के नाम से अविनाश सिंह दर्ज कराया था। स्वाती के आईडी कार्ड को बदलकर वाइफ ऑफ अविनाश करवा दिया।''
- ''अभी तक के जांच में 6 से ज्यादा लड़कि‍यों को बेवकूफ बनाने की बात सामने आई है। इन लोगों से 26 लाख से ज्यादा की रकम हड़प चुका है।''

वाराणसी पुलिस, यूपी एटीएस और एलआईयू ने टीम बनाकर जालसाज को क‍िया अरेस्ट। वाराणसी पुलिस, यूपी एटीएस और एलआईयू ने टीम बनाकर जालसाज को क‍िया अरेस्ट।
जांच में 6 लड़क‍ियों से फ्रॉड कर 26 लाख रुपए हड़पने की बात सामने आई है। जांच में 6 लड़क‍ियों से फ्रॉड कर 26 लाख रुपए हड़पने की बात सामने आई है।
X
बिहार के भागलपुर का रहने वाला है शख्स, लड़कि‍यों को फंसाकर हड़पता था पैसे।बिहार के भागलपुर का रहने वाला है शख्स, लड़कि‍यों को फंसाकर हड़पता था पैसे।
वाराणसी पुलिस, यूपी एटीएस और एलआईयू ने टीम बनाकर जालसाज को क‍िया अरेस्ट।वाराणसी पुलिस, यूपी एटीएस और एलआईयू ने टीम बनाकर जालसाज को क‍िया अरेस्ट।
जांच में 6 लड़क‍ियों से फ्रॉड कर 26 लाख रुपए हड़पने की बात सामने आई है।जांच में 6 लड़क‍ियों से फ्रॉड कर 26 लाख रुपए हड़पने की बात सामने आई है।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..