• Hindi News
  • Bihar
  • Patna
  • सत्तापक्ष ने कहा- सबके हित का रखा ख्याल, विपक्ष ने बताया- गरीबविरोधी
--Advertisement--

सत्तापक्ष ने कहा- सबके हित का रखा ख्याल, विपक्ष ने बताया- गरीबविरोधी

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आम बजट की सराहना की है। उन्होंने कहा कि केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने अपने बजट...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 02:00 AM IST
सत्तापक्ष ने कहा- सबके हित का रखा ख्याल, विपक्ष ने बताया- गरीबविरोधी
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आम बजट की सराहना की है। उन्होंने कहा कि केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने अपने बजट भाषण में कृषि क्षेत्र का उल्लेख करते हुए खरीफ फसल पर लागत खर्च में अतिरिक्त 50 प्रतिशत जोड़कर इस वर्ष से मिनिमम सपोर्ट प्राइस देने का एलान किया है। यह स्वागतयोग्य कदम है। इस फैसले को बाकी फसलों पर भी लागू किया जाना चाहिए। स्वास्थ्य के क्षेत्र में 10 करोड़ परिवारों यानी 50 करोड़ लोगों को चिकित्सा के लिए 5 लाख रुपए तक मदद देने का फैसला किया जाना, बहुत बड़ा इनिशिएटिव है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले से ही निर्धारित कार्यक्रमों के कारण मैं पूरे बजट भाषण को नहीं सुन पाया, लेकिन कृषि, स्वास्थ्य और शिक्षा के संबंध में मैंने बजट भाषण जरूर सुना, इसके लिए मैं केंद्रीय वित्त मंत्री को बधाई देता हूं।

ग्रामीणों में कम होगा असंतोष

जदयू के राष्ट्रीय महासचिव केसी त्यागी ने कहा कि आम बजट से देश की कृषि आधारित अर्थव्यवस्था में अभूतपूर्व सुधार होगा। इससे ग्रामीण असंतोष कम होगा, साथ ही किसानों को आत्महत्या की मजबूरी और कर्ज के जाल से मुक्ति मिलेगी। प्रदेश जदयू के कोषाध्यक्ष डॉ. रणवीर नंदन ने कहा- अब तक तो परंपरा यह रही है कि चुनावी साल में सरकारें लोक लुभावन अव्यवहारिक बजट पेश करती हैं, पर एनडीए सरकार ने देश की मजबूती को प्राथमिकता देते हुए यह बजट पेश किया है।

ऑपरेशन ग्रीन की हुई शुरुआत

प्रदेश जदयू के मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा कि पेट्रोल-डीजल की कीमतों से एक्साइज ड्यूटी घटाया जाना सकारात्मक पहल है। डॉ. सुनील कुमार सिंह ने कहा कि फल उत्पादक किसानों के लिए बजट में ऑपरेशन ग्रीन की शुरुआत की गई। इसका सीधा फायदा बिहार के केला और लीची उत्पादक किसानों को मिलेगा। युवा जदयू के प्रवक्ता ओमप्रकाश सिंह सेतु ने कहा कि केंद्र सरकार ने हमेशा युवाओं को प्राथमिकता दी है। नए वित्तीय वर्ष में 70 लाख नौकरियों का लक्ष्य रखा गया है। डॉ. मधुरेन्दु पांडेय ने भी बजट को राष्ट्रहित वाला बताया।

लालू बोले- बहुमत 2019 तक के लिए, 2022 के लिए नहीं

पटना|राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद ने बजट को किसानों को छलने वाला बताया। उन्होंने गुरुवार को ट्वीट किया- जनता ने राजग सरकार को बहुमत 2019 तक दिया था, न कि 2022 तक। सरकार चला रहे लोग बड़ी चालाकी से अपनी विफलताओं और जवाबदेही को 2022 पर फेंक रहे हैं। लालू ने इशारों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला किया। कहा-छाती ठोक कर बस 60 दिन मांग रहे थे। क्या हुआ?

सुशील मोदी ने कहा-

X
सत्तापक्ष ने कहा- सबके हित का रखा ख्याल, विपक्ष ने बताया- गरीबविरोधी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..