• Home
  • Bihar
  • Patna
  • अब इमरजेंसी से बेड के साथ वार्ड में जाएंगे मरीज
--Advertisement--

अब इमरजेंसी से बेड के साथ वार्ड में जाएंगे मरीज

पीएमसीएच को विश्व स्तर का बनाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। दिल्ली के बड़े अस्पतालों की तरह यहां भी सुविधाएं बहाली...

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 02:00 AM IST
पीएमसीएच को विश्व स्तर का बनाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। दिल्ली के बड़े अस्पतालों की तरह यहां भी सुविधाएं बहाली होंगी। जैसे-मरीज को इमरजेंसी से वार्ड में ट्रांसफर करना है तो बेड ही वहां चला जाएगा। स्ट्रेचर पर उठाकर ले जाने की जरूरत नहीं होगी। बड़े अस्पतालों का मुआयना करने के लिए दो सदस्यीय टीम दिल्ली गई थी। टीम में शामिल नोडल पदाधिकारी डॉ. एसएन सिन्हा और पूर्व डायरेक्टर इन चीफ डॉ. आजाद हिंद प्रसाद ने मेदांता हॉस्पिटल, कोलंबिया एशिया हॉस्पिटल, ईएसआईसी हॉस्पिटल और बीबी पंत हॉस्पिटल का मुआयना किया। उन अस्पतालों में मरीजों के लिए बेहतर सुविधाएं क्या हैं उन्हें देखा। उन सुविधाओं को पीएमसीएच में भी उपलब्ध कराया जाएगा। टीम ने अपनी रिपोर्ट बीएमएसआईसीएल को दी है। इस रिपोर्ट को स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार और स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय देखेंगे। इसके बाद अंतिम मंजूरी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मिलने पर काम आगे बढ़ेगा। अगली बैठक 5 मार्च को है। बैठक में भी इस रिपोर्ट को रखा जाएगा। यदि रिपोर्ट पर मुहर लग गई तो उसी के अनुसार अस्पताल का डिजाइन तैयार किया जाएगा।

तीन चरणों में होगा निर्माण कार्य

निर्माण कार्य तीन चरणों में पूरा होगा। इसमें करीब 1100 करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान है। पहले चरण में 1700 बेड का काम पूरा होगा। यह निर्माण कॉटेज को तोड़कर बनाया जाएगा। दूसरे और तीसरे चरण में बारी 3300 बेड का निर्माण किया जाएगा। विश्व स्तर के पीएमसीएच में एक छत के नीचे तमाम चिकित्सकीय सुविधाएं उपलब्ध कराने की योजना है ताकि मरीजों को इलाज के लिए कहीं और नहीं जाना पड़े।

पीएमसीएच बनेगा

विश्वस्तरीय