• Home
  • Bihar
  • Patna
  • बिहार के जर्दालु आम, कतरनी धान और मगही पान को मिली अंतरराष्ट्रीय पहचान
--Advertisement--

बिहार के जर्दालु आम, कतरनी धान और मगही पान को मिली अंतरराष्ट्रीय पहचान

पटना | बिहार के जर्दालु आम, कतरनी धान और मगही पान को अंतरराष्ट्रीय पहचान मिल गई है। इन तीनों विशिष्ट उत्पादों को...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 02:00 AM IST
पटना | बिहार के जर्दालु आम, कतरनी धान और मगही पान को अंतरराष्ट्रीय पहचान मिल गई है। इन तीनों विशिष्ट उत्पादों को बौद्धिक संपदा अधिकार के तहत भारतीय बौद्धिक संपदा के रूप की मान्यता मिली। कृषि मंत्री डॉ. प्रेम कुमार ने कहा कि 28 मार्च को जियोग्राफिकल इंडिकेशन रजिस्ट्री ने इस संबंध में पत्र भेजा है। उन्होंने कहा कि राज्य के किसानों के साथ ही बीएयू सबौर के वीसी और वैज्ञानिकों के अथक प्रयास से यह ऐतिहासिक गौरव मिला। जियोग्राफिकल इंडिकेशन जर्नल ने भागलपुर के जर्दालु आम उत्पादक संघ, मधुबन ग्राम महेशी, सुल्तानगंज को बागवानी उत्पादन फल वर्ग की स्वीकृति देते हुए भौगोलिक दर्शन का अधिकार दिया है।