Hindi News »Bihar »Patna» पीयू छात्रसंघ चुनाव में 19681 छात्र चुनेंगे 28 प्रतिनिधि

पीयू छात्रसंघ चुनाव में 19681 छात्र चुनेंगे 28 प्रतिनिधि

पटना| पटना विश्वविद्यालय प्रशासन ने छात्रसंघ चुनाव की अधिसूचना जारी कर दी है। 28 पदों के लिए चुनाव होगा, जिनमें पांच...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 02:00 AM IST

पटना| पटना विश्वविद्यालय प्रशासन ने छात्रसंघ चुनाव की अधिसूचना जारी कर दी है। 28 पदों के लिए चुनाव होगा, जिनमें पांच पद सेंट्रल पैनल, जबकि 23 पद काउंसलर्स के हैं। सेंट्रल पैनल में अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, महासचिव, संयुक्त सचिव और कोषाध्यक्ष को चुना जाएगा। इन पदों के लिए विवि का कोई भी नियमित छात्र उम्मीदवार हो सकता है। कम से कम एक साल ड्यूरेशन वाले सेल्फ फाइनेंसिंग और वोकेशनल कोर्स के छात्र भी ऑफिस बियरर के पांच पदों के लिए खड़े हो सकते हैं। बुधवार को डीएसडब्ल्यू प्रो. एनके झा ने छात्रसंघ चुनाव संबंधी अधिसूचना जारी की। इसके साथ ही कैंपस में आचार संहिता लागू हो गई है। अब 2 फरवरी को विवि प्रशासन मतदाता सूची जारी करेगा, जिसमें सुधार के लिए दो दिन दिए जाएंगे। चुनाव बैलेट पेपर पर होगा, 17 फरवरी को मतदान होगा। पटना विवि में 10 कॉलेज हैं, जबकि चार फैकल्टीज हैं। इनको पीयू छात्रसंघ चुनाव में इस बार 19681 वोटर हैं। ये वोटर 28 प्रतिनिधियों को चुनेंगे। चुनाव के लिए सोशल साइंस के डीन प्रो. पीके पोद्दार को चीफ इलेक्शन ऑफिसर बनाया गया है। टीम में 14 अन्य लोग भी हैं।

उम्मीदवारों की उम्रसीमा

22 साल अंडर ग्रेजुएट

25 साल पीजी

25 वर्ष एलएलबी

27 साल एलएलएम

28 साल रिसर्च स्टूडेंट्स

चुनाव में खर्च की सीमा

5000 रु सेंट्रल पैनल

2000 रु. कॉलेज रिप्रेजेंटेटिव

इसके अलावा, किसी भी एक पेपर में फेल स्टूडेंट्स भी उम्मीदवार नहीं बन सकते।

बैलेट पेपर पर हो क्रॉस ही, दूसरे निशान पर वोट रद‌्द

अधिसूचना में चुनाव के नियम भी बताए गए हैं। इसके मुताबिक बैलेट पेपर पर क्रॉस के अलावा अगर कोई और निशान मिला तो वोट रद्द कर दिया जाएगा। तय जगह पर ही मतदाता को क्रॉस मार्क करना है और सेंट्रल पैनल के लिए बने अलग-अलग बॉक्स में बैलेट पेपर को डालना होगा।

कॉलेजों में वोटरों की संख्या

पटना वीमेंस कॉलेज 4426

पटना आर्ट कॉलेज 264

मगध महिला कॉलेज 3233

वीमेंस ट्रेनिंग कॉलेज 200

बीएन कॉलेज 1970

पटना कॉलेज 1814

वाणिज्य महाविद्यालय 1271

पटना साइंस कॉलेज 1722

पटना लॉ कॉलेज 850

पटना ट्रेनिंग कॉलेज 200

पीजी ह्यूमैनिटीज 551

पीजी कॉमर्स एजुकेशन एंड लॉ 628

पीजी साइंस 851

उम्मीदवारों को ये नियम मानने होंगे

छात्र संगठन या उम्मीदवार रात 10 बजे के बाद ब्वायज हॉस्टल और शाम 6 बजे के बाद गर्ल्स हॉस्टल में प्रचार नहीं कर पाएंगे। प्रिंटेड पोस्टर्स का उपयोग नहीं करेंगेै।

वाल राइटिंग या पेंटिंग नहीं करेंगे। भावनाओं को ठेस पहुंचानेवाले भाषण नहीं देंगे। कैंपस के बाहर या अंदर पूजा स्थलों का उपयोग प्रचार के लिए नहीं होगा।

कैंपस के बाहर प्रदर्शन, मोर्चा निकालना, पब्लिक मीटिंग नहीं कर सकेंगे।

मगध महिला कॉलेज में होगी काउंटिंग

चुनाव के बाद वोटों की गिनती मगध महिला कॉलेज में होगी। ऑफिस बियरर समेत काउंसिल मेंबरों का रिजल्ट वहीं घोषित किया जाएगा। हालांकि काउंसिल मेंबर्स को मिले वोटों की गिनती उनके कॉलेजों व विभागों में ही होगी।

चुनाव का शेड्यूल

मतदाता सूची प्रकाशन : 2 फरवरी

मतदाता सूची पर अपत्ति : 5 फरवरी दोपहर 2 बजे तक

अंतिम मतदाता सूची का प्रकाशन : 5 फरवरी को 4 बजे

नामांकन फॉर्म की बिक्री, डीएसडब्ल्यू ऑफिस में : 6 फरवरी को दोपहर 3 से 5 बजे तक, 7 फरवरी को सुबह 10.30 से 5 बजे तक, 8 फरवरी को सुबह 10.30 से 2.30 बजे तक, 5 रुपए प्रति नामांकन फॉर्म के लगेंगे।

व्हीलर सीनेट हॉल में नामांकन दाखिल करने की तिथि : 7-8 फरवरी की सुबह 10 से 3 बजे तक

नामांकन फॉर्म की स्क्रूटिनी : 9 फरवरी की सुबह 11 बजे से

कैंडिडेट की लिस्ट का प्रकाशन: 9 फरवरी 3.30 बजे के बाद

उम्मीदवारी वापस लेने की तिथि : 10 फरवरी 4 बजे तक

मतदान की तिथि : 17 फरवरी, सुबह 8 बजे से 3.30 बजे तक

रिजल्ट प्रकाशन की तिथि- 17 फरवरी को ही देर रात तक

परीक्षा के समय चुनाव से छात्रों को होगी परेशानी, कुलपति से मिले छात्रनेता

पटना|पीयू में 17 फरवरी को छात्रसंघ चुनाव की घोषणा हो चुकी है। लेकिन छात्रों के एक प्रतिनिधिमंडल ने कुलपति से मिलकर इस समय छात्रसंघ चुनाव नहीं कराने की मांग की है। उनका कहना है कि चुनाव की वजह से छात्रों को परीक्षा की तैयारी में बाधा पहुंच रही है। स्नातक तृतीय वर्ष के छात्र चुनाव नहीं लड़ पाएंगे। इस पर कुलपति ने कहा कि राज्यपाल का आदेश ही अंतिम होगा। प्रतिनिधिमंडल में छात्रनेता अंशुमान, उमर फारुख, सरमद अजीज, अमित सरावगी आदि थे। उधर, एआईएसएफ ने राज्यपाल को पत्र भेजकर चुनाव और इंटर-मैट्रिक की परीक्षा के साथ-साथ होने से होनेवाली परेशानियों से अवगत कराया। पत्र में राज्य अध्यक्ष परवेज आलम एवं राज्य सचिव सुशील कुमार ने कहा है कि परीक्षा केंद्रों पर धारा 144 लागू होगी तो वैसी स्थिति में चुनाव का नामांकन एवं कैंपेन कैसे पूरा हो पाएगा।

इधर, आइसा ने पीयू के विभिन्न हॉस्टलों में बैठक की। राष्ट्रीय महासचिव संदीप सौरव के नेतृत्व में गुरुवार को पटना कॉलेज मैदान में आयोजित छात्रसंघ दावेदारी रैली पर चर्चा हुई। वहीं, छात्र लोक समता के प्रदेश अध्यक्ष रवि उज्ज्वल ने कहा कि सेंट्रल पैनल के लिए उम्मीदवार तय हो गए हैं। नामों की घोषणा 4 फरवरी को होगी। एनएसयूआई की पटना कॉलेज में बैठक में प्रदेश अध्यक्ष चुन्नू सिंह ने कहा कि पांच साल बनाम एक साल के नारे के साथ चुनाव लड़ेंगे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×