Hindi News »Bihar »Patna» अविजित केरल से नॉक आउट में हाई स्कोरिंग से ही जीतेगी बिहार की टीम

अविजित केरल से नॉक आउट में हाई स्कोरिंग से ही जीतेगी बिहार की टीम

कुमार जितेंद्र ज्योति

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 02:05 AM IST

कुमार जितेंद्र ज्योति पटना

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की ओर से पहली बार पटना में कराए गए नॉर्थ ईस्ट-बिहार जोन के अंडर 23 क्रिकेट टूर्नामेंट में पांच में से चार मैच जीतकर ऑल इंडिया टूर्नामेंट का टिकट हासिल करने वाली बिहार टीम के लिए परीक्षा की असली घड़ी तुरंत आ गई। चार फरवरी को कानपुर में बिहार का मुकाबला साउथ जोन की अविजित टीम केरल से है। केरल का बैटिंग लाइनअप जितना मजबूत है, उतना ही बॉलिंग अटैक जबरदस्त। पहले बैटिंग करे या बाद में, केरल की अंडर 23 टीम हर तरह से अपने मजबूत प्रतिद्वंद्वियों को हराने में कामयाब रही है।

एक फरवरी को अंतिम मैच में जीतने से पहले ही बिहार टीम का ऑल इंडिया टिकट फाइनल था। अंक तालिका में दूसरे स्थान पर कायम रहने के कारण बिहार की टीम इसकी मनोवैज्ञानिक तैयारी कर रही थी। नॉर्थ ईस्ट-बिहार जोन के अब तक के मैचों में बेहतरीन बल्लेबाजी करने वाले अनमोल बोनी को अंतिम मैच में आराम दिए जाने की यह वजह भी मानी जा सकती है। लेकिन, अब प्रैक्टिस के लिए समय नहीं मिल पाने के बावजूद बिहार को तीन दिनों के अंदर ऑल इंडिया नॉक आउट टूर्नामेंट में साउथ जोन की अविजित टीम से भिड़ना है। बिहार की टीम को जोनल टूर्नामेंट में बैटिंग की कमान थामने वाले पीयूष कुमार सिंह और अनमोल बोनी के कंधों पर बहुत बड़ी जिम्मेदारी होगी। इसके साथ ही अच्छा परफॉरमेंस दिखाने वाले त्रिपुरारी केशव, कुंदन शर्मा और उत्कर्ष भास्कर को भी जिम्मेदारी लेकर जबरदस्त स्ट्राइक रेट के साथ खेलना होगा। पहले बल्लेबाजी करने की स्थिति में पूरे 50 ओवर तक विकेट पर इन्हीं छह बल्लेबाजों को मिलकर स्कोर बोर्ड 300 रनों तक पहुंचाना होगा। अगर, पहले गेंदबाजी का मौका मिलता है तो अब तक अच्छा प्रदर्शन करने वाले कुंदन शर्मा, नवाज खान, अभिजीत साकेत और अपूर्व आनंद को रनों पर लगाम लगाते हुए 150 से 200 के बीच केरल को रोक देना होगा।

केरल की टीम टॉस जीतने पर पहले बैटिंग करना पसंद करती है। वैसे, अगर साउथ जोन के टूर्नामेंट परफॉरमेंस पर नजर डालें तो केरल की टीम टॉस हारने पर भी बैटिंग दिए जाने से जीती है और बॉलिंग मिलने पर भी। बिहार के गेंदबाजों को केरल के पांच बल्लेबाजों को जल्द पैवेलियन लौटाने का लक्ष्य रखना होगा। ओपनिंग से फाइव डाउन तक केरल के बल्लेबाजों का परफॉरमेंस अब तक जबरदस्त रहा है।

पहली बार

बिहार टीम आज होगी रवाना

कहर ढाकर निपटाना होगा जल्दी

रोहन एस. कुन्नूमल की स्ट्राइक रेट अच्छी है। जोनल में 79-80 रन तक का योगदान दिया है।

डेरिल एस. फेरारियो की स्ट्राइक रेट शानदार है। जोनल में फिफ्टी के आसपास परफॉर्म किया है।

सलमान निज़ार की स्ट्राइक रेट 87 तक रही है। अपनी टीम के लिए 83 रन तक का योगदान दिया है।

फाबिद अहमद ने बैटिंग में भी अपनी टीम के लिए 25 से 66 रन तक का योगदान दिया है।

टीम ने एन. अमीर जीशान को मौका दिया तो 108 गेंदों में 59 रनों का योगदान देकर साबित किया।

टिकना ही नहीं, ठोकना होगा इन्हें

फनूस एफ टीम के लिए दो-तीन विकेट तक लेते रहे हैं।

मिधुन एस तीन-चार विकेट लेकर कमर तोड़ते हैं।

सिज़मन जोसफ तीन-चार विकेट तक झटक लेते हैं।

फाबिद दो-दो विकेट तक ले चुके हैं। खतरनाक हैं।

पहले मैच में ही मुसीबत सामने, साउथ जोन की हाई स्कोरिंग और दबंग टीम है केरल

शशि आनंद (कप्तान), कुंदन शर्मा (उपकप्तान), पीयूष सिंह, अनमोल कुमार बोनी, त्रिपुरारी केशव, पीयूष गौरव, नितिन कुमार, उत्कर्ष भास्कर, अपूर्वा आनंद, अभिजीत साकेत, दिलीप कुमार पटेल, इमरान नजीर, लखन राजा, मो शकीबुल गणि, नवाज खान।

कोच- अशोक कुमार, मैनेजर- डॉ.डीपी त्रिपाठी, फीजियो- कुमार अभिषेक, ट्रेनर- विशाल सिंह

अंतिम मैच में बिहार 144 रनों से जीता

पटना डीबी स्टार

नार्थ ईस्ट बिहार जोन अंडर-23 क्रिकेट टूर्नामेंट में गुरुवार को बिहार ने मेघालय को को 144 रनों के बड़े अंतर से हराया। टॉस जीतकर पहले खेलने उतरी बिहार टीम की शुरूआत अच्छी रही। बिहार के ओपनर बल्लेबाज पीयूष कुमार सिंह और त्रिपुरारी केशव ने बिहार को सधी हुई शुरुआत दी। 11वें ओवर में 24 रन पर पीयूष के आउट होते ही सोनू पटेल मैदान पर आए। वह 34 रन बनाकर आउट हुए। एक तरफ से त्रिपुरारी केशव मैदान पर जमे रहे। मैदान पर उत्कर्ष ने त्रिपुरी का बखूबी साथ दिया। त्रिपुरारी ने 128 गेंदों पर 100 रनों की पारी खेली। अपनी पारी में त्रिपुरारी 12 चौके और एक छक्के जड़े। इसके बाद पियूष गौरव और उत्कर्ष ने टीम का स्कोर 50 ओवर में तीन विकेट पर 278 तक पहुंचा दिया। उत्कर्ष 64 रन की पारी में चार चौके और एक छक्का जमाया। पियूष ने 39 रन बनाए। मेघालय की ओर से बीबी डे ने दो विकेट लिया।

इसके जवाब में मेघालय टीम बिहार के गेंदबाजों का सामना नहीं कर पाए और पूरी टीम 39 ओवर में 134 रन पर धराशाई हो गई। मेघालय की ओर से सबसे ज्यादा 43 रन बीबी डे ने बनाया। इसके अलावा तारिक सिद्दिकी 21, अमियांग्सू सेन 14 और एसी संगमा ने 13 रन की पारी खेली। मेघालय को पहला झटका अभिजीत ने दिया। अभिजित ने स्वराजीत दास को दो रन पर एलबीडब्ल्यू कराया। दिलीप कुमार ने एसी संगमा को पवेलियन भेजा। शतकवीर त्रिपुरारी ने मेघालय के चार बल्लेबाजों को पवेलियन भेज दिया। मेघालय को बिहार के गेंदबाजों ने 25 रन अतिरिक्त के रूप में दिया।

बिहार को पियूष सिंह, अनमोल बोनी, त्रिपुरारी, कुंदन, नवाज, अभिजीत व अपूर्व से ज्यादा उम्मीद

मेघालय का पहला विकेट चटकाने पर गेंदबाज नवाज को बधाई देते साथी खिलाड़ी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×