Hindi News »Bihar »Patna» राजीवनगर के मकानों को नियमित कराने के लिए इसी महीने से मिलेगा फॉर्म

राजीवनगर के मकानों को नियमित कराने के लिए इसी महीने से मिलेगा फॉर्म

राजीवनगर के 600 एकड़ एरिया में बने मकानों को नियमित करने का फॉर्म निकलेगा। बिहार राज्य आवास बोर्ड के अधिकारियों के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 02:05 AM IST

राजीवनगर के 600 एकड़ एरिया में बने मकानों को नियमित करने का फॉर्म निकलेगा। बिहार राज्य आवास बोर्ड के अधिकारियों के मुताबिक फॉर्म का प्रारूप तैयार कर सरकार को भेजा गया है। सरकार के स्तर से हरी झंडी मिलने के बाद इस माह के अंत तक फॉर्म निकल जाएगा। नियमित होने वालों में आशियाना-दीघा रोड के पूरब बने मकान शामिल हैं। यानी 600 एकड़ में बसे राजीवनगर, केशरी नगर, जयप्रकाश नगर व इंद्रपुरी के कुछ हिस्सों में बने मकानों के मालिक अपने मकान को नियमित करा सकेंगे। बोर्ड की 256वीं बैठक में 17 मकानों को दीघा स्कीम के तहत नियमित करने का निर्णय लिया गया था। अबतक 9 मकानों को रजिस्ट्री कर नियमित किया जा चुका है। शेष मकानों को नियमित करने की प्रक्रिया चल रही है।

मकानों की होगी नापी

27 नवंबर 2013 के पहले बने मकान के मालिक आवेदन फॉर्म जमा कर सकेंगे। कारण दीघा एक्ट 27 नवंबर 2013 को लागू हुआ था। इसके पहले बने मकानों को नियमित करने का प्रावधान किया गया है। इस कटऑफ डेट के बाद बने मकानों को नियमित करने पर अभी विचार नहीं हो रहा है। आवेदन फॉर्म जमा करने वाले लोगों के मकानों की दस्तावेज की जांच की जाएगी। इसके बाद जमीन की नापी की जाएगी। नापी होने के बाद मकान को नियमित करने के लिए एनओसी दिया जाएगा।

सर्किल दर तय

इसके बाद शुल्क जमा करना होगा। घरेलू मकानों को नियमित कराने के लिए सर्किल दर का एक चौथाई देना है। राजीवनगर के जमीन का सर्किल दर 27 लाख रुपए प्रति कट्ठा तय किया गया है। राजीवनगर के जमीन का सर्किल दर 27 लाख रुपए प्रति कट्ठा तय किया गया है।

1 कट्‌ठा का शुल्क 6.75 लाख

600 एकड़ में बने घरेलू मकान को नियमित कराने के लिए पहले दो कट्ठा के लिए 13.50 लाख रुपए शुल्क देना होगा। जिनका घर एक कट्ठा में है उनको 6.75 लाख रुपए जमा करना होगा। तीन कट्ठा जमीन पर बने मकान को नियमित कराने के लिए पहले दो कट्ठा के लिए 13.50 लाख और शेष एक कट्ठा के लिए 13.50 लाख रुपए शुल्क के रूप में जमा करना होगा।

मिलेगा बैंक से लोन

यदि आपके पास पैसा नहीं है तो चिंता की कोई बात नहीं। बिहार राज्य आवास बोर्ड द्वारा नियमित करने के लिए एनओसी मिलने के बाद बैंक से लोन मिलेगा। बैंक से लोन लेकर अपने मकान को नियमित करा सकेंगे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×