• Home
  • Bihar
  • Patna
  • पीएम आवास योजना के लाभ के लिए हो चेक प्वाइंट
--Advertisement--

पीएम आवास योजना के लाभ के लिए हो चेक प्वाइंट

पटना|बिहार में रेरा के तहत अबतक मात्र 55 प्रोजेक्ट के आवेदन आए हैं। इनमें सिर्फ 5 प्रोजेक्ट अंतिम तौर पर रजिस्टर्ड...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 02:05 AM IST
पटना|बिहार में रेरा के तहत अबतक मात्र 55 प्रोजेक्ट के आवेदन आए हैं। इनमें सिर्फ 5 प्रोजेक्ट अंतिम तौर पर रजिस्टर्ड हुए हैं। कई नियमों को लेकर अभी अधिकारियों में संशय है। धीरे-धीरे कई चीजें साफ हो रही है। रेरा के तहत पांच-छह चीजें बहुत साफ होनी चाहिए। जैसे-लैंड का टाइटिल, लैंड का एग्रीमेंट, फ्लोर निर्माण की अनुमति, बिल्डरों के वादे और फंड डायवर्जन। सभी बिल्डरों को हर हाल में रेरा कानून का पालन करना ही होगा।

ये बातें बुधवार को एसबीआई द्वारा आयोजित बिल्डर्स परिसंवाद में नगर विकास विभाग के प्रधान सचिव चैतन्य प्रसाद ने कहीं। कार्यक्रम में एसबीआई के ऋण अधिकारियों ने होम लोन की बारीकियों को बताया। उन्होंने क्रेडिट लिंक सब्सिडी स्कीम (सीएलएसएस) में आ रही दिक्कतों को भी साझा किया। प्रधान सचिव ने कहा कि पीएम आवास योजना के तहत ऋण फाॅर्म में ही हो चेक प्वाइंट हों ताकि जो लोग सब्सिडी की पात्रता रखते हैं उन्हें भटकना नहीं पड़े। एसबीआई की ओर से बताया गया कि 1184 लाभुकों के बीच 149 करोड़ का ऋण अनुमोदित किया गया है। 2017 में 452 लाभुकों के बीच जहां 660 करोड़ का लोन बांटा गया, वहीं जनवरी 2018 तक यह 660 करोड़ और फरवरी में 814 करोड़ तक पहुंच गया। एसबीआई ने दूसरे बैंकों का 328 करोड़ का लोन टेक ओवर किया है। मौके पर कनफेडरेशन ऑफ रियल इस्टेट डेवलपर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया के मणिकांत, बिल्डर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया के चेयरमैन भवेश कुमार, सचिन चंद्रा आदि उपस्थित रहे। नगर आयुक्त केशव रंजन प्रसाद ने नक्शा पास कराने के नियमों की जानकारी दी। एसबीआई की ओर से वीएस नेगी (महाप्रबंधक नेटवर्क 3), प्रदीप कुमार घोष (महाप्रबंधक नेटवर्क 1), परवेज अंजुम समेत कई अधिकारी मौजूद रहे।