• Home
  • Bihar
  • Patna
  • महिलाओं ने अग्नि के फेरे लगाए और दिया धन्यवाद
--Advertisement--

महिलाओं ने अग्नि के फेरे लगाए और दिया धन्यवाद

महिलाओं ने अग्नि के फेरे लगाए और दिया धन्यवाद सिटी रिपोर्टर| पटना मारवाड़ी देश- दुनिया में जहां-जहां गए अपनी...

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 02:05 AM IST
महिलाओं ने अग्नि के फेरे लगाए और दिया धन्यवाद

सिटी रिपोर्टर| पटना

मारवाड़ी देश- दुनिया में जहां-जहां गए अपनी परंपरा साथ लेते गए। पटना में राजस्थान की यह परंपरा वर्षों से दिख रही है। एग्जीबिशन रोड में सूर्या विहार अपार्टमेंट के बाहर इस साल भी परंपरागत रूप से होलिका दहन का आयोजन किया गया। अमर कुमार अग्रवाल ने बताया कि यह 24 वां साल रहा राजधानी में अपनी होली मनाने का। अब मारवाड़ियों का लोक-रंग राजेन्द्र नगर गोलंबर, सब्जी बाग, बोरिंग रोड व बुद्ध मार्ग में भी दिखता है। राजधानी में भद्रा नक्षत्र समाप्त होने के बाद होलिका दहन किया गया। भद्रा समाप्त होने के पहले ही होलिका को सजा दी गई। महिलाओं ने इस मौके पर उपवास भी किया। होलिका जहां सजायी गई वहां डांडा रोपा गया यानी केले का थम्ब रखा गया। महिलाओं ने परंपरागत रूप से रस्सी में गोबर के गोल-गोल बरकुला मूंज की रस्सा में गूंथ कर लाए और उसे अग्नि को समर्पित किया। कच्चे सूत से चार बार परिक्रमा की और उपवास तोड़ा। अग्नि जलने के बाद केले के थम्ब को खींच लिया और इस बात का जश्न मनाया गया कि प्रह्लाद अग्नि में नहीं जला। महिलाओं ने डंडे में झंगरी को लपेटकर आग में पकाया। छनौटे में होलिका दहन की थोड़ी सी आग घर लाकर घर पर आलू सेंका। सबसे ज्यादा खूबसूरती तब देखते बनी जब एक साल के अंदर ब्याही लड़कियां परंपरागत राजस्थानी वस्त्र के साथ पहुंचीं और अग्नि के चार चक्कर लगाईं। उन्होंने अग्नि को अपने विवाह के लिए धन्यवाद दिया।

होलिका दहन पर मारवाड़ियों का लोक-रंग राजेन्द्र नगर गोलंबर, सब्जी बाग, बोरिंग रोड व बुद्ध मार्ग में भी दिखा