पटना

  • Home
  • Bihar
  • Patna
  • हजरत अली के शासनकाल में कोई शख्स भूखा नहीं रहा
--Advertisement--

हजरत अली के शासनकाल में कोई शख्स भूखा नहीं रहा

पटना | मौलाए कायनात हजरत अली (र.अ.) के साढ़े चार साल शासन काल में किसी पर जुल्म नहीं हुआ। कोई शख्स भूखा नहीं रहा।...

Danik Bhaskar

Apr 02, 2018, 02:05 AM IST
पटना | मौलाए कायनात हजरत अली (र.अ.) के साढ़े चार साल शासन काल में किसी पर जुल्म नहीं हुआ। कोई शख्स भूखा नहीं रहा। राजनेताओं को हजरत अली की बातों पर अमल करना चाहिए। अनीसाबाद में इमामिया ट्रस्ट लखनऊ और अल सादिक मिशन की ओर से हजरत अली की जयंती पर रविवार को आयोजित समारोह में शिया धर्म गुरु कलबे जवाद ने ये बातें कहीं। उन्होंने कहा कि हजरत अली ने कभी भी सरकारी खजाने का दुरुपयोग नहीं किया। आजकल हमारे राजनेता चाय पर तीन करोड़ खर्च कर देते हैं। अध्यक्षता करते हुए इमारत-ए-शरिया के नाजिम मौलाना अनिसुर रहमान कासमी ने कहा कि हजरत अली इल्म के दरिया थे। वे बहादुर थे। उनके बहादुरी की कई मिसालें हैं। मदरसा शम्शुल होदा के प्राचार्य मौलाना मशहूद अहमद कादरी नदवी ने कहा कि पैगम्बर मोहम्मद साहब ने हजरत अली को शिक्षा दी थी। इसमें कोई शक नहीं कि हजरत अली ने जिस तरह हुकूमत की उसमें सारे लोग खुश थे। डॉ. एए हई ने कहा कि हजरत अली का लकब मुर्तजा है यानी अल्लाह उनसे राजी हो गया। पैगम्बर मोहम्मद साहब ने उनकी रहनुमाई की। अशफाकुर्रहमान ने कहा कि मुसलमानों में एकता जरूरी है। मौके पर बबलू मासूमी, मौलाना गजनफर अली ने भी अपने विचार रखे। संचालन शबाब अनवर ने किया।

Click to listen..