• Home
  • Bihar
  • Patna
  • राजद के कार्यकाल में थी वित्तीय अराजकता की स्थिति
--Advertisement--

राजद के कार्यकाल में थी वित्तीय अराजकता की स्थिति

उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि राजद के कार्यकाल में बिहार में वित्तीय अराजकता की स्थिति थी। यही कारण था...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 02:10 AM IST
उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि राजद के कार्यकाल में बिहार में वित्तीय अराजकता की स्थिति थी। यही कारण था कि वर्ष 2005-06 का राज्य सरकार का बजट आकार मात्र 22568 करोड़ था। गैर योजना व्यय तो योजना व्यय का तीन गुना था। एनडीए की सरकार बनते ही 2005-06 की तुलना में 2006-07 में योजना व्यय पहले की 4898.68 करोड़ की जगह 9397.15 करोड़ यानी दोगुना हो गया। आज वर्ष 2018-19 का बजट आकार 2005-06 की तुलना में 176990 करोड़, यानी 8 गुना ज्यादा, जबकि योजना व्यय 92317.65 करोड़ प्रस्तावित है, जो गैर योजना व्यय से 7645 करोड़ ज्यादा है।

...विपक्ष केवल छाती पीटना चाहता है

पटना|उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा कि हम सड़क सुरक्षा का स्तर ऊंचा करना चाहते हैं, जबकि विपक्ष केवल छाती पीटना चाहता है। मुजफ्फरपुर के सड़क हादसे के बाद मुख्यमंत्री ने इस मुद्दे पर उच्चस्तरीय बैठक बुलाकर दुर्घटनाएं रोकने के कानूनी, संरचनात्मक और जागरुकता संबंधी सभी पहलुओं पर व्यापक विचार कर विकास आयुक्त की अध्यक्षता में ऐसी कमेटी गठित की, जो तेजी से बढ़ती आबादी वाले बिहार में सड़कों के विकास और वाहनों की संख्या में वृद्धि के बावजूद दुर्घटनाएं रोकने के उपाय सुझाएगी।