• Home
  • Bihar
  • Patna
  • सभी धार्मिक स्थलों के सर्किट विकास को सरकार प्रतिबद्ध
--Advertisement--

सभी धार्मिक स्थलों के सर्किट विकास को सरकार प्रतिबद्ध

पटना

Danik Bhaskar | Feb 01, 2018, 02:10 AM IST
पटना
राज्य सरकार हिन्दू, मुस्लिम, सिख, बौद्ध, समेत सभी धर्मों के बिहार में स्थित तीर्थ स्थलों के विकास के लिए प्रयास कर रही है। इन धर्मों के सर्किट का विकास किया जा रहा है ताकि यहां पर्यटन की संभावनाओं को बढ़ावा दिया जा सके। हमारी कोशिश है कि अगर कोई अजमेर शरीफ जियारत के लिए जाए तो पहले मनेर शरीफ जाए। गुरु गोविंद सिंह के कारण देश और दुनिया में बिहार का बहुत नाम रोशन हुआ है। दुनियाभर के लोग बिहार को उनके कारण सम्मान की नजर से देखते हैं। यह बातें बुधवार को भारतीय नृत्य कला मंदिर में पर्यटन मंत्री प्रमोद कुमार ने कही। वह यहां सिख धर्म के दसवें तीर्थंकर गुरु गोविंद सिंह महाराज के 350वें गुरु पर्व के ऐतिहासिक आयोजन पर बनी एक डॉक्यूमेंट्री के प्रदर्शन समारोह में बोल रहे थे। यहां निखिल कुमार निर्मित फिल्म ‘शुकराना गुरु का ‘ का लोकार्पण भी किया गया। कार्यक्रम में 350वें गुरुपर्व समारोह के चेयरमैन रहे गुरिंदर पाल सिंह ने कहा कि गुरु गोविंद सिंह संपूर्ण मानवता के गुरु थे। वह कहीं योद्धा के रूप में दिखते हैं तो कहीं महाकवि। फिल्म निर्देशक निखिल प्रकाश ने कहा कि बिहार की सांस्कृतिक वैभव को प्रदर्शित करती इस फ़िल्म के केंद्र में गुरु पर्व को रखा गया है। फिल्म मूल रूप से गुरु पर्व के अवसर पर दुनिया के कोने-कोने से लाखों श्रद्धालुओं के उस बिताये पल और अनुभवों पर आधारित है। कार्यक्रम का संयोजन और संचालन रंगकर्मी रवि कांत ने किया। जबकि गुरुद्वारा धर्म प्रचार कमेटी के चेयरमैन महेंद्र पाल सिंह जी, गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की वाइस प्रेसिडेंट कंवलजीत कौर, गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के सेक्रेटरी महेंद्र सिंह छाबरा, पर्यटन निदेशक अशोक कुमार सिंह, समाज सेवी मुकेश हिसारिया, सुमित सिंह कलसी, फिल्म विशेषज्ञ सी अंसारी, बिहार आर्ट थियेटर के सचिव कुमार अनुपम, रंगकर्मी रास राज समेत कई अन्य मौजूद थे।