Hindi News »Bihar »Patna» नुक्कड़ नाटकों में दिखी भोली-भाली जनता को बेवकूफ बनाने वालों की हकीकत

नुक्कड़ नाटकों में दिखी भोली-भाली जनता को बेवकूफ बनाने वालों की हकीकत

जब से बाजारवाद हावी हुआ है समाज में नैतिकता का पतन हुआ है। ठगो का ऐसा गिरोह हर क्षेत्र में पैदा हो गया है जो आम जनता...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 04, 2018, 02:10 AM IST

नुक्कड़ नाटकों में दिखी भोली-भाली जनता को बेवकूफ बनाने वालों की हकीकत
जब से बाजारवाद हावी हुआ है समाज में नैतिकता का पतन हुआ है। ठगो का ऐसा गिरोह हर क्षेत्र में पैदा हो गया है जो आम जनता को ठगने के नित नए तरीके तलाशता रहता है। लोगों को बेवकूफ बनाने वालों की हकीकत दिखा गए शनिवार को प्रेमचंद रंगशाला में प्रस्तुत तीन नुक्कड़ नाटक। यहां आठवें थियेटर ओलंपिक समारोह के पहले दिन इन्हें पटना की विभिन्न रंग संस्थाओं की ओर से पेश किया गया था।

डुप्लीकेट

यहां हुए नुक्कड़ नाटक डुप्लीकेट के लेखक थे अभिषेक चौहान जबकि निर्देशक थे कुंदन कुमार। नाटक में टीवी, अखबारों समेत विभिन्न समाचार माध्यमों के जरिये दिखाए जाने वाले भ्रामक विज्ञापनों के बाजार को दिखाया गया। नाटक कह गया कि इन भ्रामक विज्ञापनों के जरिये ठग व्यापारी जनता को बेवकूफ बनाते हैं। खतरनाक बीमारियों का विज्ञापन, गंजेपन दूर करने वाला विज्ञापन, पौरुष शक्ति बढ़ाने वाला विज्ञापन अक्सर ही लोगों को ठगने के लिए दिया जाता है। नाटक में कुंदन कुमार,रोशन कुमार, कुमार आशय, रविराज, अभिषेक राज, मो. दानिश, सौरभ सफारी आदि कलाकार थे।

तीन चोर

नुक्कड़ नाटक तीन चोर के जरिये देश के सरकारी सिस्टम में व्याप्त भ्रष्टाचार को दिखाया गया। नाटक कह गया कि राजनीति हो या सरकारी कर्मचारी-अधिकारी सब में भ्रष्टाचार पनप चुका है। भ्रष्ट अधिकारियों के सहयोग से कई राजनेेता सरकारी खजाने का घोटाला करने में कामयाब हो जाते हैं। नाटक कह गया कि यह चोर हमारे आस-पास ही होते हैं इन्हें पहचानने की जरूरत है। नाटक में रितेश कुमार सिंह, अनुपम आदर्श, रंधीर, रणविजय सिंह आदि कलाकार थे। कला जागरण की ओर से प्रस्तुत इस नाटक के निर्देशक थे हीरालाल राय।

सोल्ड

थियेटर ओलंपिक्स 2018 में नुक्कड़ नाटक सोल्ड की प्रस्तुति नाट्य संस्था द स्ट्रगलर की ओर से दी गई। राहुल कुमार रवि निर्देशित इस नाटक में अमेरिकी साम्राज्यवाद और उससे प्रभावित देशों की बदहाली दिखाई गई। नाटक कह गया कि वर्ल्ड बैंक, विश्व व्यापार संगठन आदि के जरिये दुनिया भर के विकासशील देशों का शोषण कर रहा है। नाटक के कलाकारों में रोशन कुमार, रोहित चंद्रा, रमेश कुमार, राहुल राज आदि शामिल थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Patna News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: नुक्कड़ नाटकों में दिखी भोली-भाली जनता को बेवकूफ बनाने वालों की हकीकत
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×