Hindi News »Bihar »Patna» कांग्रेसमुक्त भारत के साथ खत्म होने लगा वामपंथ का भी प्रभाव

कांग्रेसमुक्त भारत के साथ खत्म होने लगा वामपंथ का भी प्रभाव

पूर्वोत्तर में भाजपा की जीत के बाद पार्टी के प्रदेश दफ्तर में विजय दिवस मनाया गया। कार्यकर्ताओं ने एक-दूसरे को...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 04, 2018, 02:10 AM IST

कांग्रेसमुक्त भारत के साथ खत्म होने लगा वामपंथ का भी प्रभाव
पूर्वोत्तर में भाजपा की जीत के बाद पार्टी के प्रदेश दफ्तर में विजय दिवस मनाया गया। कार्यकर्ताओं ने एक-दूसरे को अबीर-गुलाल लगाया और पटाखे छोड़े। मिठाइयां भी खिलाईं। प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय ने वरीय नेताओं व सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ जीत का जश्न मनाया। उन्होंने इस ऐतिहासिक जीत पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को धन्यवाद दिया और कहा कि जनविरोधी नीतियों के कारण पूर्वोत्तर राज्य से भी कांग्रेस व वामपंथ का सफाया हो गया है। आज कांग्रेसमुक्त भारत के साथ ही साथ वामपंथ का प्रभाव भी खत्म हो रहा है। इससे प्रमाणित होता है कि देश की जनता को विकास, रोजगार और चतुर्दिक विकास चाहिए, जो एकमात्र इस लक्ष्य पर काम करने वाली भाजपा है। संगठन महामंत्री नागेंद्रजी, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, पीएचईडी मंत्री विनोद नारायण झा, मुख्य सचेतक अरुण सिन्हा, प्रदेश महामंत्री राजेंद्र सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष देवेश कुमार, प्रदेश मंत्री अमृता भूषण राठौर, प्रवीण तांती, प्रदेश प्रवक्ता संजय टाइगर, तारकेश्वर सिंह, प्रदेश मीडिया प्रभारी अशोक भट्ट, भाजयुमो राष्ट्रीय उपाध्यक्ष संतोष रंजन, महानगर भाजपा अध्यक्ष सीताराम पांडेय, महिला मोर्चा अध्यक्ष अनामिका सिंह, किरण गुप्ता, हेमलता वर्मा, भाजपा नेता ब्रजेश रमण, धीरेंद्र सिंह, आनंद मिश्रा, अरविंद सिंह, सोनू कुमार शर्मा, पुरुषोत्तम पप्पू, बलराम सिंह सहित अन्य कार्यकर्ता जश्न में शामिल हुए।

उधर, पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश कांग्रेसमुक्त के साथ-साथ अब लालमुक्त भारत की ओर बढ़ रहा है। स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि पूर्वोत्तर के चुनाव परिणाम से राहुल गांधी इतने व्यथित हुए कि चुपके से नानी घर चले गए। भाजपा ने त्रिपुरा में ढाई दशक से काबिज वामपंथ का किला ध्वस्त कर पर्वतीय राज्यों की राजनीति को नई दिशा दी है। अब बारी केरल की है। रालोसपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सह मुख्य प्रवक्ता श्रीभगवान सिंह कुशवाहा ने कहा कि कांग्रेसमुक्त भारत का जो सपना प्रधानमंत्री मोदी ने देखा है, वह सफल होता दिखाई दे रहा है। रालोसपा (अरुण गुट) के राष्ट्रीय अध्यक्ष सांसद डॉ अरुण कुमार व प्रदेश अध्यक्ष विधायक ललन पासवान ने इसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विकासात्मक सोच की जीत बताया है।

प्रदेश कार्यालय में कार्यकर्ताओं के साथ जीत का जश्न मनाते प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, विधायक अरुण सिन्हा।

सुशील मोदी बोले

त्रिपुरा के बाद केरल से भी वामपंथियों का जाना तय

पटना|उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा कि त्रिपुरा से वामपंथियों की विदाई के बाद अब केरल से भी उनका जाना तय है। पांच साल पहले जिस त्रिपुरा में भाजपा को मात्र डेढ़ प्रतिशत वोट मिला और मात्र एक उम्मीदवार की जमानत बच पाई थी वहां आज भाजपा ने दो तिहाई से ज्यादा सीटों पर न केवल जीत हासिल की है, बल्कि करीब 50 प्रतिशत वोट भी प्राप्त किया है। त्रिपुरा और नगालैंड में जहां कांग्रेस का खाता नहीं खुल पाया है, वहीं अब वह उत्तर-पूर्व के एक राज्य मिजोरम के साथ देश के मात्र तीन राज्यों पंजाब और कर्नाटक तक सिमट कर रह गई है और भाजपा अपने सहयोगियों के साथ 22 राज्यों में शासन कर रही है। मोदी ने कहा कि उत्तर-पूर्व के चुनाव परिणाम से यह साबित हो गया है वामपंथियों की हिंसात्मक राजनीति और कांग्रेस के भ्रष्टाचार से लड़ने की ताकत केवल भाजपा में ही है। केरल में कम्युनिस्ट अपनी अंतिम लड़ाई लड़ रहे हैं। केरल से वामपंथी और कर्नाटक से कांग्रेस का जाना भी तय है। भाजपा अब सही मायने में पूरे देश की पार्टी बन गई है। त्रिपुरा में शून्य से शिखर तक का सफर तय कर वामपंथियों के गढ़ को ध्वस्त करने के लिए प्रधानमंत्री मोदी व भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह बधाई के पात्र हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |
Web Title: कांग्रेसमुक्त भारत के साथ खत्म होने लगा वामपंथ का भी प्रभाव
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×