• Hindi News
  • Bihar
  • Patna
  • अब भी 20% से अधिक बच्चों के खाते में नहीं पहुंची पोशाक और छात्रवृत्ति की राशि
--Advertisement--

अब भी 20% से अधिक बच्चों के खाते में नहीं पहुंची पोशाक और छात्रवृत्ति की राशि

Patna News - पोशाक और छात्रवृत्ति आदि की राशि के वितरण की अंतिम तिथि 31 मार्च तक बढ़ाई गई थी। इससे पहले भी चार बार समय बढ़ाया गया।...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 02:15 AM IST
अब भी 20% से अधिक बच्चों के खाते में नहीं पहुंची पोशाक और छात्रवृत्ति की राशि
पोशाक और छात्रवृत्ति आदि की राशि के वितरण की अंतिम तिथि 31 मार्च तक बढ़ाई गई थी। इससे पहले भी चार बार समय बढ़ाया गया। इसके बावजूद अब भी 20 प्रतिशत से अधिक बच्चों के खाते में पोशाक और छात्रवृत्ति योजना की राशि नहीं भेजी जा सकी है। पिछले दिनों जिला शिक्षा पदाधिकारी सहित संबंधित अधिकारियों को कड़ी चेतावनी दी गई थी कि 31 दिसंबर तक राशि बच्चों के खाते में नहीं गई तो कड़ी कार्रवाई होगी। इसके बाद भी राशि नहीं भेजी जा सकी है।

शिक्षा विभाग के अधिकारी के अनुसार अब भी 20 से 30 प्रतिशत बच्चों के खाते में राशि नहीं भेजी जा सकी है। हालांकि सभी जिलों ने योजना मद की आवश्यक राशि की निकासी कर ली है। इस माह के पहले सप्ताह में बच्चों के खाते में राशि भेज देने की बात कही जा रही है। हालांकि डीईओ, डीपीओ (स्थापना) और डीपीओ (योजना व लेखा) को चेतावनी दी गई थी कि अंतिम तिथि तक राशि वितरण नहीं करने वाले जिलों के अधिकारियों पर कड़ी कार्रवाई होगी। इसके पहले विभाग ने चार बार राशि वितरण की तिथि बढ़ाई थी। पिछले दिनों समीक्षा में पाया गया कि हाईस्कूलों के बच्चों को साइकिल पोशाक की राशि 80 प्रतिशत वितरित की जा चुकी है। प्राथमिक और मध्य विद्यालय के लगभग 50 प्रतिशत बच्चों के ही खाते में राशि जा सकी है। एससी-एसटी छात्र-छात्राओं के लिए एससी-एसटी कल्याण विभाग की ओर से 1300 करोड़ में लगभग एक हजार करोड़ से अधिक की राशि निकासी हो चुकी है। शेष राशि की निकासी कर वितरण का निर्देश दिया गया था। कई डीईओ ने कहा है कि बैंक की कोताही के कारण बच्चों के खाते में राशि भेजने में देर हो रही है। इस पर सचिव ने आदेश दिया कि जिस बैंक से राशि ट्रांसफर में देर हो रही है, उसकी सूची विभाग को उपलब्ध कराएं। सचिव आरएल चोंगथू ने भी पिछले दिनों वीडियो कांफ्रेंसिंग कर डीईओ से कहा था एससी-एसटी छात्र-छात्राओं के लिए भेजी गई राशि बच्चों के खाते में समय पर भेज दें। जिस बच्चों का बैंक खाता नहीं है, जांच कर उनके अभिभावक के खाते में राशि भेजें।

लेट-लतीफ

31 तक राशि ट्रांसफर नहीं होने पर कार्रवाई की चेतावनी भी काम नहीं आई

अब तो किताब की राशि भी खाते में देनी है

इस वर्ष कक्षा एक से आठ तक के बच्चों को किताब की राशि भी उनके खाते में दी जाएगी। पिछले साल किताब देने में 10 माह से अधिक समय बीत गया था। बच्चों को किताब के बदले राशि देने के लिए राज्य सरकार ने केंद्र से अनुमति भी ले ली है। बच्चों को सीधे खाते में राशि भेज दी जाएगी। बच्चे बाजार से किताब खरीद लेंगे।

X
अब भी 20% से अधिक बच्चों के खाते में नहीं पहुंची पोशाक और छात्रवृत्ति की राशि
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..