• Home
  • Bihar
  • Patna
  • मोहिनीअट्टम-कथकली से उभरा केरल का कल्चर
--Advertisement--

मोहिनीअट्टम-कथकली से उभरा केरल का कल्चर

केरल का मोहिनीअट्टम और कथकली डांस मंगलवार को पटना में दिखा। केरल से आए कलाकारों ने इन दाेनों के साथ ही कई तरह के...

Danik Bhaskar | Mar 14, 2018, 02:20 AM IST
केरल का मोहिनीअट्टम और कथकली डांस मंगलवार को पटना में दिखा। केरल से आए कलाकारों ने इन दाेनों के साथ ही कई तरह के डांस और मार्शल आर्ट पेश कर केरल के रिच कल्चर को दिखाया। केरल के कई रंग यहां देखने को मिले। यह सब हुआ होटल पाटलिपुत्र कॉन्टिनेंटल में केरल टूरिज्म की ओर से आयोजित पार्टनरशिप मीट में। इसमें केरल गवर्नमेंट की टूरिज्म पॉलिसी, टूरिज्म प्लेस, ट्रेडिशनल खान-पान, समेत केरल के प्रमुख आकर्षणों को दिखाया गया।

केरल के डिपार्टमेंट ऑफ टूरिज्म की ओर से आयोजित इस मीट में शाॅर्ट फिल्म के जरिये केरल की खूबसूरती और अनोखेपन को दिखाया गया। इसके बाद केरल से आए कलाकारों ने कल्चरल अपना परफॉर्मेंस दिया। सबसे ट्रेडिशनल मोहिनी अट्टम को पेश किया। इसके बाद स्टेज पर कथकली की परफॉमरेंस हुई जिसमें दो आर्टिस्ट ने इस मुश्किल डांस को पेश किया। हेवी मेकअप और कॉस्टयूम के साथ जब उन्होंने डांस शुरू किया तो सब देखते ही रह गए। केरल की हरियाली और कुदरती खूबसूरती को बताते म्यूरनृत्यम को भी दिखाया गया। इसमें कलाकार ने मोर का रूप लेकर शानदार डांस किया। वहीं तइयम डांस में लाल रंग वाली ड्रेस में हाथों में कटार लेकर कलाकार ने डांस किया। इसके साथ ही केरल का ट्रेडिशनल मार्शल आर्ट भी दिखाया गया।

घूमने के लिए एक बेहतर जगह है केरल

कार्यक्रम में केरल टूरिज्म डिपार्टमेंट की उप निदेशक बिंदुमोनी एस ने कहा कि नेचुरल ब्यूटी से भरपूर और रिच कल्चर वाला केरल घूमने के लिए एक बेहतर जगह है। देश आैर दुनिया भर से लोग यहां घूमने आते हैं। उन्होंने कहा कि केरल टूरिज्म के क्षेत्र में भारत के नक्शे पर एक प्रमुख स्थल के रूप में पहचान रखता है। यहां कई ऐसी जगहें हैं जिन्हें देखने के लिए टूरिस्ट खिंचे चले आते हैं। पटना में इस मीट को आयोजित करने का उद्देश्य बिहार के पर्यटकों को बताना है कि केरल घूमने के लिए एक उम्दा विकल्प हो सकता है। केरल के मंदिर, त्योहार, ग्रामीण हस्तशिल्प, लोक कलाएं, खान-पान, हरियाली, समुद्र तट पर्यटकों को लुभाते हैं।