--Advertisement--

शराब के साथ पकड़े गए अधेड़ की कस्टडी में मौत, उपद्रव के बाद पुलिस ने की फायरिंग

पुलिस को लाठीचार्ज के बाद 12 राउंड से ज्यादा फायरिंग करनी पड़ी। बुधवार दोपहर लोगों ने थाने का घेराव कर जमकर उपद्रव किया।

Dainik Bhaskar

Dec 21, 2017, 06:08 AM IST
man dies in custody

भभुआ. शराब के मामले में अरेस्ट एक अधेड़ शख्स की हिरासत में इलाज के दौरान मौत हो गई। पुलिस उसे वाराणसी ले गई थी। मंगलवार को हुई मौत से गांववाले आक्रोशित हो गए और भगवानपुर थाना चौक को जाम कर दिया। भीड़ के उग्र तेवर देखते हुए पुलिस को लाठीचार्ज के बाद 12 राउंड से ज्यादा फायरिंग करनी पड़ी। बुधवार दोपहर लोगों ने थाने का घेराव कर जमकर उपद्रव किया।

हवाई फायरिंग के बाद भीड़ ने किया पथराव

पुलिस के बल प्रयोग से भीड़ आक्रोशित हो गई और जवाब में पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया। जिसमें महिला व युवक समेत कई लोगों को चोटें आईं जब कि 5 पुलिस वाले जख्मी हुये हैं। घटना के बाद पूरा भगवानपुर गांव पुलिस छावनी में तब्दील हो चुका है। इस पूरे घटनाक्रम के बीच देर शाम हालात को पुलिस ने काबू कर लिया है। स्थिति सामान्य बताई जा रही है।

एसपी ने कहा- अचानक तबीयत खराब हुई, पिटाई नहीं की गई

घटना के संबंध में एसपी हरप्रीत कौर ने बताया कि बीते तीन दिन पूर्व पडरी गांव में भगवानपुर थाना पुलिस शराब होने की सूचना पर छापेमारी करने गई थी। इस दौरान पूरण चेरो को पुलिस दो बोतल शराब के साथ कस्टडी में लेकर थाना ला रही थी। इसी बीच उसकी तबीयत अचानक खराब हो गई। उसकी तबीयत ब्रेन हेमरेज से होने की बात चिकित्सकों ने बताई थी। इलाज़ के दौरान उसकी वाराणसी में मौत हो गई। एसपी ने बताया कि पुलिस द्वारा अधेड़ की पिटाई नहीं की गई है। उसकी मौत कस्टडी में लिए जाने के बाद ब्रेन हेमरेज होने से हुई है।

पुलिस बता रही कस्टडी में लेने के बाद ब्रेन हेमरेज

16 दिसंबर शनिवार शाम को भगवानपुर थाना क्षेत्र स्थित पडरी गांव से पूरण चेरो 55 वर्ष को पुलिस ने दो बोतल देशी शराब के साथ गिरफ्तार किया गया था। पुलिस के मुताबिक कस्टडी में पूरण चेरो को लेकर थाना पुलिस द्वारा भगवानपुर थाना लाये जाने के दौरान रास्ते में उसका अचानक ब्रेन हेमरेज हो गया। तबीयत बिगड़ने पर पुलिस उसे उपचार के लिए आनन-फानन में सदर अस्पताल भभुआ ले आई। यहां प्राथमिक इलाज़ बाद उसे बेहतर इलाज़ के लिए वाराणसी रेफर कर दिया गया। जहां बुधवार को उसकी मौत हो गई।

परिजन कह रहे- पुलिस की पिटाई से हुई मौत

ग्रामीणों व परिजनों का आरोप था कि पूरण चेरो की मौत पुलिस की पिटाई से हुई है। जब उसकी स्थिति खराब होने लगी तो घायल अवस्था में सदर अस्पताल भभुआ इलाज के लिए पुलिस ले आई। 16 तारीख को अधेड़ की तबीयत बिगड़ने के बाद स्थिति का जायजा लेने जब उसके परिजन भभुआ आए तो उन्हें पूरण चेरो से मिलने नहीं दिया।

पुलिस पर हत्या का केस चलाने की मांग कर रहे थे लोग: परिजन और उसके समर्थकों ने पिटाई करने वाले पुलिसकर्मी पर हत्या का केस चलाने, एक आश्रित को सरकारी नौकरी देने, एक एकड़ जमीन देने की मांग के साथ बुधवार को थाना का घेराव करने पहुंचे। पुलिस के खिलाफ भीड़ अनियंत्रित हो गई।

man dies in custody
X
man dies in custody
man dies in custody
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..