--Advertisement--

रेप का आरोपी ट्रेनी सिपाही अरेस्ट, प्रेग्नेंट होने पर खिलाई थी अबॉर्शन की दवाई

लड़की बांका जिले की रहने वाली है और रजौन में पढ़ती है। वह तातारपुर थाना क्षेत्र के एक लॉज में रह कर ट्यूशन पढ़ती है।

Dainik Bhaskar

Nov 30, 2017, 06:28 AM IST
पुलिस हिरासत में आरोपी ट्रेनी सिपाही। पुलिस हिरासत में आरोपी ट्रेनी सिपाही।

भागलपुर. इंटर की स्टूडेंट को शादी का झांसा देकर रेप के मामले में पुलिस ने आरोपी ट्रेनी सिपाही वीरेंद्र कुमार को समस्तीपुर से अरेस्ट किया है। वीरेंद्र जमुई जिला बल में है और बांका जिले के नवटोलिया (फुल्लीडुमर) गांव का रहने वाला है। वह समस्तीपुर में ट्रेनिंग कर रहा था। सोमवार को उसके खिलाफ महिला थाने में लड़की ने रेप का केस दर्ज कराया था। उसने बताया कि प्रेग्नेंट होने पर आरोपी उसे पटना ले गया था जहां उसे अबॉर्शन की दवा खिलाई थी। पुलिस ने आरोपी को कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।


फोन पर बोला-नहीं करूंगा शादी, अरेस्ट हुआ तो निकली हेकड़ी
रेप के बाद लड़की लगातार सिपाही पर शादी करने का दबाव बनाने लगी। फोन करती थी तो वीरेंद्र कहता था, शादी नहीं करूंगा। जो करना है, कर लो। लड़की ने वीरेंद्र से बातचीत की रिकार्डिंग भी अपने पास रखी है, जिसे पुलिस को उसने सौंपा है। अरेस्ट होने के बाद सिपाही की सारी हेकड़ी निकल गई। वह अब लड़की से शादी करने के लिए तैयार है। क्योंकि गिरफ्तारी और जेल जाने के बाद ही वह निलंबित हो जाएगा और आगे सेवा से बर्खास्त भी हो सकता है।

जब लड़की का भाई बन कर थाने पहुंच गया था सिपाही
कुछ दिन पहले वीरेंद्र लड़की का भाई बन कर तिलकामांझी थाना एक मामले की पैरवी में पहुंच गया था। लड़की एक संस्थान में काम करती थी, जहां मालिक से उसका कुछ विवाद हो गया था। इस पर वीरेंद्र ने फोन कर मालिक को धमकाया भी था। पुलिस को सूचना मिली तो लड़की और उस धमकाने वाले को बुलाया गया। लड़की ने पुलिस को बताया कि वीरेंद्र उसका मौसेरा भाई है। हालांकि बाद में दोनों पक्षों में समझौता हो गया था।

लड़की ने बताई पूरी दास्तां, पिता के साथ रहने की जताई इच्छा
ट्रेनी सिपाही को पॉक्सो कोर्ट में पेश किया गया। जहां से उसे 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में सेंट्रल जेल भेज दिया गया। इससे पहले आरोप लगाने वाली नाबालिग लड़की का क्लास वन जज कविता कुमारी की कोर्ट में धारा 164 के तहत बयान दर्ज किया गया। उसने कोर्ट को पूरी दास्तां बताई। जज ने बयान को पॉक्सो कोर्ट को वापस कर दिया। इस बीच लड़की ने अपने मां-पिता के साथ रहने की इच्छा जतायी। जिसपर कोर्ट ने अनुमति दी। इसके लिए नाबालिग के पिता से बांड भराया गया।

प्रेग्नेंट होने पर पटना ले जाकर खिलाई थी अबॉर्शन की दवा
लड़की बांका जिले की रहने वाली है और रजौन में पढ़ती है। वह तातारपुर थाना क्षेत्र के एक लॉज में रह कर ट्यूशन पढ़ती है। आरोप है कि कोचिंग में साथ पढ़ने वाले जितेंद्र नाम के लड़के ने डेढ़ साल पहले वीरेंद्र को मेरा मोबाइल नंबर दे दिया था। वह फोन पर मुझसे बात करने लगा। वह उसके झांसे में आ गई। वीरेंद्र ने लड़की को सैंडिस कंपाउंड बुलाया और अंधेरा होने पर झाड़ी में ले जाकर रेप किया। लड़की का कहना है कि वह प्रेग्नेंट हो गई तो वीरेंद्र उसे लेकर पटना चला गया। जहां एक होटल में रख कर पांच दिनों तक फिजिकल रिलेशन बनाया। वहीं पर अबॉर्शन की दवा खिला दिया और समस्तीपुर लेकर चला गया। जब उससे कोर्ट में शादी करने के लिए कहा तो गोली मारने की धमकी देने लगा। इसके बाद समस्तीपुर, बरौनी, दलसिंहसराय में ले जाकर मारपीट की। सोमवार को लड़की डीआईजी से मिलकर घटना की जानकारी दी, इसके बाद महिला थाने में वीरेंद्र के खिलाफ केस दर्ज किया गया।

X
पुलिस हिरासत में आरोपी ट्रेनी सिपाही।पुलिस हिरासत में आरोपी ट्रेनी सिपाही।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..