Hindi News »Bihar »Patna» Controversial Statement Of Policeman In Case Of Accident

घायल हॉस्पिटल में तड़प रहा था, थानेदार बोले- मर्डर नहीं, केस करके क्या होगा?

तीन दिन पहले स्कूल से लौटते रहे एक मासूम को बाइक सवार ने रौंद दिया।

Bhaskar News | Last Modified - Nov 18, 2017, 07:07 AM IST

  • घायल हॉस्पिटल में तड़प रहा था, थानेदार बोले- मर्डर नहीं, केस करके क्या होगा?
    रसूलपुर में घायल बालक का बयान दर्ज नहीं की पुलिस।

    रसूलपुर (छपरा).चनचौरा पंचायत के माधोपुर गांव में तीन दिन पहले स्कूल से लौटते रहे एक मासूम को बाइक सवार ने रौंद दिया।जहां उसे गंभीर हालत में एकमा के प्राइवेट नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया। मौत से जूझ रहे छात्र आकाश कुमार के परिजन और डॉक्टर एस कुमार ने एकमात्र पुलिस को बयान लेने की सूचना देते रहे। लेकिन पुलिस ने यह कहकर बयान नहीं लिया कि कोई मर्डर नहीं हुआ है।

    वहीं गंभीर हालात को देखते हुए छात्र को छपरा रेफर कर दिया गया है। घटना स्थल रसूलपुर थाना क्षेत्र की पुलिस के पास एफआईआर करने छात्र के पिता बृज कुमार पहुंचे तो थानाध्यक्ष ने कहा कि केस करने से क्या मिलेगा। बाइक से रौंदने वाले से समझौता कर लीजिए। हार थक कर परिजन एफआईआर कराने के लिए एसपी छपरा के यहां गुहार लगाई है।

    गंभीर रूप से घायल छात्र के पिता ने एसपी के दिये शिकायती आवेदन में कहा है कि माधोपुर उत्क्रमित मध्य विद्यालय से उसका 10 वर्षीय पुत्र स्कूल की छुट्टी से लौट रहा था कि चनचौरा बाजार के व्यवसायी जयप्रकाश कुशवाहा ने गंडक नहर के पुल पर रौंद दिया। उसी समय लोगों ने बाइक सवार को पकड़ लिया। लड़के को गंभीर हालत में एकमा भर्ती कराए। जहां जीवन-मौत से जूझ रहा बालक का बयान पुलिस लेने से इनकार कर दी है। उधर रसूलपुर पुलिस ने इस घटना को समझौते के जरिए सुलझाने के लिए दबाव बनाते हुए एफआईआर दर्ज नहीं की।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×