Hindi News »Bihar »Patna» Doctor Said Dead, Breath Taking In Post Mortem House

दूसरे को भी डॉक्टर ने बताया मृत, फिर पोस्टमार्टम हाउस में चल पड़ी सांस

एक निजी हॉस्पिटल में ले जाया गया, जहां सोमवार की सुबह साढ़े 10 बजे चिकित्सकों ने मनोज चौधरी को मृत घोषित कर दिया।

Bhaskar News | Last Modified - Nov 14, 2017, 07:55 AM IST

  • दूसरे को भी डॉक्टर ने बताया मृत, फिर पोस्टमार्टम हाउस में चल पड़ी सांस
    फुलवारीशरीफ.परसा बाजार के सकरैचा गांव में रविवार की रात एक बच्चे के जन्मदिन की पार्टी में नाच के दौरान चली गोली से एक युवक की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि दूसरे घायल को इलाज के लिए हनुमान नगर, कंकड़बाग के एक निजी हॉस्पिटल में ले जाया गया, जहां सोमवार की सुबह साढ़े 10 बजे चिकित्सकों ने मनोज चौधरी को मृत घोषित कर दिया।
    करीब 4 घंटे बाद जब मनोज के शव को पोस्टमार्टम के लिए पीएमसीएच के पोस्टमार्टम हाउस लाया गया तो एक बार फिर से उसकी सांसें चलने लगीं। इसके बाद उसे आनन-फानन में पीएमसीएच के आईसीयू में भर्ती कराया गया है, जहां वह कोमा में इलाजरत है। मनोज के परिजनों और ग्रामीणों ने निजी हॅास्पिटल के लापरवाह चिकित्सकों पर कार्रवाई की मांग की है।

    घटना के बाद भाग निकला सुबोध

    जिस बच्चे के जन्मदिन की पार्टी में नाच हो रहा था, उसका पिता सुबोध पासवान अति उत्साह में कट्टे से फायरिंग करने लगा। कट्टे से निकली गोली पहले इसी गांव के मुन्ना राम के बेटे अविनाश कुमार (16 वर्ष ) की गर्दन को भेदती हुई बगल में बैठे गनौरी चौधरी के बेटे मनोज कुमार चौधरी (19 वर्ष) के सिर में जा लगी। गोली लगते ही मौके पर ही अविनाश कुमार की मौत हो गई जबकि मनोज कुमार चौधरी गंभीर रूप से घायल हो गया। घटना के बाद सुबोध पासवान मौके से फरार हो गया। वहीं नाच पार्टी भी भाग निकली। ग्रामीणों की मदद से परिजनों ने आनन- फानन घायल मनोज कुमार चौधरी को इलाज के लिए हनुमान नगर, कंकड़बाग के हाॅस्पिटल ले गए, जहां चिकित्सकों ने सोमवार को मृत घोषित कर दिया।
    सुबोध पर नामजद प्राथमिकी दर्ज

    इधर घटना के बाद गांव पहुंची परसा बाजार पुलिस ने अविनाश कुमार के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए पीएमसीएच भेज दिया। मृतक के परिजनों ने हत्या की वारदात में सुबोध पासवान को नामजद कराते हुए परसा बाजार थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। मृतक अविनाश रामानंद राम गोविंद सिंह हाई स्कूल में नौवीं का छात्र था। परसा बाजार के थानेदार नंदजी प्रसाद ने बताया की सुबोध पासवान पर ही मृतक के परिजनों ने गोली चलाने का आरोप लगाया है। पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही रही है।
    पलभर में मातम खुशियों में बदला

    पोस्टमार्टम हाउस के बाहर मनोज चौधरी की सांसें फिर से चलने की खबर मिलते ही मनोज के घर का मातम खुशियाें में बदल गया। हालांकि मनोज की हालत पीएमसीएच के आईसीयू में चिंताजनक और स्थिर बनी हुई है। कोमा में पड़े मनोज की जिंदगी के लिए चिकित्सक जुटे हैं, वहीं परिजन दुआएं कर रहे हैं। गनौरी के चार बेटों में सबसे बड़ा बिरजू चौधरी वार्ड सदस्य है। वहीं मनोज सबसे छोटा बेटा था। मनोज की भाभी मालती ने बताया कि मनोज की शादी की बात चल रही है।
    कौन दुश्मनवा हलई हो, जे हम्मर बेटवा के मार देलई ....

    मजदूरी करनेवाले मुन्ना राम को अपने बड़े बेटे अविनाश से बड़ी आस थी। रोते हुए मुन्ना राम की पत्नी उषा देवी ने बताया कि उसका बेटा अगले साल मैट्रिक की परीक्षा देनेवाला था। वह पढ़ने में तेज था और उससे परिवार को काफी आशाएं थीं। बेटे की मौत के बाद मां छाती पीटकर विलाप कर रही थी कि कौन दुश्मनवा हलई हो, जे हम्मर बेटवा के मार देलई ....। अविनाश के छोटा भाई अभिषेक और छोटी बहन मिन्नी कुमारी का भी रो-रो कर बुरा हाल हो रहा था।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×