--Advertisement--

वास्को डि गामा एक्सप्रेस आपबीती : फर्श को चीरते हुए ट्रेन का चक्का बोगी में घुस आया

शुक्रवार तड़के 4:28 बजे पटना आ रही 12741 वास्को डि गामा एक्सप्रेस की 13 बोगियां पटरी से उतर गईं।

Dainik Bhaskar

Nov 25, 2017, 06:41 AM IST
पटना के शमशेर अपनी पत्नी के साथ। पटना के शमशेर अपनी पत्नी के साथ।

पटना. उत्तर प्रदेश में मानिकपुर स्टेशन के पास शुक्रवार तड़के 4:28 बजे पटना आ रही 12741 वास्को डि गामा एक्सप्रेस की 13 बोगियां पटरी से उतर गईं। इसमें तीन यात्रियों की मौत हो गई। मृतकों में दो बेतिया और एक सारण के रहने वाले थे। इस ट्रेन में पैसेंजर शमशेर भी थे। उन्होंने भास्कर से आपबीती बताई।

फर्श को चीरते हुए ट्रेन का चक्का बोगी में घुस आया

मैं नासिक में हिंदुस्तान एरोनाॅटिक्स लिमिटेड में काम करता हूं। एक श्राद्धकर्म में भाग लेने पत्नी के साथ अपने घर मुंगेर जा रहा था। बी वन 51 और 53 हमारा बर्थ था। रात के तीन बजे मेरी नींद टूटी। तभी तेज आवाज के साथ जोर का झटका लगा। मैं डरकर बैठ गया। मेरे कंपार्टमेंट के कई लोग जग गए थे। ट्रेन रुक गई थी। तभी किसी ने चिल्लाया- एक्सीडेंट हो गया है। सुनते ही सब लोग गेट की ओर भागे। जैसे ही नीचे उतरे लगा कि ईश्वर ने खड़े होकर हमें बचा लिया। एस 5 बोगी को सबसे ज्यादा क्षति हुई थी। बोगी के फर्श को चीरते हुए चक्का और अन्य पार्ट्स ऊपर आ गया था। इस बोगी के कई लोग मारे गए।

-जैसा यात्री शमशेर सिंह ने बताया

पटरी पर जमा था पानी, तेज रफ्तार से जा रही ट्रेन प्लेटफाॅर्म पर चढ़कर पलट गई

मानिकपुर स्टेशन पर एनाउंस किया जा रहा था कि मुगलसराय होते हुए पटना को जाने वाली वास्कोडिगामा एक्सप्रेस 3 नंबर प्लेटफाॅर्म पर आने वाली है। 3 नंबर प्लेटफाॅर्म की पटरी पर पानी लगा हुआ था। हमलोग वहीं ट्रेन के गुजरने का इंतजार कर रहे थे। तेज रफ्तार से इंजन और कुछ बोगियों ने ही क्रॉस किया था कि तेज आवाज हुई। बोगी प्लेटफाॅर्म पर झुक गई थी और रगड़ खा रही थी। अचानक ट्रेन रुकी तो देखा कि एस टू के बाद की एक बोगी लगभग प्लेटफाॅर्म पर चढ़कर नीचे पलट गई है। ऐसा लगा कि इंजन के गुजरने के बाद पटरी ही धंस गई, बोगी प्लेटफाॅर्म से टकरा गई और हादसा हुआ।

(हजरत निजामुद्दीन-मानिकपुर एक्सप्रेस के दो स्टाफ उमेश (टीकमगढ़), संत सिंह (झांसी) ने जैसा भास्कर को बताया)

मृतकों में 2 बेतिया व एक सारण के, घायलों में भी पांच बिहार के

यूपी में मानिकपुर स्टेशन के पास शुक्रवार तड़के 4:28 बजे पटना आ रही 12741 वास्को डि गामा एक्सप्रेस की 13 बोगियां पटरी से उतर गईं। इसमें तीन यात्रियों की मौत हो गई। मृतकों में दो बेतिया और एक सारण के रहने वाले थे। मृतक बेतिया के दीपक पटेल (25) और गोलू कुमार (6) पिता पुत्र थे। एक अन्य मनोज सिंह, सारण के रहनेवाले थे। रेलवे ने 9 यात्रियों के घायल होने की पुष्टि की है।

घायलों में अजय कुमार, सीवान, अरविंद वर्मा, वाराणसी, रिंकी कुमारी, गोआ, इंदल चौहान, सोनभद्र, अभिषेक कुमार, नवादा, राज कुमार दास, वैशाली, मजीत देवी, समस्तीपुर, चंद्रशेखर, सोनभद्र, रामेश्वर, सारण शामिल हैं। करीब 300 यात्रियों को स्पेशल ट्रेन से शाम 6.00 बजे पटना जंक्शन लाया गया। घटना का कारण पटरी का टूटा होना बताया जा रहा है। दानापुर के डीआरएम रंजन प्रकाश ठाकुर ने बताया कि घायलों का इलाज मानिकपुर में चल रहा है।

उमेश तिवारी और संत सिंह। उमेश तिवारी और संत सिंह।
एक्सीडेंट के बाद ट्रेन। एक्सीडेंट के बाद ट्रेन।
पटना में हेल्प डेस्क पर पुलिस कर्मी। पटना में हेल्प डेस्क पर पुलिस कर्मी।
X
पटना के शमशेर अपनी पत्नी के साथ।पटना के शमशेर अपनी पत्नी के साथ।
उमेश तिवारी और संत सिंह।उमेश तिवारी और संत सिंह।
एक्सीडेंट के बाद ट्रेन।एक्सीडेंट के बाद ट्रेन।
पटना में हेल्प डेस्क पर पुलिस कर्मी।पटना में हेल्प डेस्क पर पुलिस कर्मी।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..