--Advertisement--

गाली देने से मना किया तो कर दी पिता की हत्या, ऐसे बची मां की जान

करीब सात आठ बार प्रहार करने के बाद वृद्ध पिता जमीन पर गिर पड़े और मौत हो गई।

Dainik Bhaskar

Nov 18, 2017, 06:46 AM IST
father killed by Son

खोदावन्दपुर (बेगूसराय). छौड़ाही ओपी थाना क्षेत्र के सिहमा गांव में एक पुत्र ने धारदार हथियार से प्रहार कर अपने ही पिता की हत्या कर दी। छौड़ाही पुलिस ने आरोपित पुत्र को गिरफ्तार कर घटना में प्रयुक्त हथियार बरामद कर लिया है। वहीं मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए बेगूसराय भेज दिया।


मृतक सिहमा पंचायत अंतर्गत मालपुर चक्का गांव निवासी 65 वर्षीय कृपाल दास है। जबकि आरोपित उसका 35 वर्षीय पुत्र रंजीत दास बताया जा रहा है। बताया जाता है कि जिस वक्त पिता की रंजीत ने हत्या की उस वक्त उसकी मां भी बीचबचाव कर रही थी तो रंजीत ने उसे भी मारने का प्रयास किया लेकिन किसी कारण से उसकी मां बिल्टी देवी की जान बच गई।

गाली देने से मना करने पर की पिता की हत्या

ग्रामीणों ने बताया कि 70 वर्षीय कृपाल दास और उनकी पत्नी शुक्रवार की सुबह करीब तीन बजे घर में सोए हुए थे। तभी उनका बड़ा पुत्र 40 वर्षीय रंजीत कुमार दास हाथ में गड़ासा लिए कमरे में आकर गाली-गलौज करने लगा। देर रात्रि में पुत्र को गाली गलौज करने से मना करने पर आरोपित पुत्र ने पिता पर ताबड़तोड़ प्रहार करना प्रारंभ कर दिया। करीब सात आठ बार प्रहार करने के बाद वृद्ध पिता जमीन पर गिर पड़े और मौत हो गई। पुत्र अपने पिता पर तब तक दाव से प्रहार करता रहा जब तक पिता की मौत नहीं हो गई। जब पड़ोसियों को इसकी भनक लगी तो लोगों हत्यारे पुत्र को पकड़ लिया।

घटना स्थल पर पहुंचे ओपी प्रभारी मिंटू कुमार झा ने हत्यारा पुत्र को गिरफ्तार कर लिया तथा मृतक के शव को कब्जे में लेकर उसे पोस्टमार्टम के लिए बेगूसराय भेज दिया। बताते चलें कि इस हत्यारे ने लगभग दस वर्ष पूर्व अपनी पत्नी की हत्या भी गला दबाकर कर दी थी। पत्नी कमली देवी की हत्या करने के आरोप में वह जेल भी जा चुका है। पत्नी की हत्या में जेल बंद रंजीत को जेल से छुड़ाने के लिए बूढ़े ने पिता ने कचहरी का चक्कर काट कर उसे कई साल कारावास में रहने के बाद बाहर निकलवाया था।

X
father killed by Son
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..