• Hindi News
  • Bihar
  • Patna
  • इस संत को पूजता था पूरा पाकिस्तान, पर अपने शहर में ही हैं अनजान
--Advertisement--

इस संत को पूजता था पूरा पाकिस्तान, पर अपने शहर में ही हैं अनजान

महाराजगंज से बीजेपी सांसद ने लोकसभा के मानसूत्र सत्र में पाकिस्तान में मौजूद संत के क्षतिग्रस्त मंदिर के पुनः निर्माण की पहल करने की मांग उठाकर उन महायोगी संत को देश ही नहीं विश्वपटल पर ले आया है।

Dainik Bhaskar

Jul 24, 2016, 12:42 AM IST
फाइल फोटो : गुरु परमहंस दयाल जी। फाइल फोटो : गुरु परमहंस दयाल जी।
मढ़ौरा (बिहार). इसे विडम्बना कहे या लोगों में जानकारी का अभाव कि जिस महान संत की भक्ति की चर्चा पाकिस्तान में होती रही, उस संत को शहर के लोग ही नहीं जानते। महाराजगंज से बीजेपी सांसद जर्नादन सिंह सिग्रीवाल ने लोकसभा के मानसूत्र सत्र में पाकिस्तान में मौजूद संत के क्षतिग्रस्त मंदिर के पुनः निर्माण की पहल करने की मांग उठाकर उन महायोगी संत को देश ही नहीं विश्वपटल पर ले आया है। यहां चर्चा हो रही है, ब्रह्मआश्रम सह विद्यालय के संस्थापक गुरु परमहंस दयाल जी अद्वैतानंद जी महाराज की। जानिए कहां के हैं ये संत...
- इनकी भक्ति और योग की शक्ति को पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने भी स्वीकार किया था।
- कोर्ट ने 4 अप्रैल 2015 को अपने एक आदेश में पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वाह प्रांत के कारक जिला के टेरी में चरमपंथियों द्वारा क्षतिग्रस्त उनकी समाधि पर बने मंदिर को प्रशासनिक देखरेख में पुनः निर्माण कराने को कहा था। इस आदेश के बाद भी पाकिस्तान सरकार ने संत के मंदिर निर्माण में रुचि नहीं दिखाई।
दहियावां में जन्मस्थल रहा है परमहंस दयाल जी का
- स्वामी जी का जुड़ाव छपरा शहर से है। करीब 170 वर्ष पूर्व यहीं के दहियावां मुहल्ले के एक ब्राह्मण परिवार में उनका जन्म 1846 ई. में हुआ था।
- जन्म के आठ माह बाद माता और पांच वर्ष बाद पिता तुलसीनाथ पाठक का देहांत हो गया था।
- यहीं से वैराग्य पथ पर अग्रसर संत देश के विभिन्न भागों का भ्रमण कर पाकिस्तान के टेरी पहुंचे थे।
- वर्षों तक लोगों के बीच योग क्रिया का ज्ञान बांटते रहे और वहीं समाधि ले ली। भक्तों ने उनके समाधिस्थल पर ही एक मंदिर का निर्माण कर दिया।
- यह मंदिर 1997 तक यथावत रहा। यहां गुरू परमहंस दयाल जी के पंथ के हजारों अनुयायी दर्शन व आशीर्वाद के लिए नियमित पहुंचते रहे।
- इसी बीच चरमपंथियों ने मंदिर पर हमला कर उसे बुरी तरह क्षतिग्रस्त कर दिया।
छपरा से पाकिस्तान के टेरी तक संत का सफर
- माता-पिता की मृत्यु के बाद संत 17 वर्ष की आयु तक छपरा के नई बाजार में लाला नरहर प्रसाद श्रीवास्तव के पुत्र की तरह उनके साथ रहे।
- उनकी मृत्यु के बाद परमहंस जी दयाल का मन भौतिक जगत से विरक्त हो गया और वे सन्यासी हो गए। छपरा से निकलकर वे कई प्रांतों में गए।
- जयपुर में संत आनंदपुरी के सानिध्य में लम्बे समय तक रहे। यहीं वे दयाल अद्वैतानंद जी महाराज कहे जाने लगे।
- फिर पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वाह प्रांत के कारक जिला स्थित टेरी पहुंचे। वहां स्वामी जी ने कृष्ण युग के योग शक्ति ज्ञान से अनुयायियों का परिचय कराया।
- अंत में उन्होंने अपनी गद्दी परमशिष्य स्वरूपानंद जी महाराज को सौंपा और 10 जुलाई 1919 को समाधि ले ली।
क्या है पाकिस्तान के सर्वोच्च न्यायालय का आदेश

- पाकिस्तान के हिन्दु परिषद के संरक्षक डॉ.रमेश कुमार बकवानी ने वहां के सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की थी।
- इस याचिका की सुनवाई के बाद सर्वोच्च न्यायालय ने चरमपंथियों द्वारा क्षतिग्रस्त हिन्दु मंदिर के पुनः निर्माण का आदेश प्रांतीय सरकार को 4 अप्रैल 2015 को दिया था।
- परंतु आज भी मंदिर की जमीन पर वहां के एक धार्मिक कट्‌टरपंथी ने कब्जा जमा रखा है।
अनुयायियों ने सांसद के सामने रखी थी पुनः निर्माण की मांग
- मंदिर के पुनः निर्माण के लिए स्वामी जी के अनुयायी मढ़ौरा निवासी प्रसिद्ध चिकित्सक डॉ.बीके सिंह व कई अन्य लोग पाकिस्तान सरकार से पत्राचार कर दर्जनों बार आग्रह कर चुके हैं।
- इस बीच मंदिर के पुन: निर्माण के लिए दर्ज मुकदमे की सुनवाई के दौरान पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट का पक्ष में निर्णय भी आया। फिर भी वहां की सरकार ने मंदिर निर्माण की पहल नहीं की।
- डॉ. सिंह के साथ संत के अनुयायियों ने सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल से भी मिलकर केंद्र सरकार के स्तर पर पहल करने की गुजारिश की थी।
आगे की स्लाइड्स में देखें गुरु परमहंस दयाल जी की चुनिंदा फोटोज...
गुरु परमहंस दयाल जी के बालों की समाधि। गुरु परमहंस दयाल जी के बालों की समाधि।
गुरु परमहंस दयाल जी बिहार के छपरा से हैं। गुरु परमहंस दयाल जी बिहार के छपरा से हैं।
गुरु परमहंस दयाल जी की समाधि। गुरु परमहंस दयाल जी की समाधि।
पाकिस्तान में गुरु परमहंस दयाल जी का मंदिर है जो लगभग टूट गया है। पाकिस्तान में गुरु परमहंस दयाल जी का मंदिर है जो लगभग टूट गया है।
पाकिस्तान में दयाल जी के मंदिर की स्थिति सुधारने के लिए बीजेपी सांसद ने मानसून सत्र में इस मुद्दे को उठाया है। पाकिस्तान में दयाल जी के मंदिर की स्थिति सुधारने के लिए बीजेपी सांसद ने मानसून सत्र में इस मुद्दे को उठाया है।
पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने इस संत के मंदिर को फिर से बनाने के लिए पाक सरकार को कहा था। पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने इस संत के मंदिर को फिर से बनाने के लिए पाक सरकार को कहा था।
फिलहाल, दयाल जी के मंदिर को लेकर पाकिस्तान की सरकार कुछ नहीं कर रही है। फिलहाल, दयाल जी के मंदिर को लेकर पाकिस्तान की सरकार कुछ नहीं कर रही है।
X
फाइल फोटो : गुरु परमहंस दयाल जी।फाइल फोटो : गुरु परमहंस दयाल जी।
गुरु परमहंस दयाल जी के बालों की समाधि।गुरु परमहंस दयाल जी के बालों की समाधि।
गुरु परमहंस दयाल जी बिहार के छपरा से हैं।गुरु परमहंस दयाल जी बिहार के छपरा से हैं।
गुरु परमहंस दयाल जी की समाधि।गुरु परमहंस दयाल जी की समाधि।
पाकिस्तान में गुरु परमहंस दयाल जी का मंदिर है जो लगभग टूट गया है।पाकिस्तान में गुरु परमहंस दयाल जी का मंदिर है जो लगभग टूट गया है।
पाकिस्तान में दयाल जी के मंदिर की स्थिति सुधारने के लिए बीजेपी सांसद ने मानसून सत्र में इस मुद्दे को उठाया है।पाकिस्तान में दयाल जी के मंदिर की स्थिति सुधारने के लिए बीजेपी सांसद ने मानसून सत्र में इस मुद्दे को उठाया है।
पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने इस संत के मंदिर को फिर से बनाने के लिए पाक सरकार को कहा था।पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने इस संत के मंदिर को फिर से बनाने के लिए पाक सरकार को कहा था।
फिलहाल, दयाल जी के मंदिर को लेकर पाकिस्तान की सरकार कुछ नहीं कर रही है।फिलहाल, दयाल जी के मंदिर को लेकर पाकिस्तान की सरकार कुछ नहीं कर रही है।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..