--Advertisement--

'झांसी की रानी' से फेमस हुई थी ये बिहारी लड़की, स्कीन कलर को ले हुई थी रिजेक्ट

इनदिनों चर्चा है कि वे बॉलीवुड में 'स्टूडेंट ऑफ द ईयर-2' से एंट्री कर सकती हैं।

Dainik Bhaskar

Nov 24, 2017, 02:45 AM IST
उल्का गुप्ता का जन्म 12 अप्रैल 1997 को मुंबई में हुआ था। उल्का गुप्ता का जन्म 12 अप्रैल 1997 को मुंबई में हुआ था।

पटना. सहरसा बिहार की रहने वाली उल्का गुप्ता टीवी सीरियल 'झांसी की रानी' से फेमस हुई थी। इनदिनों चर्चा है कि वे बॉलीवुड में 'स्टूडेंट ऑफ द ईयर-2' से एंट्री कर सकती हैं। लेकिन उन्होंने इस खबर को अफवाह बताया है। बता दें कि उल्का गुप्ता अपने सांवले होने के चलते कई बार उन्हें रिजेक्ट किया जा चुका है। हालांकि उनके सांवले कलर का फायदा भी मिला और इसी वजह से उन्हें 'सलोनी की बेटी' सीरियल मिली थी।

पिता थियेटर आर्टिस्ट तो बहन है एक्ट्रेस

उल्का इनदिनों सीरियल ‘शक्तीपीठ के भैरव’ में नजर आ रही हैं। उल्का गुप्ता का जन्म 12 अप्रैल 1997 को मुंबई में हुआ था। उनके पिता गगन गुप्ता थियेटर आर्टिस्ट जबकि उनकी बहन गोया गुप्ता एक्ट्रेस हैं। गोया ने साल 2012 में सीरियल 'लाखों में एक' में काम किया है। बता दें कि उल्का की पढ़ाई मुंबई के रूस्तमजी इंटरनेशनल स्कूल से हुई है।

पिता को मानती है रोल मॉडल

उल्का का कहना है कि पिता उनके सबसे अच्छे दोस्त और गाइड हैं। कहा जाए तो वे उनके रोल मॉडल हैं। सहरसा शहर के चांदनी चौक के रहने वाले गगन गुप्ता 30 साल पहले मुंबई चले गए थे। मुंबई में उन्होंने कई साल तक स्ट्रगल किया लेकिन फिर भी थियेटर आर्टिस्ट से आगे नहीं बढ़ सके। हालांकि उन्होंने भी कई सीरियल्स में छोटे रोल किए। स्ट्रगल के दौरान ही उन्होंने मंजू गुप्ता से शादी कर ली।

2007 में सीरियल से उल्का को मिला ब्रेक

एक इंटरव्यू के मुताबिक, पिता के पास उतने पैसे नहीं थे कि वे उल्का का एडमिशन किसी बेस्ट एक्टिंग इंस्टिट्यूट में करा सके। लिहाजा, उन्होंने खुद उल्का को एक्टिंग की बारिकियां बताई। जब उल्का 10 साल की थी तो उन्हें टीवी सीरियल 'रेशम दान' में पहला ब्रेक मिल गया। इसके बाद उन्होंने 'सात फेरे', 'सवारी', 'सलोनी की बेटी' जैसे सीरियल्स में काम किया। साल 2009 में उन्हें 'झांसी की रानी' मिली। बता दें कि उल्का तेलगू फिल्म 'अंधरा पोरी', मराठी फिल्म 'ओढ-एट्रेक्शन', सीमा कपूर की हिन्दी फिल्म 'मिस्टर काबेडी' में लीड रोल प्ले चुकी हैं।

आगे की स्लाइड्स में देखें संबंधित फोटोज...

सहरसा बिहार की रहने वाली उल्का गुप्ता टीवी सीरियल 'झांसी की रानी' से फेमस हुई थी। सहरसा बिहार की रहने वाली उल्का गुप्ता टीवी सीरियल 'झांसी की रानी' से फेमस हुई थी।
उल्का गुप्ता अपने सांवले होने के चलते कई बार उन्हें रिजेक्ट किया जा चुका है। उल्का गुप्ता अपने सांवले होने के चलते कई बार उन्हें रिजेक्ट किया जा चुका है।
उनके सांवले कलर का फायदा भी मिला और इसी वजह से उन्हें 'सलोनी की बेटी' सीरियल मिली थी। उनके सांवले कलर का फायदा भी मिला और इसी वजह से उन्हें 'सलोनी की बेटी' सीरियल मिली थी।
उल्का इनदिनों सीरियल ‘शक्तीपीठ के भैरव’ में नजर आ रही हैं। उल्का इनदिनों सीरियल ‘शक्तीपीठ के भैरव’ में नजर आ रही हैं।
उनके पिता गगन गुप्ता थियेटर आर्टिस्ट जबकि उनकी बहन गोया गुप्ता एक्ट्रेस हैं। उनके पिता गगन गुप्ता थियेटर आर्टिस्ट जबकि उनकी बहन गोया गुप्ता एक्ट्रेस हैं।
गोया ने साल 2012 में सीरियल 'लाखों में एक' में काम किया है। गोया ने साल 2012 में सीरियल 'लाखों में एक' में काम किया है।
उल्का की पढ़ाई मुंबई के रूस्तमजी इंटरनेशनल स्कूल से हुई है। उल्का की पढ़ाई मुंबई के रूस्तमजी इंटरनेशनल स्कूल से हुई है।
उल्का का कहना है कि पिता उनके सबसे अच्छे दोस्त और गाइड हैं। उल्का का कहना है कि पिता उनके सबसे अच्छे दोस्त और गाइड हैं।
सहरसा शहर के चांदनी चौक के रहने वाले गगन गुप्ता 30 साल पहले मुंबई चले गए थे। सहरसा शहर के चांदनी चौक के रहने वाले गगन गुप्ता 30 साल पहले मुंबई चले गए थे।
मुंबई में उन्होंने कई साल तक स्ट्रगल किया लेकिन फिर भी थियेटर आर्टिस्ट से आगे नहीं बढ़ सके। मुंबई में उन्होंने कई साल तक स्ट्रगल किया लेकिन फिर भी थियेटर आर्टिस्ट से आगे नहीं बढ़ सके।
उल्का 10 साल की थी तो उन्हें टीवी सीरियल 'रेशम दान' में पहला ब्रेक मिल गया। उल्का 10 साल की थी तो उन्हें टीवी सीरियल 'रेशम दान' में पहला ब्रेक मिल गया।
X
उल्का गुप्ता का जन्म 12 अप्रैल 1997 को मुंबई में हुआ था।उल्का गुप्ता का जन्म 12 अप्रैल 1997 को मुंबई में हुआ था।
सहरसा बिहार की रहने वाली उल्का गुप्ता टीवी सीरियल 'झांसी की रानी' से फेमस हुई थी।सहरसा बिहार की रहने वाली उल्का गुप्ता टीवी सीरियल 'झांसी की रानी' से फेमस हुई थी।
उल्का गुप्ता अपने सांवले होने के चलते कई बार उन्हें रिजेक्ट किया जा चुका है।उल्का गुप्ता अपने सांवले होने के चलते कई बार उन्हें रिजेक्ट किया जा चुका है।
उनके सांवले कलर का फायदा भी मिला और इसी वजह से उन्हें 'सलोनी की बेटी' सीरियल मिली थी।उनके सांवले कलर का फायदा भी मिला और इसी वजह से उन्हें 'सलोनी की बेटी' सीरियल मिली थी।
उल्का इनदिनों सीरियल ‘शक्तीपीठ के भैरव’ में नजर आ रही हैं।उल्का इनदिनों सीरियल ‘शक्तीपीठ के भैरव’ में नजर आ रही हैं।
उनके पिता गगन गुप्ता थियेटर आर्टिस्ट जबकि उनकी बहन गोया गुप्ता एक्ट्रेस हैं।उनके पिता गगन गुप्ता थियेटर आर्टिस्ट जबकि उनकी बहन गोया गुप्ता एक्ट्रेस हैं।
गोया ने साल 2012 में सीरियल 'लाखों में एक' में काम किया है।गोया ने साल 2012 में सीरियल 'लाखों में एक' में काम किया है।
उल्का की पढ़ाई मुंबई के रूस्तमजी इंटरनेशनल स्कूल से हुई है।उल्का की पढ़ाई मुंबई के रूस्तमजी इंटरनेशनल स्कूल से हुई है।
उल्का का कहना है कि पिता उनके सबसे अच्छे दोस्त और गाइड हैं।उल्का का कहना है कि पिता उनके सबसे अच्छे दोस्त और गाइड हैं।
सहरसा शहर के चांदनी चौक के रहने वाले गगन गुप्ता 30 साल पहले मुंबई चले गए थे।सहरसा शहर के चांदनी चौक के रहने वाले गगन गुप्ता 30 साल पहले मुंबई चले गए थे।
मुंबई में उन्होंने कई साल तक स्ट्रगल किया लेकिन फिर भी थियेटर आर्टिस्ट से आगे नहीं बढ़ सके।मुंबई में उन्होंने कई साल तक स्ट्रगल किया लेकिन फिर भी थियेटर आर्टिस्ट से आगे नहीं बढ़ सके।
उल्का 10 साल की थी तो उन्हें टीवी सीरियल 'रेशम दान' में पहला ब्रेक मिल गया।उल्का 10 साल की थी तो उन्हें टीवी सीरियल 'रेशम दान' में पहला ब्रेक मिल गया।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..