पटना

--Advertisement--

जमीन विवाद में शख्स के सिर और सीने में उतार दी गोलियां, पुलिस पर ये आरोप

आरोप है कि पुलिस घायल का इलाज कराने के बजाय बक्सर ले आई। जहां इलाज न कराकर पोस्टमार्टम कराने के लिए पहुंचा दिया।

Dainik Bhaskar

Nov 26, 2017, 06:07 AM IST
Man shot dead in land dispute

बक्सर/इटाढ़ी. इटाढ़ी थाना एरिया के बकसड़ा गांव के बाहर कोच पुल के पास शनिवार की शाम अपराधियों ने जमीन विवाद में बक्सर नगर परिषद की पूर्व चेयरमैन मीना सिंह के भतीजे की गोली मारकर हत्या कर दी। बताया जा रहा है कि अपराधियों ने सामने से विनोद कुशवाहा के सीने व खोपड़ी में तीन गोलियां मारी हैं। जिससे घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई। हत्या की सूचना पर अस्पताल पहुंचे परिजनों ने जमकर बवाल काटा। पोस्टमार्टम रूम से जबरन शव लेकर ज्योति चौक के पास सड़क जाम कर दिया। मौके पर तीन घंटे तक आगजनी और प्रदर्शन किया।


सवालों के घेरे में थानेदार की कार्यशैली

पूरे मामले में पुलिस की कार्यशैली पर सवालिया निशान लगाया जा रहा है। लोगों की मांग थी कि इटाढ़ी थानेदार शमीम अहमद पर हत्या का मुकदमा दर्ज किया जाय। थानेदार पर वक्ताओं ने आरोप लगाया गया कि हत्या के पांच मिनट के अंदर घटनास्थल पर पहुंचे। इटाढ़ी में इलाज कराने के बजाय बक्सर लाया। जहां इलाज न कराकर पोस्टमार्टम कराने के लिए पहुंचा दिया। परिजनों का आरोप था कि गोली लगने के बाद जख्मी का इलाज नहीं कराया गया। यदि इलाज होता। तो उसकी जान बच जाती। मृतक का साला अरविंद ने आरोप लगाया कि थानेदार ने ही हत्या कराई है।

पांच बीघा जमीन को लेकर था विवाद

बताया जा रहा है कि मृतक विनोद कुशवाहा ने इटाढ़ी थाना क्षेत्र के कनपुरा गांव में पांच बीघा जमीन खरीदा था। परिजनों का कहना है कि जमीन खरीदने के बाद से ही ललन कोईरी से विवाद होने लगा। एसडीओ से लेकर कोर्ट तक मामला गया। सभी जगह विनोद कुशवाहा की जीत हुई। शुक्रवार को भी कोर्ट ने विनोद के पक्ष में फैसला सुनाया था। उसी जमीन पर विनाेद कुशवाहा बाइक से जा रहे थे। कोच पुल के पास घात लगाए अपराधियों ने गोलियां बरसाना शुरू कर दिया। गोली लगते ही विनोद सड़क पर गिर पड़े। कुछ ही देर पर पुलिस पहुंच गई।

आक्रोशित ले गए अपने साथ शव

सदर एसडीपीओ शैशव यादव आक्रोशितों को समझाने के प्रयास में लगे हुए थे। पर मामला कहीं से शांत होता नजर आ रहा था। आक्रोशितों का आरोप था कि बिना परिजनों के कैसे पुलिस पोस्टमार्टम के लिए शव को ले आई। परिजनों के आने के बाद प्रक्रिया आगे बढ़ती। आक्रोशित पुलिस को बौना साबित किया। भीड़ ने पोस्टमार्टम रूम में जड़े ताले को तोड़कर शव को वाहन में लादकर निकल गई। वहीं एसडीपीओ खड़े-खड़े अपनी आंखों के सामने सबकुछ होता देख रहे थे। एसडीपीओ ने अतिरिक्त फोर्स मंगाया।

आगे की स्लाइड्स में देखें रिलेटेड फोटोज...

Man shot dead in land dispute
Man shot dead in land dispute
Man shot dead in land dispute
Man shot dead in land dispute
Man shot dead in land dispute
X
Man shot dead in land dispute
Man shot dead in land dispute
Man shot dead in land dispute
Man shot dead in land dispute
Man shot dead in land dispute
Man shot dead in land dispute
Click to listen..