--Advertisement--

बिहार पहुंचे 'काबिल' और 'रईस' फिल्म के ये एक्टर, कहा- ऐसे बन गया एक्टर

रईस में नरेंद्र ने एक डॉन का कैरेक्टर प्ले किया था तो वहीं काबिल में वे एक पुलिस अफसर बने थे।

Dainik Bhaskar

Nov 26, 2017, 07:23 AM IST
बिहार के मधुबनी जिले के कोईलक गांव में नरेंद्र को जन्म हुआ। यही से उन्होंने अपनी स्कूलिंग पूरी की। बिहार के मधुबनी जिले के कोईलक गांव में नरेंद्र को जन्म हुआ। यही से उन्होंने अपनी स्कूलिंग पूरी की।

पटना. बिहार के मधुबनी जिले के रहने वाले नरेंद्र झा शनिवार को पटना में थे। उन्होंने यहां अपनी अभी तक के फिल्मी करियर को लेकर बात की। उन्होंने बताया कि उनके पिता की इच्छा थी कि वे सिविल सर्विस की तैयारी करें। लेकिन उनका मन मॉडलिंग और एक्टिंग में लगा रहा। नरेंद्र झा ने बताया कि उनकी अपकमिंग मूवी 'विराम' एक दिसंबर को रिलीज होगी। बता दें कि नरेंद्र की हालिया रिलीज 'काबिल' और 'रईस' सुपरहीट थी।

नरेंद्र झा ने बताया कि मधुबनी के कोएलख गांव में उनका जन्म हुआ। फैमिली में शिक्षा और संस्कृति को लेकर बेहतर माहौल था। पटना के बीएन कॉलेज से बीए तक की पढ़ाई की। इसके बाद मशहूर इतिहासकार रोमिला थापर से इतिहास पढ़ने की इच्छा मन में जगी। उनसे पढ़ने के लिए जेएनयू में एमए इतिहास में एडमिशन लिया।


शूटिंग के दौरान मिली थी पिता की डेथ की खबर

नरेंद्र झा ने कहा कि ये पिता के प्रति मेरी श्रद्धांजलि ही थी कि जब उनकी 91 वर्ष की उम्र में मृत्यु की सूचना मिली तब फिल्म की शूटिंग में व्यस्त था। थोड़ी देर के लिए सदमा पहुंचा, पर खुद को संभाला और फिर शूटिंग के लिए तैयार हो गया। शूटिंग छोड़ देता तो पिता की आत्मा को दुख पहुंचता। पद्मावती फिल्म पर कहा- मैं लोगों की भावना का सम्मान करता हूं। सेंसर बोर्ड के फैसले का इंतजार करना चाहिए।

कई भाषा की फिल्में कीं

नरेंद्र कहते हैं कि एक्टिंग के क्षेत्र में आने से पहले उन्होंने मॉडलिंग की। इसके बाद करीब 70 टीवी सीरियलों में काम किया। 45 में लीड रोल किया। हिंदी, तेलुगू, तमिल, संस्कृति आदि लैंग्वेज में कई फिल्मों में एक्टिंग। श्याम बेनेगल की सुभाषचंद्र बोस द लास्ट हीरो, राजामौली की तेलुगू फिल्म छत्रपति और यम दोंगा, तेलुगू की ही द लीजेंड, जीवी अय्यर की संस्कृत में बनी चार फिल्मों में काम किया।

आगे की स्लाइड्स में देखें नरेंद्र झा की फोटोज...

उन्होंने दरभंगा कॉलेज, पटना से ग्रैजुएशन और जेएनयू से पोस्ट ग्रैजुएशन किया। उन्होंने दरभंगा कॉलेज, पटना से ग्रैजुएशन और जेएनयू से पोस्ट ग्रैजुएशन किया।
नरेंद्र बचपन से ही एक्टिंग करते थे। वे स्कूल और कॉलेज में स्टेज प्रोग्राम में पार्टिसिपेट करते थे। नरेंद्र बचपन से ही एक्टिंग करते थे। वे स्कूल और कॉलेज में स्टेज प्रोग्राम में पार्टिसिपेट करते थे।
नरेंद्र झा ने जब ग्रैजुएशन पूरा किया तो वे दिल्ली आ गए। यहां उन्होंने जेएनयू में एडमिशन लिया। नरेंद्र झा ने जब ग्रैजुएशन पूरा किया तो वे दिल्ली आ गए। यहां उन्होंने जेएनयू में एडमिशन लिया।
यहां पढ़ाई के दौरान वे कभी सिविल सर्विस में जाने की सोचते थे तो कभी लैक्चरशिप के बारे में। यहां पढ़ाई के दौरान वे कभी सिविल सर्विस में जाने की सोचते थे तो कभी लैक्चरशिप के बारे में।
इसी दौरान उनका एक्टिंग का शौक भी जारी रहा। इस दौरान उनके फ्रेंड्स उन्हें एक्टिंग और मॉडलिंग की सलाह देते थे। इसी दौरान उनका एक्टिंग का शौक भी जारी रहा। इस दौरान उनके फ्रेंड्स उन्हें एक्टिंग और मॉडलिंग की सलाह देते थे।
नरेंद्र झा ने 11 मई, 2015 को सेंसर बोर्ड की पूर्व CEO पंकजा ठाकुर से शादी की है। नरेंद्र झा ने 11 मई, 2015 को सेंसर बोर्ड की पूर्व CEO पंकजा ठाकुर से शादी की है।
नरेंद्र और पंकजा दोनों एक-दूसरे को दिल्ली में कॉलेज के दिनों से जानते थे। नरेंद्र और पंकजा दोनों एक-दूसरे को दिल्ली में कॉलेज के दिनों से जानते थे।
अपने पिता के साथ नरेंद्र झा। अपने पिता के साथ नरेंद्र झा।
X
बिहार के मधुबनी जिले के कोईलक गांव में नरेंद्र को जन्म हुआ। यही से उन्होंने अपनी स्कूलिंग पूरी की।बिहार के मधुबनी जिले के कोईलक गांव में नरेंद्र को जन्म हुआ। यही से उन्होंने अपनी स्कूलिंग पूरी की।
उन्होंने दरभंगा कॉलेज, पटना से ग्रैजुएशन और जेएनयू से पोस्ट ग्रैजुएशन किया।उन्होंने दरभंगा कॉलेज, पटना से ग्रैजुएशन और जेएनयू से पोस्ट ग्रैजुएशन किया।
नरेंद्र बचपन से ही एक्टिंग करते थे। वे स्कूल और कॉलेज में स्टेज प्रोग्राम में पार्टिसिपेट करते थे।नरेंद्र बचपन से ही एक्टिंग करते थे। वे स्कूल और कॉलेज में स्टेज प्रोग्राम में पार्टिसिपेट करते थे।
नरेंद्र झा ने जब ग्रैजुएशन पूरा किया तो वे दिल्ली आ गए। यहां उन्होंने जेएनयू में एडमिशन लिया।नरेंद्र झा ने जब ग्रैजुएशन पूरा किया तो वे दिल्ली आ गए। यहां उन्होंने जेएनयू में एडमिशन लिया।
यहां पढ़ाई के दौरान वे कभी सिविल सर्विस में जाने की सोचते थे तो कभी लैक्चरशिप के बारे में।यहां पढ़ाई के दौरान वे कभी सिविल सर्विस में जाने की सोचते थे तो कभी लैक्चरशिप के बारे में।
इसी दौरान उनका एक्टिंग का शौक भी जारी रहा। इस दौरान उनके फ्रेंड्स उन्हें एक्टिंग और मॉडलिंग की सलाह देते थे।इसी दौरान उनका एक्टिंग का शौक भी जारी रहा। इस दौरान उनके फ्रेंड्स उन्हें एक्टिंग और मॉडलिंग की सलाह देते थे।
नरेंद्र झा ने 11 मई, 2015 को सेंसर बोर्ड की पूर्व CEO पंकजा ठाकुर से शादी की है।नरेंद्र झा ने 11 मई, 2015 को सेंसर बोर्ड की पूर्व CEO पंकजा ठाकुर से शादी की है।
नरेंद्र और पंकजा दोनों एक-दूसरे को दिल्ली में कॉलेज के दिनों से जानते थे।नरेंद्र और पंकजा दोनों एक-दूसरे को दिल्ली में कॉलेज के दिनों से जानते थे।
अपने पिता के साथ नरेंद्र झा।अपने पिता के साथ नरेंद्र झा।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..