--Advertisement--

दारोगा की दादागिरी : SSP से शिकायत पर दारोगा ने टीचर को घर से खींच कर पीटा

पुलिस अधिकारी द्वारा घर से खींच कर टीचर की पिटाई से पूरा परिवार सहमा हुआ व सदमे में है।

Dainik Bhaskar

Nov 23, 2017, 04:37 AM IST
सीसीटीवी कैमरे में कैद दारोगा की दादागीरी की करतूत। सीसीटीवी कैमरे में कैद दारोगा की दादागीरी की करतूत।

मानपुर (गया). मुफ्फसिल थाना अंतर्गत कलपुनगर में मंगलवार देर रात पुलिस की दबंगई एक बार फिर सामने आई। पुलिसिया तांडव की पूरी घटना सीसीटीवी में कैद है। मुफ्फसिल थाना पुलिस अधिकारी द्वारा घर में और खुले में समाज के सम्मानित समझे जाने वाले एक शिक्षक की पिटाई से पूरा परिवार सहमा हुआ व सदमे में है।

वायरल वीडियो के अनुसार घटना 21 नवम्बर रात 23 बजकर 55 मिनट की है। पेशे से शिक्षक और एलआईसी का अभिकर्ता अरुण कुमार सिंह को थाना में पदस्थापित अधिकारी द्वारा बेवजह पिटाई से पूरे परिवार में दहशत का माहौल है। शिक्षक का जुर्म बस इतना था कि दरोगा मनोज कुमार द्वारा जबरन बाइक उठाने की शिकायत एसएसपी से कर दी थी। और दारोगा को यह बात रास नहीं आई और पिटाई कर दी। साथ ही साथ गोली मारने की भी धमकी दे गए।

दो वाहनों के साथ पहुंची थी पुलिस, घर खुलवाकर की पिटाई

रविवार देर रात जनकपुर मोहल्ले में दो गुटों में झगड़े के बाद गोलीबारी की घटना को अंजाम दिया गया था। इसी मामले के तहकीकात के दौरान कुम्हरटोली स्थित चमरटोली से बिना नंबर खड़ी बजाज पल्सर जब्त कर थाना में जमा करा दिया गया। गाड़ी के कागजात दिखाए जाने के बाद भड़के अधिकारी द्वारा थाना परिसर से पीड़ित अरुण को भगा देने के मामले की शिकायत एसएसपी से करने पर रात्रि गश्ती के दौरान दो वाहनों से पहुंचे पुलिस पदाधिकार द्वारा घर के दरवाजे खुलवा कर मंगलवार देर रात जमकर पिटाई की गई।

दारोगा ने पिटाई के बाद शिक्षक को दी गोली मारने की धमकी

10 मिनट के सीसीटीवी फुटेज में सात मिनट तक शिक्षक की पिटाई और गाली गलौज की गई और भागने पर पिटाई करने वाले पदाधिकारी द्वारा गोली मारने की धमकी तक दी गई। पीड़ित शिक्षक अरुण कुमार सिंह ने बताया कि मामले की जानकारी डीएसपी वजीरगंज को दिया गया। परंतु उन्होंने जानकारी नहीं होने की बात कह कर पल्ला झाड़ लिया। मारपीट से घायल शिक्षक का जयप्रकाश नारायण अस्पताल में इलाज कराया गया। इस बर्बर कार्रवाई से मोहल्ले में दहशत व्याप्त है। पुलिस के भय से कोई मीडिया के सामने मुंह खोलने को तैयार नही है।

घटना के बाद सहमे परिजन, कुछ भी बोलने कर रहे इनकार

सहमे परिजन बीती रात की इस घटना से अवाक हैं। न्याय की अपेक्षा लेकर मुफ्फसिल पुलिस के खिलाफ वरीय अधिकारियों से शिकायत की थी। लेकिन शिकायत के प्रतिरोध में पुलिस इस कदर गुंडागर्दी करेगी, इसका किसी को एहसास नहीं था। पीड़ित परिवार के लोग बताते हैं, कि न्याय मांगने गए थे, लेकिन उसका यह परिणाम मिला। रात में अचानक दो गाड़ी पर सवार होकर आए पुलिसकर्मियों ने हमारे परिवार के साथ घर और घर के बाहर सरेआम मारपीट की। हमलोगों को क्या पता था की वरीय अधिकारी से शिकायत करने का दंड इस तरह मिलेगा।

उधर, मारपीट के सीसीटीवी फुटेज दिखाए जाने पर एसएचओ कमलेश कुमार शर्मा ने मामले की जांच कर दोषी पुलिस पदाधिकारियों पर कार्रवाई का भरोसा दिलाया।

X
सीसीटीवी कैमरे में कैद दारोगा की दादागीरी की करतूत।सीसीटीवी कैमरे में कैद दारोगा की दादागीरी की करतूत।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..