बैंकों के बाद अब डाकघर के एफडी पर घट सकती है ब्याज दर

Patna News - पटना | स्टेट बैंक आॅफ इंडिया सहित अन्य बैंकों के बाद अब डाकघर में भी एफडी पर ब्याज दर कम हो सकते हैं। रिजर्व बैंक...

Feb 15, 2020, 09:16 AM IST

पटना | स्टेट बैंक आॅफ इंडिया सहित अन्य बैंकों के बाद अब डाकघर में भी एफडी पर ब्याज दर कम हो सकते हैं। रिजर्व बैंक सरकार से कई बार डाकघर की जमा राशि पर ब्याज दर घटाने के लिए कह चुका है। जिसको ध्यान में रखते हुए यह कदम उठाया जा सकता है। संभावना जताई जा रही है कि 1 अप्रैल से डाकघर की जमा राशि पर ब्याज दरें घट सकती हैं। ऐसे में ग्राहक अभी डाकघर की एफडी या किसान विकास पत्र जैसी बचत योजनाओं में निवेश कर ऊंची दरों का फायदा उठा सकते हैं। डाकघर की एफडी की ब्याज दर फिलहाल 1.7 प्रतिशत ज्यादा है। डाकघर में पांच साल की एफडी पर ब्याज 7.7 फीसदी है, जबकि एक से तीन साल की एफडी की ब्याज दर 6.9 प्रतिशत है। वहीं एसबीआई पांच साल की एफडी पर 6 प्रतिशत ब्याज दे रहा है। ऐसे में ग्राहक दरें घटने से पहले डाकघर में एफडी कराकर ज्यादा लाभ उठा सकते हैं। वहीं डाकघर की पांच साल के रेकरिंग डिपॉजिट (आरडी) पर ब्याज की दर 7.2 प्रतिशत है। जो बैंक की एफडी से करीब 1.2 प्रतिशत अधिक है। डाकघर पांच साल के राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (एनएससी) पर 7.9 प्रतिशत ब्याज दे रहा है। जबकि किसान विकास पत्र (केवीपी) पर ग्राहकों को 7.6 प्रतिशत ब्याज दिया रहा है। विशेष तौर पर बेटियों के लिए शुरू किए गए सुकन्या समृद्धि खाता पर 8.4 प्रतिशत ब्याज मिल रहा है। जबकि वरिष्ठ नागरिक के लिए ब्याज की दर 8.6 प्रतिशत है।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना