• Hindi News
  • Bihar
  • Patna
  • After the death of the young man, angry villagers set fire to 15 vechicles. Police lathi-charged to control the situation.
--Advertisement--

बिहार: औरंगाबाद में उग्र लोगों ने थाने में घुस 26 वाहन फूंके, लाठीचार्ज और ‌फायरिंग

युवक अपने बड़े भाई को दफ्तर छोड़कर घर लौट रहा था। इसी दौरान तेज रफ्तार ट्रक की चपेट में आने से उसकी मौत हो गई।

Dainik Bhaskar

May 18, 2018, 07:40 AM IST

बारूण (औरंगाबाद). औरंगाबाद में झुमरडिहरा गांव के पास बालू लदे ट्रैक्टर ने गुरुवार सुबह आठ बजे 20 साल के युवक गौतम कुमार को कुचल दिया जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। परिजनों के आने से पहले ही पुलिस शव को उठाकर पोस्टमार्टम के लिए ले जा रही थी। इससे नाराज ग्रामीणों ने शव को पुलिस की गाड़ी से जबरन उतार लिया और थाने के सामने रख दिया। इसके बाद पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। पुलिस ने शव उठाने के लिए बल प्रयोग किया तो भीड़ और उग्र हाे गई और थाने पर पथराव कर दिया। थाने में घुसकर परिसर में रखीं 26 गाड़ियाें को भी फूंक डाला। इसके बाद भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने सात राउंड फायरिंग की। डेढ़ घंटे थाने के आसपास का इलाका रणक्षेत्र बना रहा। पथराव में थानाध्यक्ष समेत 12 जवान घायल हो गए। वहीं लाठीचार्ज में 50 लोग गंभीर रूप से जख्मी हुए हैं। एसपी डॉ. सत्य प्रकाश ने बताया कि उपद्रव करने के अारोप में अबतक 36 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। अन्य आरोपियों की पहचान में पुलिस जुटी है।

पुलिस पोस्टमार्टम के लिए ले जा रही थी शव, लोगों को लगा रफा-दफा का हो रहा प्रयास और भड़क गई भीड़
- हादसे के बाद पुलिस परिजनों के आने से पहले ही शव को पोस्टमार्टम के लिए ले जा रही थी। लोगों को लगा कि पुलिस मामले काे रफा-दफा करने की कोशिश में शव को ठिकाने लगाने की तैयारी में है। इसी आशंका में वहां मौजूद ग्रामीण उग्र हो गए। मृतक 20 वर्षीय गौतम कुमार बारूण के निमटोली निवासी कामदेव पासवान का बेटा था। गौतम बड़े भाई जयप्रकाश कुमार को बिजली परियोजना में छोड़कर वापस बाइक से लौट रहा था। तभी नवीनगर-बारूण रोड के झुमरडिहरा गांव के पास सड़क पर बालू लदे ट्रैक्टर ने उसे कुचल दिया। मौके पर ही उसकी मौत हो गई।

थाने के कमरों में दुबके रहे थानाध्यक्ष और सभी जवान
भीड़ के अंधाधुंध पथराव के बाद पुलिस के जवानों ने थाने के कमरों में दुबककर कर जान बचाई। करीब डेढ़ घंटे तक थानाध्यक्ष भी दुबके रहे। हालांकि उन्होंने इसकी सूचना वरीय अफसरों को दे दी। सूचना पाकर सदर एसडीओ, एसडीपीओ व पुलिस लाइन से क्यूआरटी टीम मौके पर पहुंची। फिर तुरंत एसपी ने भी माैके पर पहुंच कर मोर्चा संभाल लिया।

बालू लदे वाहनों पर लगाम की मांग पर कार्रवाई नहीं

- बारूण और नवीनगर में बालू माफियाओं का कब्जा है। इसका खुलासा प्रशासन की जांच में हो चुका है। प्रदर्शन कर रहे लोगों का कहना था कि पुलिस व बालू माफिया के गठजोड़ से आए दिन लोगों की जानें जा रही हैं। 23 दिन के अंदर चार लोगों की मौत हो चुकी है।

सड़क हादसे में युवक की मौत के बाद गुस्साए ग्रामीणों ने कई गाड़ियों में आग लगा दी। सड़क हादसे में युवक की मौत के बाद गुस्साए ग्रामीणों ने कई गाड़ियों में आग लगा दी।
घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने थाने में पत्थरबाजी की। घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने थाने में पत्थरबाजी की।
सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण बारुण थाना पहुंचे और प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन किया सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण बारुण थाना पहुंचे और प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन किया
पथराव और लाठीचार्ज में 12 पुलिसकर्मियों समेत 62 घायल पथराव और लाठीचार्ज में 12 पुलिसकर्मियों समेत 62 घायल
X
सड़क हादसे में युवक की मौत के बाद गुस्साए ग्रामीणों ने कई गाड़ियों में आग लगा दी।सड़क हादसे में युवक की मौत के बाद गुस्साए ग्रामीणों ने कई गाड़ियों में आग लगा दी।
घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने थाने में पत्थरबाजी की।घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने थाने में पत्थरबाजी की।
सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण बारुण थाना पहुंचे और प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन कियासैकड़ों की संख्या में ग्रामीण बारुण थाना पहुंचे और प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन किया
पथराव और लाठीचार्ज में 12 पुलिसकर्मियों समेत 62 घायलपथराव और लाठीचार्ज में 12 पुलिसकर्मियों समेत 62 घायल
Bhaskar Whatsapp

Recommended