बाढ़ / बागमती बेसिन की सारी नदियों पर सैटेलाइट से रखी जाएगी निगरानी



All the rivers of the Bagmati basin will be monitored from the satellite
X
All the rivers of the Bagmati basin will be monitored from the satellite

  • बागमती, कमला, कोसी, गंडक, बूढ़ी गंडक, घाघरा की विशेष निगरानी
  • इस बाढ़ में सबसे अधिक बागमती बेसिन की नदियों ने मचायी तबाही
  • एक दर्जन नए स्थलों की पहचान, यहां होगा नया गेज
  • जलस्तर से लेकर पानी के डिस्चार्ज की ली जाएगी रिपोर्ट

Dainik Bhaskar

Jul 29, 2019, 06:16 PM IST

पटना. बिहार में जुलाई में ही बागमती के प्रचंड रुप लेने के बाद अब उसकी विशेष निगरानी की तैयारी है। अगस्त जैसा पानी जुलाई में आने से हैरान जल संसाधन विभाग ने नदियों की नयी प्रकृति का अध्ययन शुरु कर दिया है। इसी क्रम में बागमती नदी बेसिन की सारी नदियों पर खास नजर रखी जा रही है। बागमती नदी बेसिन की बागमती, कमला, कोसी, गंडक, बूढ़ी गंडक, घाघरा की निगरानी के लिए विशेष कार्ययोजना बनायी गयी है। इन नदियों के एक दर्जन नए स्थानों पर गेज बनाया गया है और यहां भी नदियों के जलस्तर की निगरानी रोजाना की जाएगी। ये इसी बाढ़ अवधि में अस्तित्व में आए हैं। अब इस स्थानों पर नदियों की प्रकृति पर विशेष नजर रखी जाएगी।

 

जल संसाधन विभाग ने बागमती व कोसी नदी में 3-3, गंडक में 2 और बूढ़ी गंडक-कमला व घाघरा नदी में 1-1 नए स्थानों की पहचान की है। यहां नया गेज बनाया गया है, जहां नदियों के जलस्तर पर नजर रहेगी। इससे इसमें आने वाले अप्रत्याशित पानी का भी लेखा-जोखा रहेगा। नए गेज के बाद इन नदियों के गेजों की संख्या डेढ़ गुनी बढ़कर 22 से 33 हो जाएगी। नए गेज में रोड-ब्रिज व रेल ब्रिज के आस-पास कड़ी निगरानी की व्यवस्था की गयी है। ये स्थान अबतक उपेक्षित ही रहते थे।

 

बागमती नदी के तहत ढेंग रोड ब्रिज, बदलाघाट-1 व बदलाघाट-2, कमला बलान के कोथारम, कोसी के घोघेपुर, धमाराघाट व डुमरी, गंडक नदी के डुमरियाघाट, हाजीपुर गंडक ब्रिज, घाघरा के मांझी रोड ब्रिज, बूढ़ी गंडक के समस्तीपुर रोडब्रिज के पास नदियों के जलस्तर पर लगातार मानिटरिंग होगी।

 

अभी यहां है नदियों का महत्वपूर्ण गेज:

  • बागमती- ढेंग, सोनाखान, डुब्बाधार, कंसार/चंदौली, कटौंझा, बेनीबाद, हायाघाट
  • बूढ़ी गंडक- सिकंदरा, समस्तीपुर रेल ब्रिज, रोसड़ा रेल ब्रिज, खगड़िया
  • घाघरा- दरौली, गंगपुर सिसवन
  • कोसी- बसुआ, बलतारा
  • कमला- जयनगर, झंझारपुर रेल पुल

(इसके अलावा 119 स्थानों पर नदियों में गेज है, जहां नदियों का जलस्तर मापा जाता है)

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना