• Hindi News
  • Bihar
  • Patna
  • Ayodhya Ram Mandir; Nitish Kumar On Ayodhya Ram Mandir Janmabhoomi Babri Masjid Supreme Court Verdict Faisla

जन्मभूमि राम की / सबको करना चाहिए सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान, आगे इस पर न हो विवाद: नीतीश



पटना एयरपोर्ट के बाहर मीडिया से बात करते नीतीश कुमार। पटना एयरपोर्ट के बाहर मीडिया से बात करते नीतीश कुमार।
X
पटना एयरपोर्ट के बाहर मीडिया से बात करते नीतीश कुमार।पटना एयरपोर्ट के बाहर मीडिया से बात करते नीतीश कुमार।

  • सीएम बोले- यह फैसला देश में प्रेम और सद्भावना के वातावरण के लिए बहुत उपयोगी होगा
  • राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि कोर्ट के फैसले का सम्मान, देश का प्रत्येक मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारा, चर्च हमारा

Dainik Bhaskar

Nov 09, 2019, 07:03 PM IST

पटना. सुप्रीम कोर्ट की 5 जजों की संविधान पीठ ने शनिवार को अयोध्या केस पर फैसला सुनाया। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने 45 मिनट तक फैसला पढ़ा और कहा कि मंदिर निर्माण के लिए ट्रस्ट बनाया जाए और इसकी योजना 3 महीने में तैयार की जाए। कोर्ट ने 2.77 एकड़ की विवादित जमीन रामलला विराजमान को देने का आदेश दिया और कहा कि मुस्लिम पक्ष को मस्जिद निर्माण के लिए 5 एकड़ वैकल्पिक जमीन आवंटित की जाए।

 

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि हम सबको फैसले का सम्मान करना चाहिए। सुप्रीम कोर्ट के फैसले को स्वीकार करना चाहिए। यह देश में प्रेम और सद्भावना के वातावरण के लिए बहुत उपयोगी होगा। सुप्रीम कोर्ट का फैसला बहुत ही स्पष्ट है। उन्होंने सरकार को कुछ जिम्मेदारी भी दी है। नीतीश ने कहा कि इस मसले पर आगे विवाद नहीं होना चाहिए। व्यक्तिगत रूप से सभी लोगों से यह हमारा आग्रह है।

 

सुप्रीम कोर्ट का निर्णय भारत की न्याय व्यवस्था का मान बढ़ाने वाला: सुशील मोदी 
उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि अयोध्या मुद्दे पर लंबी सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट का निर्णय भारत की न्याय व्यवस्था का मान बढ़ाने वाला है। अयोध्या में रामजन्म भूमि मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट का निर्णय देश की परंपरा, आस्था और भावनाओं का सम्मान करने वाला है। इससे मंदिर भी बनेगा और मस्जिद भी बनेगी। इस ऐतिहासिक फैसले के साथ सामाजिक सौहार्द पर विपरीत असर डालने वाला एक विवाद हमेशा के लिए समाप्त हो गया है। आज भारतीय संस्कृति का सूर्य कटुता के ग्रहणकाल से मुक्त हो रहा है।

 

सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ के पांच माननीय न्यायाधीशों ने जिस धैर्य के साथ सबको अपनी बात रखने का मौका दिया और तथ्यों के आधार पर सर्वसम्मति से जो फैसला सुनाया, उसका सबको सम्मान करना चाहिए। इसमें किसी की हार नहीं और जीत सबकी है। अब हिंदुओं को मस्जिद बनाने में और मुसलमानों को राम मंदिर बनाने में सहयोग कर देश की एकता को मजबूत करना चाहिए। निर्णय के लिए सभी माननीय न्यायाधीशों का आभार, अभिनंदन।

 

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि हम सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का सम्मान करते हैं। देश का प्रत्येक मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारा, चर्च हमारा ही है। कुछ भी और कोई भी पराया नहीं है। सब अपने है। राजनीतिक दलों को अब अच्छे स्कूल, कॉलेज, विश्वविद्यालय और अस्पताल बनाने पर ध्यान देना चाहिए।

 

लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने कहा कि पहले चुनाव के समय राम मंदिर, धारा 370 और तीन तलाक जैसे विवादित मुद्दे उठाए जाते थे। लोगों को विकास की राह से भटकाया जाता था। अब चुनाव विकास के आधार पर होंगे। 

 

बिहार कांग्रेस के नेता प्रेमचंद्र मिश्रा ने कहा कि हमारी पार्टी का आरंभ से मानना रहा है कि या तो आपसी चर्चा से समाधान निकले या कोर्ट जो फैसला दे उसे हम स्वीकार करेंगे। न्यायालय ने ऐतिहासिक फैसला दिया है। सभी पक्षों की भावनाओं का ख्याल रखा गया है। इससे अच्छा फैसला नहीं हो सकता था। सभी को इसका सम्मान करना चाहिए और आपसी भाईचारा कायम रखना चाहिए।

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना