• Hindi News
  • Bihar
  • Patna
  • Patna - badhantjami on sinh ghats of bihata dangerous shiksha on tapu ghar of mokama people in khalar are not satisfied
--Advertisement--

बिहटा के सोन घाटों पर बदइंतजामी, मोकामा के तपस्वी घाट पर खतरनाक है ढाल, उलार में लोग संतुष्ट नहीं

बिहटा | सोन नद में जाने वाली छठ व्रतियों को नदी तट पर व्याप्त बदइंतजामी के कारण इस बार भारी परेशानी का सामना करना पड़...

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 04:25 AM IST
Patna - badhantjami on sinh ghats of bihata dangerous shiksha on tapu ghar of mokama people in khalar are not satisfied
बिहटा | सोन नद में जाने वाली छठ व्रतियों को नदी तट पर व्याप्त बदइंतजामी के कारण इस बार भारी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। अगर सोन में छठ व्रत करना है तो उन्हें भोजपुर जिले के कोईलवर जाना होगा। महुआर से लेकर मौदही तक बिहटा थाना क्षेत्र में पड़ने वाले सोन नद में चारों तरफ सिर्फ बालू ही बालू है। कही अर्घ देने लायक पानी तो दूर घुट्टी भर भी पानी नहीं है। परेव के समीप पेट्रोल पंप के पीछे की स्थिति तो और बुरी है। इधर, बिहटा के प्राचीन वायुसेना सूर्यमंदिर तालाब की स्थानीय युवाओं ने सफाई शुरू कर दी है।

सोन की दुर्दशा को देख मिले जीरो मार्क्स

मोकामा में दिख रहा नगर परिषद का नाकारापन

मोकामा | नगर परिषद के कई घाटों को अब तक दुरुस्त नहीं किया जा सका है। बांस की बैरिकेडिंग तो कर दी गई है लेकिन सफाई का काम भी पूरा नहीं हुआ है। तपस्वी स्थान घाट पर काफी भीड़ जुटती है लेकिन घाट एकदम तीखा स्लोप नुमा है और चौड़ाई भी काफी कम है। तैयारियां काफी धीमी है।

10 में दिए दो ही अंक

घाटों की व्यवस्था पर असंतोष है। नगर परिषद की लापरवाही के कारण ही ऐसी स्थिति हुई है। घाट को 10 में मात्र 2 अंक दिया जाना चाहिए। -अकल सिंह, मोलदियार टोला

मनेर के हल्दी छपरा घाट पर अब भी गंदगी

मनेर । छठ को लेकर दानापुर के एएसपी व एसडीओ ने घाट का भ्रमण कर कई घाटों पर व्रतियों की सुरक्षा के मद्देनजर निर्देश भी जारी किए थे, लेकिन उसका कोई असर अगले दिन देखने को नहीं मिला। हल्दी छपरा घाट की सफाई अबतक शुरू नहीं हो पाई है। बैरिकेडिंग का काम अबतक नहीं शुरू नहीं हुआ है। यहां छठ करने आने वाले व्रतियों को भगवान भास्कर का ही सहारा रहेगा।


रविवार को नहाय-खाय के साथ महापर्व छठ का चार दिवसीय अनुष्ठान शुरू हो जाएगा। लोग गंगा घाटों से जल लाकर पर्व की शुरुआत करते हैं। छठ को लेकर प्रशासन ने घाटों की कितनी सफाई कराई है और घाटों का क्या हाल, इसकी हमारी टीम ने पड़ताल की। बिहटा, मनेर, मोकामा, बाढ़, खुसरूपुर में कई घाटों पर बदहाली दिखी। फतुहा में तैयारियां आधी-अधूरी दिखी। बख्तियारपुर, बिक्रम, मसौढ़ी में लोग प्रशासन व पूजा समितियों की तैयारियों से संतुष्ट दिखे। ऐसे में बड़ा सवाल है कि जिन घाटों पर तैयारियां अधूरी या नगण्य है, उन घाटों के व्रती कहां जाएंगे। प्रस्तुत है रिपोर्ट...

उलार की तैयारियों से संतुष्ट नहीं हैं श्रद्धालु

पालीगंज | इलाके में छठ की तैयारियां जोरों पर हैं। उलार में जुटने वाली भीड़ को संभालने के लिए लगातार पुलिस प्रशासन की बैठक चल रही है। इस दौरान उलार में लगातार चल रही सफाई और तैयारी में लगने के बाद भी वहां के श्रद्धालु पूरी तरह संतुष्ट नहीं है। यहां हजारों की संख्या में श्रद्धालु जुटते हैं। इसकी ऐतिहासिक मान्यता है। माना जाता है कि यहां छठ कर जो भी मांगा जाता है वह पूरा होता है। इसके अलावा चर्म रोगों से छुटकारा मिलता है। प्रशासन हर बार बेहतर तैयारी का दावा करता है पर लोगों की भीड़ के आगे तैयारियां नाकाफी साबित होती हैं। इस बार भी कई दौर की बैठकें हो चुकी हैं, पर लोगों की भीड़ के अनुरूप तैयारी नाकाफी ही दिख रही है और लोग शासन की तैयारियों से संतुष्ट नहीं दिख रहे हैं।

7 नंबर से ज्यादा देने लायक नहीं

साफ सफाई तो कुछ हद तक सही है लेकिन शौचालय और पेयजल की समस्या जस की तस है। केवल तैयारी की बैठक में बात होती है। 10 में 7 नंबर दे सकते हैं। -रविरंजन

नहाय-खाय आज, खरना कल

बाढ़ में घाटों पर तैयारियां अबतक अधूरी

बाढ़ । उमनाथ घाट छोड़ किसी भी घाट पर बैरिकेडिंग नहीं की जा सकी है। सीढ़ीघाट में सफाई का काम तो शुरू कर दिया गया है लेकिन बैरिकेडिंग वहां भी नहीं हो पाई है। स्थानीय नागरिक दीपक कुमार का कहना है कि इस घाट पर वह तैयारियों को 10 में से सात नंबर देंगे। वही शहर के अलखनाथ गंगा घाट अबतक गंदगी पसरी हुई है। उमानाथ गंगा घाट पर नगर परिषद द्वारा सफाई तथा बैरिकेडिंग का काम शुरू है।

फतुहा के घाटों पर आधे-अधूरे कार्य, लाेग परेशान

फतुहा | नगर परिषद के सभी घाटों पर शनिवार तक आधे-अधूरे कार्य हुए हैं। हालांकि घाटों पर साफ-सफाई का काम तो पूरा हो गया लेकिन अभी तक बैरिकेडिंग नहीं की गई है। साथ ही अबतक लाइट की भी व्यवस्था नहीं की गई है। किसी घाट पर अस्थायी शौचालय की व्यवस्था नहीं हो पाई है।

अर्घ्य देने के लिए बेहतर


बख्तियारपुर में साफ हुए घाट, डाला जा रहा बालू

बख्तियारपुर | रानीसराय घाट, महादेव स्थान घाट, रबाईच ठाकुरबाड़ी घाट एवं सती स्थान घाट पर अर्घ के लिए तैयारियां की जा रही हैं। इन घाटों पर नगर परिषद की ओर से साफ सफाई की जा रही है वहीं लोगों की सुविधा के लिए बालू भी घाटों पर डाला जा रहा है ताकि कीचड़ से लोगों को परेशानी नहीं हो।

8 अंक के लायक हैं इंतजाम


खुसरूपुर में स्थानीय लोगों के भरोसे तैयारी

खुसरूपुर। बैकटपुर घाट और कुर्था घाट पर स्थानीय लोगोंं ने सफाई शुरू कर दी है। कुर्था घाट और बैकटपुर घाट पर जेसीबी के सहारे घाट को समतल किया जा रहा है और गंदगी को साफ किया जा रहा है। बैकटपुर घाट का प्रबंधन कर रहे लोगों ने बताया कि इस घाट पर पानी कमर तक तो ठीक है पर अचानक से बहुत गहरा है। खुसरूपुर घाट पर तो गंदगी का अंबार है और यहां पर सफाई का काम भी शुरू भी नहीं हुआ है।

मसौढ़ी के मणिचक घाट पर तैयारी पूरी

मसौढ़ी । अनुमंडल मुख्‍यालय के मणिचक श्रीविष्णु सूर्यमंदिर परिसर स्थित तालाब घाट पर छठ व्रतियों के अर्घ्यदान के लिए तैयारी जोरों पर है। इसे लेकर श्रीविष्णु सूर्यमंदिर कमेटी पूरी तत्परता से जुटी हुई है। तालाब घाट का रंग रोगन अंतिम चरण में है और तालाब में स्वच्छ पानी भरा जा रहा है। पूरे मंदिर परिसर की सफाई भी की जा रही है। तालाब घाट से लेकर आनेजाने वाले विभिन्न संपर्क मार्गो पर रौशनी की व्यवस्था भी की जा रही है। साथ ही सीसीटीवी कैमरे भी लगाए जा रहे हैं। हर वर्ष आने वाले लोगों ने इस घाट को सबसे बेहतर घाट की उपाधि दी है।

व्रतियों के लिए सबसे बेहतर इंतजाम


बिक्रम के असपुरा में आने लगे बाहर के श्रद्धालु

बिक्रम | महापर्व छठ के मौके पर प्रसिद्ध सूर्य मंदिर, असपुरा में पटना सोन कैनाल घाट पर व्रतियों के लिए प्रशासनिक व्यवस्था पूरी कर ली गई है। दर्जनों मजदूर घाट की सफाई में लगे हैं। बहरहाल, नहाय-खाय के एक दिन पूर्व से ही मंदिर प्रागंण में बनाए गए टेंटों में व्रतियों का आना शुरू हो गया है।

10 में 8 अंक लायक तैयारियां


Patna - badhantjami on sinh ghats of bihata dangerous shiksha on tapu ghar of mokama people in khalar are not satisfied
Patna - badhantjami on sinh ghats of bihata dangerous shiksha on tapu ghar of mokama people in khalar are not satisfied
Patna - badhantjami on sinh ghats of bihata dangerous shiksha on tapu ghar of mokama people in khalar are not satisfied
Patna - badhantjami on sinh ghats of bihata dangerous shiksha on tapu ghar of mokama people in khalar are not satisfied
Patna - badhantjami on sinh ghats of bihata dangerous shiksha on tapu ghar of mokama people in khalar are not satisfied
Patna - badhantjami on sinh ghats of bihata dangerous shiksha on tapu ghar of mokama people in khalar are not satisfied
Patna - badhantjami on sinh ghats of bihata dangerous shiksha on tapu ghar of mokama people in khalar are not satisfied
Patna - badhantjami on sinh ghats of bihata dangerous shiksha on tapu ghar of mokama people in khalar are not satisfied
X
Patna - badhantjami on sinh ghats of bihata dangerous shiksha on tapu ghar of mokama people in khalar are not satisfied
Patna - badhantjami on sinh ghats of bihata dangerous shiksha on tapu ghar of mokama people in khalar are not satisfied
Patna - badhantjami on sinh ghats of bihata dangerous shiksha on tapu ghar of mokama people in khalar are not satisfied
Patna - badhantjami on sinh ghats of bihata dangerous shiksha on tapu ghar of mokama people in khalar are not satisfied
Patna - badhantjami on sinh ghats of bihata dangerous shiksha on tapu ghar of mokama people in khalar are not satisfied
Patna - badhantjami on sinh ghats of bihata dangerous shiksha on tapu ghar of mokama people in khalar are not satisfied
Patna - badhantjami on sinh ghats of bihata dangerous shiksha on tapu ghar of mokama people in khalar are not satisfied
Patna - badhantjami on sinh ghats of bihata dangerous shiksha on tapu ghar of mokama people in khalar are not satisfied
Patna - badhantjami on sinh ghats of bihata dangerous shiksha on tapu ghar of mokama people in khalar are not satisfied
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..