बिहार / पीएम किसान सम्मान योजना का लाभ गैर रैयती किसानों को भी मिले



प्रेम कुमार: कृषि मंत्री प्रेम कुमार: कृषि मंत्री
X
प्रेम कुमार: कृषि मंत्रीप्रेम कुमार: कृषि मंत्री

  • राज्य में पीएम फसल बीमा योजना लागू नहीं रहने से किसानों को नहीं मिल रहा केसीसी
  • कृषि मंत्री ने केंद्रीय कृषि व किसान कल्याण मंत्री से विडियो कांफ्रेंसिंग में रखी बात
  • बिहार के 40 प्रतिशत गैर रैयती किसान पीएम किसान सम्मान योजना के दायरे में नहीं

Dainik Bhaskar

Jun 13, 2019, 07:44 PM IST

पटना. बिहार ने केंद्र सरकार से प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना में गैर रैयती (बटाईदार) किसानों को भी शामिल करने की मांग की है। गुरुवार को केंद्रीय कृषि व किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के साथ विडियो कांफ्रेंसिंग में कृषि मंत्री डॉ. प्रेम कुमार ने कहा कि बिहार में 40 प्रतिशत गैर रैयती किसान हैं, जो इस योजना से वंचित हैं। गैर रैयती किसानों को भी पीएम किसान सम्मान योजना का लाभ मिलना चाहिए। 

 

राज्य में पिछले साल से पीएम फसल बीमा योजना की जगह फसल सहायता योजना लागू की गई है, इसमें किसानों को बिना बीमा के फसल क्षति पर सहायता मिलती है। रिजर्व बैंक गाइडलाइन में पीएम फसल बीमा योजना से जुड़े किसानों को ही केसीसी का लाभ का प्रावधान है। इससे बिहार के किसानों को केसीसी का लाभ नहीं मिल रहा है। इसका समाधान हो। इस पर केंद्रीय मंत्री ने आश्वासन दिया कि सभी बैंकों को इस संबंध में गाइडलाइन जारी कराया जाएगा कि सभी किसानों को केसीसी का लाभ मिल सके।

 

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सचिव के माध्यम से पूरा मामला भेज दें, इसके आधार पर केंद्र सरकार बैंकों के अधिकारियों को गाइडलाइन जारी कराएगी। देश के 14.50 करोड़ भूमिधारक किसानों में अभी 6.92 करोड़ किसानों को केसीसी योजना का लाभ मिल रहा है। अगले 100 दिनों में और एक करोड़ किसानों को केसीसी से जोड़ने का लक्ष्य है। बिना किसी प्रकार की गारंटी के एक लाख की जगह 1.60 लाख रुपए कर दिया गया।

 

कृषि मंत्री ने बताया कि बिहार में सभी गैर रैयती किसानों को राज्य की सभी महत्वाकांक्षी योजना डीजल अनुदान, कृषि इनपुट सब्सिडी व धान खरीद का लाभ मिल रहा है। इसलिए इन किसानों पीएम सम्मान योजना का भी लाभ मिलना चाहिए। वीडियो कांफ्रेंसिंग के बाद कृषि मंत्री ने विभाग के पदाधिकारियों को पीएम किसान सम्मान योजना, किसान पेंशन योजना व किसान क्रेडिट कार्ड योजना में तेजी लाने व प्रचार प्रसार का निर्देश दिया।

COMMENT