• Hindi News
  • Bihar
  • Patna
  • Bihar will break its own record, to create a human chain at least 16200 km long in 38 districts

अभियान / दहेज और बाल विवाह प्रथा के खिलाफ बिहार, 16200 किमी लंबी मानव शृंखला बनाकर रिकॉर्ड भी तोड़ेगा

मानव शृंखला को लेकर शासन ने गाइड लाइन भी जारी की है। मानव शृंखला को लेकर शासन ने गाइड लाइन भी जारी की है।
X
मानव शृंखला को लेकर शासन ने गाइड लाइन भी जारी की है।मानव शृंखला को लेकर शासन ने गाइड लाइन भी जारी की है।

  • इससे पहले दहेज व बाल विवाह प्रथा के खिलाफ 21 जनवरी 2018 को 14 हजार किलोमीटर मानव शृंखला बनी थी
  • 2017 में शराबबंदी के समर्थन में पहली मानव शृंखला 12 हजार किलोमीटर की 21 जनवरी 2017 को बनायी गई थी

Dainik Bhaskar

Dec 04, 2019, 12:17 PM IST

पटना. जल-जीवन-हरियाली लाने और बाल विवाह, दहेज उन्मूलन, नशामुक्ति जैसी सामाजिक बुराइयों काे मिटाने के लिए बिहार बिगुल फूंकने जा रहा है। इस बार 38 जिलों में 16200 किलोमीटर लंबी मानव शृंखला बनाकर लोगों को जनजागरुक अभियान से जोड़ा जाएगा। इसके लिए 19 जनवरी 2020 को राज्य भर में एक साथ आयोजन होगा। 

पिछली बार 21 जनवरी 2018 को दहेज और बाल विवाह प्रथा के खिलाफ 14 हजार किलोमीटर लंबी मानव शृंखला बनी थी। इस बार दो हजार किलोमीटर अधिक बनाने का लक्ष्य लिया गया है। 21 जनवरी 2017 को शराबबंदी के समर्थन में पहली बार मानव शृंखला 12 हजार किलोमीटर की बनाई गई थी।

मानव शृंखला के लिए 10 दिसंबर तक रोड मैप मांगा गया

शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव आरके महाजन ने मंगलवार को सभी डीएम और एसपी से 10 दिसंबर तक मानव शृंखला के लिए मुख्य और उप मार्ग तक का मैप समेत रिपोर्ट मांगी है। मुजफ्फरपुर में सबसे अधिक 1320 किमी और शिवहर में सबसे कम 96 किमी मानव शृंखला बनानी है। 

आपस में हाथ से हाथ जोड़ कर खड़े रहेंगे लोग
16200 किलोमीटर की शृंखला मुख्य मार्ग और सब रूट मिलाकर है। जिलों के मुख्य मार्ग दूसरे जिलों से जुड़ेंगे और अंतत: पटना गांधी मैदान से जुड़ेंगे। जिले के अंदर सब रूट में मानव शृंखला होगी। इसको लेकर एक गाइड लाइन जारी की गई है।

  • 19 जनवरी 2020 को 10.30 बजे तक प्रतिभागी मानव शृंखला में शामिल होने लिए पहुंच जाएं।
  • 11.30 बजे से 12 बजे तक मानव शृंखला के निर्धारित मार्ग पर लोग आपस में हाथ से हाथ जोड़ कर खड़े रहेंगे।
  • मानव शृंखला में कक्षा 1 से 5 तक के बच्चों को शामिल नहीं किया जाएगा।
  • कक्षा 6 से अधिक कक्षाओं के बच्चे इसमें शामिल होंगे।
  • जिला स्तर के सभी विभागों के सभी सरकारी एवं संविदाकर्मी, सरकारी एवं गैर सरकारी स्कूल, उच्च विद्यालय, उच्चतर विद्यालय, कॉलेज के शिक्षक, कर्मी, जीविका दीदी, आशा दीदी, सेविका, सहायिका, छात्र-छात्राएं इसमें शामिल होंगी।

जिलावार लक्ष्य (न्यूनतम लंबाई किलोमीटर में)

पटना 696
भोजपुर 420
बक्सर 336
रोहतास 504
कैमूर 300
नालंदा 504
मुंगेर 240
लखीसराय 276
जमुई 408
शेखपुरा 144
खगड़िया 240
बेगूसराय 324
नवादा 348
गया 516
जहानाबाद 192
अरवल 156
औरंगाबाद 468
सीवान 348
सारण 576
गोपालगंज 444
बांका 408
भागलपुर 360
कटिहार 432
किशनगंज 324
अररिया 432
पूर्णिया 468
वैशाली 420
मुजफ्फरपुर 1320
सीतामढ़ी 564
शिवहर 96
पूर्वी चंपारण 648
प. चंपारण 648
समस्तीपुर 732
दरभंगा 444
मधुबनी 492
सहरसा 240
सुपौल 384
मधेपुरा 348
कुल 16200
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना