--Advertisement--

लेकर

लेकर

Dainik Bhaskar

Feb 12, 2018, 05:54 PM IST
chief minister of bihar nitish kumar say green area in bihar increased

पटना. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि कृषि रोड मैप में पौधा रोपण और वन क्षेत्र बढ़ाने के लिए उठाए गए कदम से हरित आवरण 9.76 प्रतिशत से बढ़ कर अभी लगभग 15 प्रतिशत हो गया है। तीसरे कृषि रोड मैप के लक्ष्य 17 प्रतिशत तक करने का लक्ष्य 2022 तक इससे अधिक होने की उम्मीद है। पौधारोपण से पर्यावरण को सुरक्षित रखने के साथ ही आय भी बढ़ा सकते हैं।

मंगलवार को ज्ञान भवन में बिहार कृषि वानिकी नीति बनाने के लिए आयोजित समागम में उन्होंने किसानों से अधिक से अधिक पौधे लगाने का आह्वान किया। कहा- बांस, पॉपुलर, गम्महार, शीशम और सागवान आदि के पौधे लगा कर पर्यावरण् को सुरक्षित रखने के साथ ही इसकी अच्छी कीमत मिल सकती है। बिहार में बांस की संभावना काफी अधिक है।

उन्होंने कहा कि सड़क के दोनों किनारे, नहर के किनारे, सरकारी भवनों के परिसर के साथ ही सरकारी आवासों में भी पौधे लगाने की नीति बनी। 24 करोड़ पौधा लगाने का लक्ष्य रखा गया था, जो अब तक 18 करोड़ 60 लाख हो चुका है। 2012 से 2017 तक 6 करोड़ पौधा कृषि वानिकी के तक लक्ष्य तय किया गया, जो 75511 किसानों द्वारा अपनी भूमिक पर 6.013 करोड़ पौधे लगाए गए। मार्च तक रिपोर्ट आ जाएगी कि बिहार में वास्तव में कितने पेड़ और हरित आवरण की स्थिति क्या है।

फोटो- शेखर

X
chief minister of bihar nitish kumar say green area in bihar increased
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..