--Advertisement--

निरीक्षण

निरीक्षण

Dainik Bhaskar

Feb 09, 2018, 09:58 AM IST
दिनेश को काफी संघर्ष करने के ब दिनेश को काफी संघर्ष करने के ब

पटना. सीरियल के लिए कॉमेडी स्क्रिप्ट लिखने और खुद कॉमेडी करने वाले दिनेश सिंह यादव 6वीं क्लास में पढ़ने के दौरान फिल्म देखने के बाद मिमिक्री करते थे। काफी संघर्ष के बाद इन्हें पहचान मिली। आज इनके लिखें स्क्रिप्ट से कपिल शर्मा, कृष्णा और भारती दर्शकों को हंसाते हुए नजर आते हैं। दिनेश बिग्रेडियर के नाम से हैं फेमस...

एक सीरियल की शूटिंग को लेकर पटना आए दिनेश ने dainikbhaskar.com से कहा कि मैं यूपी के वाराणसी का रहने वाला हूं। मुझे इंडस्ट्री के लोग दिनेश बिग्रेडियर के नाम से जानते हैं। जब मैं छोटा था तो राजकुमार की मिमिक्री करता था। बड़े होने पर स्कूल में मिमिक्री करने लगा। जो भी लोग देखते थे वे काम की तारीफ करते, जिससे मनोबल बढ़ता गया।

कॉमेडी करने का लिया फैसला
दिनेश ने बताया कि जब मेरी कॉमेडी से लोगों को हंसी आती थी तो मुझे भी करने में मजा आने लगा। जिसके बाद मैंने प्रयास किया और मेरा चुनाव लाफ्टर चैलेंज में हुआ। इसके बाद सीरियल 'हंसी का अखाड़ा' में काम करने का मौका मिला।

फेसबुक से मिली हेल्प
दिनेश ने बताया कि काम नहीं मिलने के दौरान मैं घर पर ही रहने लगा। इस दौरान फेसबुक के माध्यम से जॉनी लिवर के भाई जिमी मोजेज से बात हुई। उन्होंने कहा कि मुंबई आना तो मुझसे मिलना। जब मैं मुंबई गया तो उन्होंने कहा कि अभी तो कोई कॉमेडी शो नहीं है। कुछ लिखते हो तो मैंने कहा कि हां थोड़ा बहुत कॉमेडी लिखता हूं। मैंने नेता और बाबा पर स्क्रिप्ट लिखा तो उन्हें पसंद आई, जिसके बाद मुझे काम करने का मौका मिलता गया।

डूबना पड़ता है किरदार में

दिनेश ने बताया कि किसी भी सीरियल के लिए कॉमेडी लिखने से पहले उसके किरदार को अपने आप में ढालना पड़ता है। उसके बोलने के अंदाज को ध्यान में रखना पड़ता है। एक-एक शब्द पर ध्यान देना जरूरी है। कॉमेडी लिखना बहुत कठिन काम है।

दिनेश ने इन सीरियल के लिए लिखे हैं स्क्रिप्ट
दिनेश ने बताया कि मैंने 'कॉमेडी विथ कपिल शर्मा, कॉमेडी नाइट, छोटे मियां धाकड़ मियां, आदत से मजबूर, कॉमेडी सर्कस, कॉमेडी का हाई स्कूल फॉर रामकपुर, सबसे बड़ा कलाकार, कॉमेडी दंगल, आदत से मजबूर और इंटरटेनमेंट की रात समेत कई सीरियलों के लिए स्क्रिप्ट लिखा है।

कई बार तो डायलॉग बोलने वाले पर निर्भर करता है कि आपके लिखे हुए शब्दों को कैसे पेश करते हैं। कई बार होता है कि बोलने वाले अपने तरफ से कुछ शब्दों को जोड़कर उसे और मजेदार बना देते हैं।

X
दिनेश को काफी संघर्ष करने के बदिनेश को काफी संघर्ष करने के ब
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..