--Advertisement--

मजबूत मजबूत

मजबूत मजबूत

Danik Bhaskar | Jan 10, 2018, 03:45 PM IST

पटना। लालू प्रसाद के जेल जाने के बाद से राजद में संकट गहराता जा रहा है। लालू के सबसे दो भरोसेमंद नेता रघुवंश प्रसाद सिंह और शिवानंद तिवारी आपस में ही भिड़ गए हैं। शिवानंद ने कड़े तेवर दिखाए तो रघुवंश ने भी उसी अंदाज में जवाब दिया। राजद के दो नेताओं की भिड़ंत में जदयू ने चुटकी लेने में देर नहीं की।

शिवानंद ने कहा कि मुझे नसीहत देने से पहले रघुवंश खुद अपने बयान पर एक नजर डाल लें। मैं तो अपने बयान पर आज भी कायम हूं। अगर रघुवंश को कोई समस्या है तो उन्हें मुझसे बात करनी चाहिए।

रघुवंश ने आरोप लगाते हुए कहा कि सिर्फ इस फैसले के मद्देनजर न्यायपालिका में आरक्षण का मुद्दा बनाकर शिवानंद गलत तर्क दे रहे हैं। न्यायपालिका में जात-पात की बात सही नहीं है, उसपर अंगुली नहीं उठानी चाहिए।

राजद नेताओं की भिड़ंत पर टिप्पणी करते हुए जदयू प्रवक्ता संजय सिंह ने कविता लिखी कि नेता जी को हो गयी जेल, राजद में शुरू हो गया खेल, बाबाओं के बीच नहीं है तालमेल रघुवंश बाबू के तीखे बोल, शिवानंद बाबा को पार्टी रही झेल। विधायिका और कार्यपालिका में दखलंदाजी के लिए आप पहले से ही बदनाम थे, लेकिन न्यायपालिका को प्रभावित करने की आपकी ये कोशिश किसी दुस्साहस से कम नहीं। जनता आपको कभी माफ नहीं करेगी।