--Advertisement--

रहा था

रहा था

Dainik Bhaskar

Dec 01, 2017, 06:19 PM IST
पुलिस का दावा है कि आरोपियों क पुलिस का दावा है कि आरोपियों क

फरीदाबाद. फरीदाबाद में बिहार के प्रॉपर्टी डीलर की हत्या का मामला सामने आया है। घटना शुक्रवार सुबह की है। दरअसल डेढ़ करोड़ रुपए के लेन-देन को लेकर प्रॉपर्टी डीलर को दिल्ली बुलाया गया। इसके बाद उनसे मारपीट की गई और दो गोलियां मारकर सूरजकुंड रोड किनारे फेंक दिया गया। कुछ समय बाद उसने दम तोड़ दिया। मरने से पहले मृतक ने घटना की सूचना परिजनों को दे दी थी। परिजनों ने इसकी सूचना सूरजकुंड थाने की पुलिस को फोन पर दी। इसके बाद पुलिस ने मौके पर जाकर शव को बरामद कर लिया। हवाई जहाज की टिकट भी भेजी थी आरोपियों ने...

- बिहार के पटना निवासी रंजीत सिंह ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उनके जीजा प्रवीन (37 साल) प्रॉपर्टी डीलर थे। पटना निवासी वरुण सिंह से जीजा ने किसी को एक प्लॉट दिलाया था। इस प्लॉट के बदले वरुण सिंह को डेढ़ करोड़ रुपए भुगतान किए गए थे, मगर वरुण प्लॉट की रजिस्ट्री नहीं करा रहा था।
- प्रवीण उससे लगातार रुपए वापस करने या रजिस्ट्री कराने के लिए दबाव डाल रहे थे। 29 नवंबर की शाम वरुण ने प्रवीण को पेमेंट करने के बहाने दिल्ली बुलाया। यहां दिल्ली एयरपोर्ट पर चार-पांच युवकों ने उन्हें बोलेरो कार में बैठा लिया। उन्हें फरीदाबाद की तरफ ले आए।
- कार में उनके साथ मारपीट की गई। उनके पैर तोड़ दिए गए। उन्हें दो गोलियां मारी गईं। इसके बाद उन्हें अधमरी हालत में सूरजकुंड-पाली रोड पर फेंक कर भाग गए। प्रवीन ने 30 नवंबर की सुबह पटना में पत्नी संगीता को फोन कर सारी घटना बताई। परिजनों ने फरीदाबाद पुलिस से संपर्क किया। इसके बाद 11 बजे प्रवीन ने फोन उठाना बंद कर दिया। देर शाम पुलिस ने उनका शव सूरजकुंड रोड से बरामद किया।

परिजनों का आरोप, पुलिस से नहीं मिली प्रॉपर मदद
- अगर सूरजकुंड थाने की पुलिस इस मामले को गंभीरता से लेती तो प्रवीन की जान बच सकती थी। प्रवीन के साले रंजीत के अनुसार 30 नंवबर की सुबह प्रवीन को अधमरी हालत में सूरजकुंड-पाली रोड पर फेंका गया था। पांच घंटे तक वह जिंदा थे।
- मोबाइल चालू होने के बाद भी पुलिस प्रवीन को तलाश नहीं कर सकी। 30 नवंबर की सुबह 6 बजे प्रवीन ने फोन कर पत्नी को बताया था कि पुलिस कंट्रोल रूम के 100 नंबर पर फोन कर घटना बता दी है। लेकिन पुलिसकर्मी उनसे लोकेशन पूछते रहे।
- पटना का होने की वजह से प्रवीन लोकेशन नहीं बता पाए। मृतक के साले रंजीत के अनुसार उन्होंने 30 नवंबर की सुबह 9.30 बजे प्रवीन की लोकेशन निकाली, जो पाली रोड आई थी। उन्होंने तुरंत पाली चौकी से संपर्क कर घटना के बारे में बताया। वहां से उन्हें दूसरे पुलिसकर्मी का नंबर दे दिया गया।
- रंजीत के अनुसार उन्होंने कई पुलिसकर्मियों को फोन कर सहायता मांगी, मगर कोई मदद नहीं मिली। दोपहर बाद वे फरीदाबाद पहुंचे और अनखीर पुलिस चौकी को घटना बताई। इसके बाद प्रवीन का शव पाली रोड से बरामद हुआ।

क्या कहते हैं पुलिस अधिकारी?
- उधर इस बारे में सूरजकुंड थाना प्रभारी पंकज सिंह का कहना है कि थाने के अलावा क्राइम ब्रांच की टीमें आरोपियों की तलाश में जुटी हुई हैं। आरोपी के बारे में अहम सुराग हाथ लगे हैं। आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

X
पुलिस का दावा है कि आरोपियों कपुलिस का दावा है कि आरोपियों क
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..