Hindi News »Bihar »Patna» Human Series Against Child Marriage And Dowry In Bihar

बाल विवाह और दहेज प्रथा के खिलाफ बिहार में बनी 13660 किमी लंबी मानव श्रृंखला

गांधी मैदान से नीतीश ने गुब्बारा छोड़कर इसकी शुरूआत की है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 21, 2018, 02:03 PM IST

  • बाल विवाह और दहेज प्रथा के खिलाफ बिहार में बनी 13660 किमी लंबी मानव श्रृंखला
    +6और स्लाइड देखें
    पटना के बेली रोड पर मानव श्रृंखला में पोस्टर लेकर खड़े स्टूडेंट।

    पटना. रविवार को बाल विवाह और दहेज प्रथा को जड़ से मिटाने के संकल्प के साथ बिहारवासी मानव श्रृंखला बनाकर सड़क पर उतरे हुए हैं। इसकी शुरूआत गांधी मैदान से सीएम नीतीश कुमार ने की हैं। गांधी मैदान से नीतीश ने गुब्बारा छोड़कर इसकी शुरूआत की। यह मानव श्रृंखला 13660 किमी लंबी है। इस कार्यक्रम में कई मंत्री, सांसद, और नेता शामिल हो रहे हैं। खास बातें...

    - गांधी मैदान में कई स्कूलों के स्टूडेंट शामिल हो रहे है। मानव श्रृंखला में कई किन्नर भी शामिल हो रहे है।
    - गया में बौद्ध श्रद्धालु भी मानव श्रृंखला में शामिल हो रहे हैं। गांधी मैदान में ड्रोन से लोगों पर नजर रखी जा रही हैं।
    - जिस रूट में मानव श्रृंखला बन रही है वहां पर एंबुलेंस पानी की भी व्यवस्था की गई है।
    - गांधी मैदान में मानव श्रृंखला से बिहार का नक्शा भी बनाया गया है।

    - इस कार्यक्रम के दौरान यातायात को रोक दिया गया है।

    आगे भी चलेगा अभियान
    - मानव श्रृंखला का कार्यक्रम के दौरान सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि बाल विवाह और दहेज प्रथा सामाजिक कुरीतियां है। इसको बदलना होगा।
    - इस अभियान में लोगों का सहयोग मिल रहा है। इससे लोगों में काफी उत्साह भी दिख रहा है। 18 साल से कम उम्र की लड़की और 21 साल से छोटे लड़के की शादी नहीं होनी चाहिए।
    - दहेज प्रथा के खिलाफ इसके आगे भी जागरूकता को लेकर अभियान चलाया जाएगा।
    - इस अभियान में शामिल होने के लिए मैं बिहारवासियों को बधाई देता हूं। इस अभियान का भी आकलन किया जाएगा।
    - पिछले साल भी शराबबंदी को लेकर मानव शृंखला बनाया गया था। उसमें लोग उत्साह के साथ शामिल हुए थे।
    - शराबबंदी अभियान के बाद आकलन किया गया तो बता चला की लोग जो पैसा शराब पर खर्चा करते थे। वे अब अपने परिवार और खाने पर खर्चा कर रहे हैं। शराबबंदी से बिहार में शांति भी कायम हुई है।

    पिछले वर्ष 21 जनवरी को शराबबंदी के खिलाफ खड़े हुए थे 4 करोड़ लोग
    21 जनवरी 2017 को शराबबंदी के पक्ष में मानव शृंखला बनी थी जिसमें चार करोड़ लोगों ने शिरकत की थी। शराबबंदी के पक्ष में बनी मानव शृंखला को लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में सबसे बड़ी मानव शृंखला के रूप में स्थान मिला है। पिछले वर्ष इसरो के सैटेलाइट से फोटोग्राफी हुई थी।

  • बाल विवाह और दहेज प्रथा के खिलाफ बिहार में बनी 13660 किमी लंबी मानव श्रृंखला
    +6और स्लाइड देखें
    सीएम नीतीश कुमार ने गुब्बारा छोड़कर कार्यक्रम की शुरूआत की।
  • बाल विवाह और दहेज प्रथा के खिलाफ बिहार में बनी 13660 किमी लंबी मानव श्रृंखला
    +6और स्लाइड देखें
    मानव श्रृंखला में पांच करोड़ लोग शामिल होंगे।
  • बाल विवाह और दहेज प्रथा के खिलाफ बिहार में बनी 13660 किमी लंबी मानव श्रृंखला
    +6और स्लाइड देखें
    गांधी मैदान में मानव श्रृंखला में शामिल महिलाएं।
  • बाल विवाह और दहेज प्रथा के खिलाफ बिहार में बनी 13660 किमी लंबी मानव श्रृंखला
    +6और स्लाइड देखें
    महिला बैंड भी गांधी मैदान में पहुंची हुई है।
  • बाल विवाह और दहेज प्रथा के खिलाफ बिहार में बनी 13660 किमी लंबी मानव श्रृंखला
    +6और स्लाइड देखें
    स्कूल के म्यूजिक बैंड भी गांधी मैदान में पहुंचा हुआ है।
  • बाल विवाह और दहेज प्रथा के खिलाफ बिहार में बनी 13660 किमी लंबी मानव श्रृंखला
    +6और स्लाइड देखें
    गांधी मैदान में ड्रोन से निगरानी हो रही है।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Patna News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Human Series Against Child Marriage And Dowry In Bihar
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×