Hindi News »Bihar »Patna» ICAS Jitendra Jha S Brother Said - Murder Of My Brother After Kidnapping

नवादा थाना

नवादा थाना

Vivek Kumar | Last Modified - Dec 16, 2017, 12:44 PM IST

पटना. ICAS जीतेंद्र की मौत के मामले में उनके भाई ने शनिवार को दिल्ली पुलिस की जांच पर कई सवाल खड़े किए हैं। भाई का दावा है कि अपहरण के बाद जीतेंद्र की हत्या की गई है। जीतेंद्र के सुसाइड पर सवाल उठाते हुए भाई ने कहा कि उनकी लाश रेलवे ट्रैक पर बिना कपड़ों के पांच हिस्सों में मिली थी। जबकि उसके कपड़े सही सलामत थे। ऐसा कैसे हो सकता है? DainikBhaskar.com से बातचीत में जीतेंद्र के भाई ने पुलिस की दलील पर कई और प्रश्न उठाये। अपहरण के बाद की गई हत्या...

- ICAS ((इंडियन सिविल एकाउंट सर्विस)) ऑफिसर जीतेंद्र झा का शव शुक्रवार को दिल्ली कैंट के पास स्थित रेलवे ट्रैक से मिला था। जीतेंद्र 11 दिसंबर को अपने घर से वॉक के लिए निकले थे। इसके बाद से इनका कोई पता नहीं चल पा रहा था। जीतेंद्र झा 1998 बैच की ICAS ऑफिसर थे। वह दिल्ली स्थित मंत्रालय में वे एचआरडी विभाग में पोस्टेड थे। रेल पुलिस ने 14 दिसंबर को फोन कर जीतेंद्र के परिजनों को बताया कि उनके बड़े भाई ने सुसाइड कर लिया है। दिल्ली के पालम रेलवे ट्रैक से उनकी लाश मिली है।

टुकड़ों में मिला शव, कपड़े सही सलामत
-जीतेंद्र झा के भाई ने कहा कि शव 5 टुकड़ों में मिला था, लेकिन उनके कपड़े सही सलामत थे। शव के टुकड़े हो जाएं और कपड़े सही सलामत रहें यह कैसे संभव है। पुलिस को लाश 11 दिसंबर को मिली थी और इसकी सूचना हमें 14 दिसंबर को दी। रेल पुलिस ने आखिर क्यों पहले हमें इसकी सूचना नहीं दी?
- जीतेंद्र के भाई ने कहा कि पुलिस को जीतेंद्र की बॉडी पूरी तरह से नग्न मिली थी। जीतेंद्र का कपड़े 14 दिसंबर को द्वारका पुलिस को मिले। इससे साफ है कि अपहरण करने के बाद जीतेंद्र की हत्या की गई है।

परिजनों को पुलिस ने नहीं दिया सुसाइड नोट
- जीतेंद्र के परिजनों ने पुलिस पर आरोप लगाया कि हमें सुसाइड नोट नहीं दिखाया गया, जबकि एमएचआरडी के अधिकारियों को दिखाया गया। जीतेंद्र झा के परिजनों ने एमएचआरडी के अधिकारियों पर भी हत्या में शामिल होने का आरोप लगाया है। उनका कहना था कि उनकी हत्या में कुछ ठेकेदार भी शामिल हो सकते हैं। इसलिए इस पूरे मामले को फिर से जांच होनी चाहिए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Patna News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: binaa kpdeon ke Panch tukdeon mein mili thi is ICAS ki laash, bhaaee ne khi ye baat
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×