Home | Bihar | Patna | ips officer op singh life story

बाइट:

बाइट:

Vivek Kumar| Last Modified - Dec 31, 2017, 11:19 AM IST

1 of
ips officer op singh life story
आईपीएस अधिकारी ओपी सिंह सोमवार को यूपी के नए डीजीपी का पदभार ग्रहण करेंगे।

पटना. बिहार के गया जिले के रहने वाले आईपीएस ऑफिसर ओपी सिंह 3 जनवरी 2018 को यूपी के नए डीजीपी की कमान संभालेंगे। उन्हें इस मुकाम तक पहुंचाने में मां का काफी योगदान रहा। जो मां कभी घर के बाहर कदम नहीं रखती थी। उसे बेटे की पढ़ाई के लिए 10 साल तक खेती करानी पड़ी। पिता की मौत के वक्त खाते में थे 603 रुपए...

 

- ओपी सिंह के बड़े भाई डॉक्टर प्रकाश सिंह ने dainikbhaskar.com को बताया कि ओपी मुझसे तीन साल छोटे हैं। 

- ओपी की पढ़ाई पहले गया में हुई। इसके बाद रांची संत जेवियर से इंटर किया। इस दौरान मैं भी एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहा था। 
- अचानक एक दिन पिता शिवधारी सिंह की मौत हो गई। तब पिताजी के बैंक अकाउंट में मात्र 603 रुपए थे।
- इस दौरान घर परिवार चलाने में काफी परेशानी हुई। किसी को कुछ समझ नहीं आ रहा था कि परिवार कैसे चलेगा।
- मेरी मां प्यारी देवी कभी घर से बाहर पैर नहीं रखती थी। परेशानी देख उसने खेती कराने का फैसला किया।
- वह चाकन में खेतीबारी का अपना काम देखने लगीं। उसी पैसे से भाई और मेरी पढ़ाई का खर्चा चलने लगा।
- डॉ. प्रकाश ने कहा कि यह सिलसिला 1973-83 तक चलता रहा, जिसके बाद एमबीबीएस की पढ़ाई करने के बाद मैं गया आ गया।

- इन दस सालों के दौरान ओपी दिल्ली विवि में एमए गोल्ड मेडलिस्ट बन गए और वहां पढ़ाने लगे, जिसके बाद परेशानी कम होने लगी। 

- ओपी 10 दिन पहले ही गया में एक शादी समारोह में भाग लेने के लिए आए थे। जब भी मौका मिलता है वह गांव आते हैं। 


कौन हैं ओपी सिंह
-ओपी सिंह बिहार के गया जिले के मीरा बिगहा गांव के रहने वाले हैं। वह वर्तमान में सीआईएसएफ डीजी के पद पर तैनात हैं। वह 1983 बैंच के यूपी कैडर के आईपीएस ऑफिसर हैं। वह केंद्र और यूपी में कई महत्वपूर्ण जिम्मेदारियों को निभा चुके हैं। 

-ओपी सिंह को 1993 में बहादुरी के लिए इंडियन पुलिस मेडल, 1999 में सराहनीय सेवाओं के लिए राष्ट्रपति पुलिस मेडल और 2005 में विशिष्ट सेवाओं के लिए राष्ट्रपति पुलिस पदक मिल चुका है।

ips officer op singh life story
ओपी सिंह बिहार के गया जिले के रहने वाले हैं।
ips officer op singh life story
कुछ दिन पहले ही अपने गांव में आयोजित एक कार्यक्रम में भाग लेने के लिए ओपी सिंह आए थे।
ips officer op singh life story
गांव के एक कार्यक्रम में ओपी सिंह।
ips officer op singh life story
ओपी सिंह कई महत्वपूर्ण जिम्मेवारियों को सफलता पूर्वक निभा चुके हैं।
ips officer op singh life story
दिल्ली के एक ओल्ड एज होम में वृद्धों से मिलते ओपी सिंह।
ips officer op singh life story
जब भी मौका मिलता है ओपी सिंह अपने पैतृक गांव आते हैं।
ips officer op singh life story
ओपी सिंह बड़े भाई की हर बात मानते है।
ips officer op singh life story
बेहतर कार्य के लिए ओपी सिंह को कई बार सम्मानित किया जा चुका है।
ips officer op singh life story
ओपी सिंह के बड़े भाई प्रकाश सिंह गया में डॉक्टर हैं।
prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now