--Advertisement--

सुनाएगी।

सुनाएगी।

Dainik Bhaskar

Dec 23, 2017, 03:10 PM IST
लालू प्रसाद(फाइल फोटो) लालू प्रसाद(फाइल फोटो)

पटना. चारा घोटाले का मास्टर माइंड मुकुल किशोर कपूर अभी भी पुलिस की पकड़ से दूर हैं। 20 साल से ज्यादा समय गुजर जाने के बाद भी पुलिस और जांच एजेंसी मुकुल को गिरफ्तार नहीं कर पायी। मुकुल लालू प्रसाद के सबसे करीबी थे। जांच एजेंसी की माने तो मुकुल की गिरफ्तारी होने पर कई और नाम उजागर हो सकते थे। एक नाम जो सब जानता था...

- चारा घोटाले के उजागर हुए 20 वर्ष से ज्यादा का समय गुजर गया है।
-देश के सबसे बड़ी जांच एजेंसी इसकी जांच कर रही है।
-CBIने अपनी जांच में 900 करोड़ के घोटाले की बात की।
-बिहार के दो पूर्व सीएम समेत कई सांसद और विधायक इस घोटाले के आरोपी हैं।
-लेकिन, अभी तक इस घोटाले के मास्टर माइंड को जांच एजेंसी ने गिरफ्तार कर पायी है।
- कहा जाता है कि एक जांच अधिकारी और आरोपी नेता से ज्यादा वो जानता है।

कौन था था मास्टर माइंड
-चारा घोटाला के मास्टर माइंड मुकुल किशोर कपूर लालू प्रसाद के आप्त सचिव हुआ करते थे।
-मुकुल किशोर कपूर को तब लालू का छाया कहा जाता था।
-जानने वाले कहते हैं कि लालू राज में मुकुल किशोर कपूर की सरकार में किसी भी मंत्री से ज्यादा हैसियत थी।
-लोग कपूर को बिहार का सेकेंड सीएम भी कहते थे।
-लेकिन, चारा घोटाले के सामने आने के बाद से मुकुल राय के संबंध में किसी को कुछ पता नहीं चला।
-चारा घोटाले के उजागर होने के बाद जांच एजेंसी ने भी मुकुल किशोर कपूर की बड़ी तलाश की।
-लेकिन, 20 साल से ज्यादा का समय गुजर जाने के बाद भी उसके संबंध किसी प्रकार की कोई सूचना जांच एजेंसी को नहीं मिली है।
-एक सीनियर पुलिस अधिकारी ने कहा, "मुकुल चारा घोटाला मामले में किसी भी आदमी से ज्यादा जानकारी रखने वाला व्यक्ति है, क्योंकि उसे लालू की आंख-कान माना जाता था।
- लेकिन जैसे ही चारा घोटाला उजागर हुआ वह लापता हो गया। मुकुल ही कथित रूप से चारा घोटाले की राशि का हिसाब-किताब रखता था।"

X
लालू प्रसाद(फाइल फोटो)लालू प्रसाद(फाइल फोटो)
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..