--Advertisement--

अंक अंक

अंक अंक

Dainik Bhaskar

Mar 06, 2018, 05:29 PM IST
गन्ना किसानों की परेशानी के मु गन्ना किसानों की परेशानी के मु

पटना. चारा घोटाले में बिहार के मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह के आरोपी बनाए जाने के बाद विपक्ष ने इस मुद्दे पर बुधवार को विधानसभा में हंगामा किया। विपक्ष के सदस्य मुख्य सचिव को बर्खास्त करने की मांग कर रहे थे। सदन में मुख्य सचिव को बर्खास्त करो के नारे भी लगाए गए। विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी ने हंगामे को शांत कराने की कोशिश की, लेकिन कोई उनकी बात सुनने को तैयार न था।

हंगामा शांत न होता देख जदयू नेता और संसदीय कार्य मंत्री श्रवण कुमार ने कहा कि जो लोग मुख्य सचिव पर आरोप लगने पर हंगामा कर रहे हैं वह यह भी बताएं कि मामला क्या है। मुख्य सचिव पर अभी सिर्फ आरोप लगा है। इस मामले में इनके नेता तो सजा पाकर जेल में बंद हैं। बिहार सरकार के सभी मंत्री विधानसभा में पूछे गए प्रश्नों का उत्तर लेकर आए हैं, लेकिन विपक्ष को सिर्फ हंगामा करने से मतलब है।

स्पीकर ने विपक्ष से कहा कि प्रश्नकाल के वक्त नारेबाजी का कोई फायदा नहीं है। जब इसके लिए समय मिलेगा तब अपनी बात कहें। यह वक्त प्रश्न काल का है। इस समय किए गए किसी मांग को प्रोसिडिंग में नहीं जोड़ा जाएगा। आपलोग क्या चाहते हैं। प्रश्नकाल न चले। तो यह बता दीजिए।

यह भी पढ़ें- चारा घोटाला: मुख्य सचिव अंजनी कुमार, वीएस दूबे, डीपी ओझा समेत 7 बने नए आरोपी

X
गन्ना किसानों की परेशानी के मुगन्ना किसानों की परेशानी के मु
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..