Hindi News »Bihar »Patna» Police Baton Charge On Anm

लंगर

लंगर

Vivek Kumar | Last Modified - Dec 18, 2017, 12:46 PM IST

पटना. स्थायी नौकरी और वेतन विसंगति दूर करने की मांग कर रही एएनएम (कॉन्ट्रैक्ट बेस पर काम करने वाली सहायक नर्स) को सोमवार को पुलिस ने सचिवालय के समक्ष दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। इसमें आठ एएनएम घायल, जबकि चार एएनएम रेणु कुमारी, कुमारी निवेदिता, रूबी कुमारी पिंकी चौधरी बेहोश हो गईं। सड़क पर गिरने के बाद भी पुलिस ने उनपर लाठियां बरसाईं। इसके बाद बेहोश प्रदर्शनकारियों को सड़क पर रखकर एएनएम देर शाम तक नारेबाजी करती रहीं। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी शाम ढलने पर बात करने पहुंचे, लेकिन प्रदर्शनकारी स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय को बुलाने की मांग पर अड़ी रहीं।

अंदर फंसे अधिकारी
बुधवार को भी एएनएम ने सचिवालय के दोनों गेट को जाम कर घंटों प्रदर्शन किया था। सचिवालय के अंदर भी घुस गई थीं। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने इन्हें सोमवार को वार्ता करने के लिए बुलाया था। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने संघ से जुड़े दो लोगों को वार्ता के लिए बुलाया। फिर प्रदर्शनकारी एएनएम को पता चला कि उनके संघ के दो नेताओं रामबली सिंह और चंद्रभूषण चौधरी को सचिवालय पुलिस ने पकड़ लिया है। यह खबर मिलते ही हजारों की संख्या में एएनएम ने सचिवालय के दोनों गेट को जाम कर दिया।

शाम करीब चार बचे सचिवालय के अधिकारी इनके प्रदर्शन की वजह से अंदर फंस गए। इसके बाद पुलिस ने गेट से जाम हटवाने के लिए गेट नंबर दो पर लाठीचार्ज कर दिया। इनपर पानी की बौछार करने के लिए वाटर कैनन भी बुला लिया गया, लेकिन प्रदर्शनकारी एएनएम किसी भी हालत में पीछे हटने को तैयार नहीं थीं। बेहोश हुई एएनएम को भी इलाज करवाने के लिए अस्पताल ले जाने से मना कर दिया। बेहोश हुई एएनएम को सड़क पर रखकर देर शाम तक प्रदर्शन करती रहीं।

पीएमसीएच में दो एएनएम भर्ती
दो नर्सों को हाथ-पैर टूटने की सूचना मिलने पर पीएमसीएच भेजा गया। संघ की अध्यक्ष अन्नू कुमारी ने कहा कि कई एएनएम घायल हुई हैं। दो को पीएमसीएच भेजा गया है। कई एएनएम का पायल और गले की चेन भी भगदड़ में गिर गया। एएनएम 2 नवंबर से ही गर्दनीबाग में धरना दे रही हैं। छठ से पहले भी इन्होंने प्रदर्शन किया था। इनलोगों की मांग है कि सरकार इनकी सेवा को स्थायी वेतन विसंगति को दूर करे। 6 नवंबर को भी गर्दनीबाग में इनपर लाठीचार्ज हुआ था।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×