Hindi News »Bihar »Patna» Police Force Destroy Opium Crop In Gaya

बाराचट्टी बाराचट्टी

बाराचट्टी बाराचट्टी

Vivek Kumar | Last Modified - Jan 10, 2018, 03:34 PM IST

गया.बिहार के गया जिले के बाराचट्टी प्रखंड के सुदूरवर्ती इलाके में जहां पुलिस बल अपनी गाड़ी से नहीं पहुंच सकते वहां नक्सली अफीम की खेती करते हैं। ऐसा ही एक गांव है ऊपरी गोहिया। पहाड़ की तलहट्टी में बसे इस गांव में नक्सली अफीम की खेती करते हैं।

इस इलाके में ड्रोन की मदद से अफीम की फसल का पता लगाया जाता है फिर पुलिस बल पहुंचती है और फसल नष्ट करने का सिलसिला शुरू होता है। मंगलवार को नक्सलियों द्वारा वन विभाग के 40 एकड़ जमीन पर लगाई गई अफीम की फसल को नष्ट किया गया। छोटे-छोटे अफीम के पौधे पर दवा छिड़कर उन्हें खत्म किया गया।

पैसे के लिए करते हैं अफीम की खेती
नक्सली अपने संगठन को आर्थिक रूप से मजबूत करने के लिए अफीम की खेती ग्रामीणों से कराते हैं। जिस जगह अफीम की खेती की जा जाती है उसके आस -पास कोई गांव नहीं होता। पुलिस को पहाड़ पर चढ़ते देख अफीम की खेती की देखरेख करने वाला फरार हो जाता है। नक्सली अफीम की खेती की देखभाल के लिए बंकर तक बनाते हैं।

बाराचट्टी के थाना प्रभारी चेतनानंद झा ने बताया कि हर साल इस इलाके में अफीम की खेती की जाती है और हर साल सैकड़ों एकड़ जमीन में लगी अफीम की फसल को नष्ट किया जाता है। 3 माह में करोड़ों रुपए की अफीम तैयार हो जाती है। अफीम को यहां से पंजाब, हरियाणा सहित कई राज्यों में भेजा जाता है। अफीम बेचने से मिले पैसे से नक्सलियों की आर्थिक स्थिति मजबूत होती है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×