--Advertisement--

में हो

में हो

Danik Bhaskar | Jan 16, 2018, 12:34 PM IST

पटना. रिटायर पुलिस इंस्पेक्टर और दारोगा खान निरीक्षक बनेंगे। राज्य सरकार ने इस दिशा में पहल की है। अवैध खनन रोकने के लिए खान एवं भूतत्व विभाग ने ऐसे रिटायर पुलिस पदाधिकारियों की मदद लेने का निर्णय किया है। विभाग ने ऐसे योग्य अधिकारियों को आमंत्रित किया है। उनका चयन चयन समिति द्वारा की जाएगी। कोई भी रिटायर पुलिस इंस्पेक्टर या दारोगा जिनकी अधिकतम उम्र 65 वर्ष तक है, इस पद के लिए आवेदन कर सकते हैं। उनकी नियुक्ति दो वर्षों के लिए होगी, जिसे बाद में निर्धारित प्रावधानों के अनुसार एक वर्ष के लिए बढ़ायी जा सकेगी।

राज्य सरकार ने अवैध खनन के खिलाफ व्यापक अभियान चलाने और ऐसे कारोबार पर प्रभावी रोक लगाने के लिए व्यापक कार्ययोजना बनायी है। इसी के तहत रिटायर पुलिस पदाधिकारियों की सेवा लेने का निर्णय लिया गया है। इस समय बड़ी संख्या में खान निरीक्षक के पद रिक्त पड़े हैं। नियमित बहाली नहीं होने के कारण विभाग को निकट भविष्य में खान निरीक्षक मिलने की उम्मीद भी नहीं है। ऐसे में विभाग ने रिटायर पुलिस पदाधिकारियों का सहयोग लेने का फैसला किया। नियमित नियुक्ति होने पर इनकी सेवा खत्म हो जाएगी।

विभाग ने यह भी स्पष्ट कर दिया है कि खान निरीक्षकों के लिए वैसे ही रिटायर पुलिस पदाधिकारियों का आवेदन मान्य होगा जिनके खिलाफ किसी प्रकार की विभागीय कार्रवाई नहीं चल रही हो। निगरानी में मामला होने पर भी संबंधित व्यक्ति अयोग्य माने जाएंगे। चयन में राज्य सरकार के आरक्षण नियमों का पूरी तरह पालन होगा। चयनित लोगों को तमाम पदीय शक्तियां प्राप्त होंगी। इस संबंध में विस्तृत जानकारी विभाग के वेबसाइट पर देख सकते हैं।